25 सितंबर: एक क्लिक में पढ़ें दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Tuesday, 25 Sep 2018 04:25:41 PM
25 september top 10 news in hindi

पर्रिकर को सीएम बनाए रखना BJP की 'क्रूर और अमानवीय राजनीति': शिवसेना

Manohar Parrikar cruel and inhuman politics to keep BJP chief minister: Shiv Sena

मुंबई। शिवसेना ने मंगलवार को अपनी सहयोगी बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि बीमार चल रहे मनोहर पर्रिकर को गोवा का मुख्यमंत्री बनाए रखना भाजपा की 'क्रूर और अमानवीय राजनीति' है। शिवसेना ने आरोप लगाया कि बीजेपी राज्य में सत्ता गंवाने के बारे में सोचकर डरी हुई है। शिवसेना ने दावा किया कि पर्रिकर की अनुपस्थिति में तटीय राज्य गोवा में  'अराजकता’ फैली हुई है। 

बीजेपी इस समस्या से जूझ रही है कि पर्रिकर की जगह किसे लाया जाए क्योंकि पार्टी के पास कोई भी उपयुक्त चेहरा नहीं है। गोवा के 62 वर्षीय मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर दिल्ली के एम्स में अग्न्याशय की बीमारी का इलाज करा रहे हैं। शिवसेना ने अपने मुखपत्र 'सामना’ के संपादकीय में दावा किया, पर्रिकर गोवा में नहीं हैं। वह दिल्ली के अस्पताल में कैंसर का इलाज करा रहे हैं। मुख्यमंत्री की अनुपस्थिति में  राज्य प्रशासन की स्थिति डांवाडोल हो गई है। 

संपादकीय में कहा गया है कि पर्रिकर को मुख्यमंत्री के पद पर बरकरार रखना न केवल गोवा के साथ अन्याय है बल्कि पर्रिकर के साथ भी अन्याय है। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी शिवसेना ने दावा किया कि भाजपा पर्रिकर के नाम पर अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव तक ऐसे ही समय खींचना चाहती है। 

'सामना' में कहा गया है, पर्रिकर के गिरते स्वास्थ्य के लिए तनाव सही नहीं है, लेकिन भाजपा के आलाकमान को यह बात कौन समझाए? वे पर्रिकर के स्वास्थ्य से ज्यादा सत्ता खोने से डरे हुए हैं। उनका इरादा गोवा को भाजपा के जीत के मानचित्र में बरकरार रखने का है।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को कहा था कि पर्रिकर अपने पद पर बने रहेंगे। वहीं विपक्षी पार्टी कांग्रेस यह दावा कर रही है कि भाजपा नीत गोवा की गठबंधन सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है। कांग्रेस ने विधानसभा में विश्वास मत की मांग की।

सुषमा स्वराज बोलीं, नेल्सन मंडेला के मूल्यों की अभी ज्यादा जरूरत 

Sushma Swaraj quote, Nelson Mandela's values need much more

संयुक्त राष्ट्र। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यहां कहा कि दक्षिण अफ्रीका के दिवंगत राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला की ओर से अपनाए गए त्याग, करुणा एवं समावेश के मूल्य आज टकरावों, आतंक और नफरत भरी विचारधारा वाली दुनिया में पहले से ज्यादा प्रासंगिक हैं।

मदीबा के नाम से मशहूर मंडेला के साथ भारत के मजबूत रिश्ते का जिक्र करते हुए स्वराज ने कहा कि भारतीय उन्हें अपना मानते हैं। उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि हम उन्हें 'भारत रत्न‘’ कहते हैं। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73वें सत्र में बहस की शुरुआत से एक दिन पहले सोमवार को आयोजित नेल्सन मंडेला शांति सम्मेलन में स्वराज ने कहा कि नेल्सन मंडेला का जीवन सभी के लिए प्रेरणा है।

भेदभाव और प्रतिकूल स्थिति के बाद भी उन्होंने निडरता और साहस दिखाया। स्वराज ने कहा कि मंडेला की ओर से अपनाए गए त्याग, करुणा और सामाजिक समावेश के मूल्यों की अब मौजूदा उथल-पुथल भरी दुनिया में पहले से कहीं ज्यादा जरूरत है। मंडेला के जन्मशती समारोह में आयोजित हो रहे नेल्सन मंडेला शांति सम्मेलन में वैश्विक शांति पर जोर है। 

स्वराज ने कहा कि आज दुनिया संघर्षों, आतंक और नफरत भरी विचारधारा से भरी है जो सीमाओं से परे हैं और हमारी जिदगी पर असर डाल रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक वैश्विक परिवार के तौर पर हमारे सामूहिक अस्तित्व को मंडेला जैसे महान नेता की बुद्धिमता की जरूरत है और यह हमारा नैतिक दायरा होना चाहिए।

मंडेला को 1990 में भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। वह उन दो गैर-भारतीयों में शामिल हैं जिन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया है। मंडेला के अलावा खान अब्दुल गफ्फार खान को 1987 में 'भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

उन्होंने कहा कि भारत, अफ्रीका एवं उसके लोगों के साथ अपने विशेष संबंध और लंबे समय से कायम साझेदारी पर गर्व करता है। मंडेला और गांधी के दर्शन में हमारा करीबी रिश्ता झलकता है। सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने एक न्यायपूर्ण, शांतिपूर्ण एवं समृद्ध संसार बनाने की प्रतिज्ञा लेकर मंडेला के प्रति सम्मान प्रकट किया ताकि उन मूल्यों को बहाल किया जा सके।

जिनके लिए पूर्व दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति हमेशा खड़े रहे। संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों ने महासभा के 73वें सत्र के पहले प्रस्ताव को पारित कर अपने संबंधों में आपसी सम्मान, सहनशीलता, समझदारी और मेल-मिलाप’’ को लेकर प्रतिबद्धता जाहिर की। सदस्य देशों ने सतत विकास के लिए 2030 के एजेंडा की अहमियत भी दोहराई।

कप्तान कोहली नहीं चाहते टेस्ट मैचों में इस तरह का बदलाव

Virat kohli said current form of test cricket should not be tampered with

नई दिल्ली। भारत के करिश्माई कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि टेस्ट क्रिकेट के मौजूदा स्वरूप से छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए और वह नहीं चाहते थे कि इसे पांच के बजाय चार दिन का कर दिया जाए। आईसीसी क्रिकेट के इस पारंपरिक प्रारूप को बढ़ावा देने के लिए इसमें कुछ बदलाव करना चाहती है। हाल के समय में टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले कोहली इस प्रारूप में पूरे जुनूने के साथ खेलते हैं और उसी तरह से इसके बारे में बात भी करते हैं। कोहली ने विजडन से कहा है कि जब आप टेस्ट क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते हो तो आपको जो संतुष्टि मिलती है उसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है क्योंकि आप जानते हो कि यह कितना चुनौतीपूर्ण है।

उन्होंने कहा है कि यह खेल का सबसे खूबसूरत प्रारूप है। मैं नहीं चाहता कि इसे चार दिन का कर दिया जाए। कोहली से पूछा गया कि क्या उन्हें वह प्रस्तावित चार दिवसीय टेस्ट मैचों को पीछे हटने वाले कदम के रूप में मानते हैं, उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर। इसके साथ छेड़छाड़ नहीं की जानी चाहिए। विश्व भर में टी20 लीग की बढ़ती संख्या से पांच दिवसीय प्रारूप पर खतरा मंडरा रहा है। यहां तक कि वनडे पर भी अस्तित्व का खतरा मंडरा रहा है। कोहली ने कहा कि कुछ देशों में ऐसी स्थिति है। यह खेल को देखने वाले लोगों की जागरुकता पर निर्भर करता है। अगर आप दक्षिण अफ्रीका या ऑस्ट्रेलिया या इंग्लैंड की बात करो तो वहां टेस्ट मैचों में बड़ी संख्या में दर्शक पहुंचते हैं क्योंकि वहां के लोग खेल को समझते हैं।

उन्होंने कहा है कि मेरा मानना है कि अगर आप वास्तव में खेल को समझते हो, अगर आप वास्तव में खेल को चाहते हो तो आप टेस्ट क्रिकेट को समझते हो और आप जानते हो कि यह कितना रोमांचक है। जब आप टेस्ट क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते हो तो आपको जो संतुष्टि मिलती है उसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है क्योंकि आप जानते हो कि यह कितना चुनौतीपूर्ण है। आईसीसी 2019 से नौ टीमों के दो साल की टेस्ट विश्व चैंपियनशिप की शुरुआत करेगी। इसके अलावा 13 टीमों की वनडे लीग भी शुरू होगी।

कोहली आगामी टेस्ट चैंपियनशिप के पक्ष में हैं। उन्होंने कहा है कि इससे टेस्ट क्रिकेट को काफी बढ़ावा मिलेगा। इससे प्रत्येक श्रृंखला अधिक प्रतिस्पर्धी बन जाएगी। चैंपियनशिप के दौरान उतार चढ़ाव आएंगे जिसका मैं वास्तव में इंतजार कर रहा हूं। जिन टीमों को टेस्ट क्रिकेट खेलना पसंद है वे इसको लेकर रोमांचित होंगी। इस स्टार बल्लेबाज ने कहा कि अपने पूर्ववर्ती महेंद्र सिंह धोनी एकमात्र कप्तान हैं जिनसे उन्होंने नेतृत्वकौशल सीखा। उन्होंने कहा है कि मैंने अधिकतर सीख एमएस धोनी से ली। मैं कई बार स्लिप में उनके पास खड़ा रहा और मुझे करीब से उन्हें समझने का मौका मिला।

Bigg Boss 12: नियमों का उल्लघंन करने पर कैप्टन को चुकानी पड़ी ये कीमत, नॉमिनेट हुए ये सदस्य

Captain has to pay the price of the violation of the rules Bigg Boss 12 house, nominated these members

एंटरटेनमेंट डेस्क। बिग बॉस सीजन 12 के कल प्रसारित हुआ एपिसोड बेहद दिलचस्प रहा। एपिसोड की शुरुआत में ही घर का माहौल गरम नजर आ रहा था। घर के कैप्टन कृति और रोशमी अपनी जिम्मेदारी निभाने में असफल साबित हुए। अपनी नाकामयाबी की वजह से बिग बॉस ने उनसे सुरक्षित रहने का भी अधिकार छीन लेते हैं। क्योंकि कैप्टन खुद घर के नियमों का उल्लंघन करते नजर आए।

घर में सभी प्रतिभागियों को बिग बॉस की डांट का समना भी करना पड़ा। दरअसल प्रतिभागियों को ये डांट उन्हें घर के नियमों का उल्लघंन करने के लिए लगाई गई। बिग बॉस घरवालों को कुछ फुटेज दिखाते है जिनमें घरवाले नियमों के प्रति मनमानि और उल्लंघन करते हुए दिखाए दे रहे थे।

वहीं एपिसोड में एक ओर दिलचस्प बात तब हुई जब नॉमिनेशन की प्रक्रिया शुरु हुई। बिग बॉस सभी घरवालों को नॉमिनेशन के लिए बुलाते हैं। नॉमिनेशन की प्रक्रिया को मजेदार बनाने के लिए यहां भी स एक नया ट्विस्ट देखने को मिला। जोड़ियां सिंगल्स को और सिंगल्स जोड़ियों को नॉमिनेट करते हैं और नॉमिनेट करने का कारण बताते हैं।

बिग बॉस सीजन 12 के दूसरे हफ्ते के नॉमिनेशन के लिए घर में एक नरक बनाया गया। घर का कोई भी सदस्य जिसे भी नॉमिनेट करेगा उसका पुतला उठाकर जलती कड़ाही में डालेगा। बताते चलें कि शो के पहले हफ्ते में घर से कोई बेघर नहीं हुआ हैं। लेकिन इस बार नॉमिनेट हुए प्रतिभागियों का घर से बाहर जाना तय हैं। 

नॉमिनेशन की प्रक्रिया खत्म होने पर बिग बॉस नॉमिनेटेड सदस्यों की घोषणा करते हैं। आपको बता दें कि इस हफ्ते जो सदस्य घर से बेघर होने के लिए नॉमिनेट किए गए है उनके नाम है दीपिका और कृति-रोशमी की जोड़ी हैं। बताते चलें कि करणवीर और रोमिल-निर्मल की जोड़ी को पहले ही नॉमिनेट कर चुके हैं।

347 अंक की अच्छी बढ़त लेकर बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes 347 points higher

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर घरेलू शेयर बाजार अच्छी बढ़त के साथ बंद हुआ । कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स बढ़त बनाते हुए 347.04 अंक यानि 0.96 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 36,652.06 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त का असर देखने को मिला और ये 100.05 अंक यानि 0.91 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 11,067.45 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि कल सुबह शेयर बाजार में कारोबार की शुरुआत गिरावट के साथ हुई और ये कारोबार की समाप्ति पर भी गिरावट के साथ बंद हुआ। काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 186.53 अंक यानि 0.51 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,655.07 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 536.58 अंक यानि 1.46 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,305.02 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 69.75 अंक यानि 0.63 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,073.35 के स्तर पर खुला। सेंसेक्स की तरह निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर गिरावट हावी रही और ये 175.70 अंक यानि 1.58 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,967.40 के स्तर पर बंद हुआ।

फिल्म 3 इडियट्स से प्रेरित 'रैंचो वॉल' गिराएगा लेह का स्कूल, पर्यटकों के प्रवेश पर लगेगी रोक

Leh's school will raze 3-Idiots inspired Rancho Wall, stop entry of tourists

लेह। बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान की सुपरहिट फिल्म '3 इडियट्स' से मशहूर हुई रैंचो वॉल पिछले काफी समय से सुर्खियों में छाई हुई हैं। वॉल को लेकर एक ताजा जानकारी सामने आई हैं। जी हां आपको बता दें कि फिल्म में नजर आने के बाद सुर्खियों में आए द्रुक पद्मा कारपो स्कूल ने फैसला किया है कि वह 'रैंचो वॉल' को गिराएगा और पर्यटकों के प्रवेश पर भी रोक लगाएगा। 

फिल्म में स्कूल की इस दीवार का एक दृश्य था जिसमें चतुर नाम का किरदार उस पर पेशाब करता है और स्कूली बच्चों के एक स्वदेसी अविष्कार की वजह से उसे उस दौरान बिजली का झटका लगता है। स्कूल ने बाद में इस दीवार को 'रैंचो वॉल' के तौर पर पेंट कर दिया था जो पर्यटकों के लिये तस्वीर खिंचवाने का एक स्थल बन गया था।

विद्यालय के प्रधानाचार्य स्टेनजिन कुनजेंग ने बताया, ''इस फिल्म से विद्यालय को काफी प्रचार मिला और लद्दाख आने वाले पर्यटकों के लिये यह एक अनिवार्य दर्शनीय स्थल बन गया। हालांकि हमें लगा कि इससे इस क्षेत्र में स्कूल बनाने का मकसद कामयाब नहीं हो रहा। विद्यालय में आने वाले पर्यटकों से न सिर्फ छात्रों का ध्यान बंटता था बल्कि परिसर में गंदगी भी हो रही थी।"

कुनजेंग ने कहा कि विद्यालय का उद्देश्य लद्दाख के बच्चों को आधुनिक शिक्षा मुहैया कराना था-ऐसी शिक्षा जो उनकी संस्कृति से उन्हें जोड़े और उन्हें खुशहाल और सकारात्मक जिंदगी जीने के लिये तैयार कर सके।

समय पर उड़ान भरने में स्पाइसजेट अव्वल, देश के 4 बड़े हवाई अड्डों से भरी उड़ान

SpiceJet tops fly on time

नई दिल्ली। देश के 4 बड़े हवाई अड्डों पर समय पर उड़ान भरने के मामले में अगस्त में किफायती विमान सेवा कंपनी स्पाइसजेट अव्वल रही। वहीं, यात्रियों की सबसे अधिक शिकायतें एयर ओडिशा और एयर डेक्कन के खिलाफ आई। नागर विमानन महानिदेशालय द्बारा जारी आँकड़ों के मुताबिक अगस्त में दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद और बेंगलुरु हवाई अड्डों पर स्पाइसजेट की 87.4 फीसदी उड़ानें समय पर रवाना हुईं।

इंडिगो और गो एयर की 87.2 फीसदी और विस्तारा की 83.6 फीसदी उड़ानें समय पर रवाना हुईं। इस मामले में सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया का प्रदर्शन सबसे खराब रहा। उसकी 75.3 फीसदी उड़ानें ही समय पर जा सकीं। तय समय से 15 मिनट के भीतर रवाना होने पर उड़ान को समय पर माना जाता है।

यात्रियों की शिकायत के मामले में एयर ओडिशा का प्रदर्शन सबसे खराब रहा। प्रति एक लाख यात्री उसके खिलाफ 362 शिकायतें आईं। इस मामले में राष्ट्रीय औसत 5.9 शिकायत प्रति लाख यात्री का रहा। प्रति एक लाख यात्री एयर डेक्कन के खिलाफ 218 शिकायतें, एयर इंडिया के खिलाफ 16, जेट एयरवेज और जेट लाइट के खिलाफ 12, ट्रूजेट के खिलाफ 6, गोएयर के खिलाफ 4, इंडिगो के खिलाफ 3, स्पाइसजेट के खिलाफ 2 और एयर एशिया और विस्तारा के खिलाफ एक-एक शिकायत मिली।

अगस्त में यात्रियों की सबसे ज्यादा शिकायत बैगेज को लेकर रही। कुल शिकायतों में 28 फीसदी बैगेज को लेकर थी। इसके अलावा 27.8 फीसदी शिकायतें उड़ान की समस्या के बारे में, 24.7 फीसदी ग्राहक सेवा को लेकर, 6.6 फीसदी  कर्मचारियों के व्यवहार को लेकर और 2.8 प्रतिशत रिफंड को लेकर रही। 

देश के कुछ हिस्सों में बारिश और बाढ की वजह से अगस्त में बड़ी संख्या में उड़ानें रद्द करनी पड़ीं। जूम एयर की सभी उड़ानें रद्द रहीं। एयर ओडिशा की 66 प्रतिशत और एयर डेक्कन की पाँच प्रतिशत उड़ानें रद्द रहीं। ट्रूजेट की भी 4.44 प्रतिशत उड़ानें रद्द रहीं। विमान रद्द होने का राष्ट्रीय औसत 2.27 प्रतिशत रहा। बड़ी विमान सेवा कंपनियों में एयर इंडिया की सबसे ज्यादा उड़ानें रद्द हुईं।

उसकी 3.17 फीसदी उड़ानें रद्द करनी पड़ीं। इंडिगो की 2.52 फीसदी, जेट लाइट की 2.48 फीसदी, जेट एयरवेज की 0.69 फीसदी, एयर एशिया की 0.56 फीसदी, स्पाइसजेट की 0.47 फीसदी, विस्तारा की 0.42 फीसदी और गोएयर की 0.30 प्रतिशत उड़ानें रद्द हुईं।

सबसे ज्यादा 50.7 प्रतिशत उड़ानें मौसम संबंधी कारणों से रद्द करनी पड़ी। एक उड़ान रद्द होने की वजह से उसी विमान की अगली उड़ान रद्द करनी पड़ती है। इस कारण 39.1 फीसदी उड़ानें रद्द हुईं। तकनीकी कारणों से 6.9 प्रतिशत और परिचालन संबंधी कारणों से 1.8 फीसदी उड़ानें रद्द हुईं। वाणिज्यिक कारणों से विमान सेवा कंपनियों ने 1.6 फीसदी उड़ानें रद्द कीं।

अफगानिस्तान के विकेट कीपर शहजाद ने मैच फिक्सिंग को लेकर किया बड़ा खुलासा

Contact was done for fixing From Shahzad

दुबई। अफगानिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद ने मैच फिक्सिंग को लेकर चौकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि शारजाह में पांच से 23 अक्टूबर तक खेली जाने वाली पहली अफगान प्रीमियर ट्वेंटी-20 लीग में खराब प्रदर्शन करने के लिए संपर्क किया गया था। शहजाद से दुबई में चल रहे एशिया कप के दौरान संपर्क साधा गया था।

स्पॉट फिक्सिंग के लिए संपर्क साधे जाने वालों में शहजाद नया नाम है। शहजाद ने तत्काल इस मामले की जानकारी टीम प्रबंधन को दे दी है जिसने इसकी जानकारी आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी इकाई को दी है। शहजाद को अफगान लीग के लिए पकितिया फ्रैंचाइजी ने चुना है। इस लीग में क्रिस गेल, शाहिद आफरीदी और ब्रेंडन मैक्कुलम जैसे कई पूर्व और मौजूदा अंतर्राष्ट्रीय स्टार खेलने उतरेंगे।

आईसीसी के एक अधिकारी ने कहा है कि एशिया कप के दौरान संपर्क साधा गया था लेकिन यह अफगान प्रीमियर लीग के लिए था। इस मामले को अब हमारी भ्रष्टाचार रोधी इकाई देख रही है। भ्रष्टाचार रोधी इकाई के प्रमुख एलेक्स मार्शल ने कहा है कि पिछले 12 महीनों के अंदर स्पॉट फिक्सिंग के लिए पांच अंतर्राष्ट्रीय कप्तानों से संपर्क साधा गया था जिनमें से चार पूर्ण सदस्य देश हैं।

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद एकमात्र ऐसे व्यक्ति है जिन्होंने सार्वजनिक रूप से कहा है कि उनसे पिछले साल श्रीलंका सीरीज के दौरान संपर्क साधा गया था। मार्शल ने कहा है कि पिछले 12 महीनों में 32 जांच हुई हैं जिनमें आठ खिलाड़ी संदिग्ध के रूप में शामिल हैं जबकि पांच प्रशासक या गैर खिलाड़ी हैं। इस दौरान पांच अंतर्राष्ट्रीय कप्तानों से भी संपर्क साधा गया था।

सीरिया में एस-300 मिसाइल प्रणाली की तैनाती रूस की 'भारी भूल': अमेरिका

Russia Great Mistake Deploying S-300 Missile System in Syria: US

न्यूयार्क। अमेरिका ने कहा है कि कि सीरिया में एस-300 मिसाइल रक्षा प्रणाली की तैनाती का रूस का हालिया फैसला उसकी भारी भूल होगी। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने सोमवार को यहां मीडिया से कहा कि इस फैसले से इस क्षेत्र में पहले से व्याप्त तनाव में काफी बढ़ोतरी होगी लिहाजा उसे अपने इस फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि जब तक ईरानी सैनिक ईरान की सीमाओं पर तैनात हैं, तब तक अमेरिकी सैनिक सीरिया से नहीं हटेंगे। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद से बात करके उन्हें सीरिया की हवाई रक्षा प्रणाली को मजबूत करने से संंबंधित अपने फैसले के बारे में जानकारी दी।

उसमें सीरिया को सतह से हवा में  मार करने वाली एस-300 मिसाइल प्रणाली मुहैया कराना शामिल है। 
इससे पहले रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने कहा कि एक सप्ताह पहले सीरिया द्बारा उसके हवाई क्षेत्र में एक रूसी सैन्य विमान को मार गिराए जाने के बाद ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए सीरिया को वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली की आपूर्ति करने का फैसला किया गया है। उन्होंने बताया कि सैन्य विमान दुर्घटनाग्रस्त होने से रूसी सेना के 15 सदस्य मारे गये थे। 

शोइगु ने कहा कि एक आधुनिक एस-300 वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली दो सप्ताह के भीतर सीरिया भेज दी जाएगी। इस प्रणाली से सीरियाई सेना की युद्धक क्षमता में इजाफा होगा। रूस सीरियाई विमान निरोधक इकाइयों को रूसी ट्रैकिग और दिशासूचक प्रणालियों से लैस करेगा ताकि वे उसके देश के विमानों को पहचान सके। 

इलाहाबाद में प्राइवेट एजेंसी के कर्मचारी से 22 लाख लूटे

22 lakh robbery by private agency staff in Allahabad

इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद के धूमनगंज क्षेत्र में एजेंसी का पैसा जमा करने बैंक जा रहे एजेंसी के कर्मचारी से मोटरसाइकिल सवार बदमाशो ने 22 लाख रूपये लूट लिये।

पुलिस अधीक्षक (नगर) बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि राइटर सेफगार्ड प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में कार्यरत प्रशांत मंगलवार को मोटरसाइकिल से भारतीय स्टेट बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की शाखाओं में 22 लाख रूपया जमा करने जा रहा था। इसी दौरान मोटरसाइकिल सवार तीन बदमाशों ने नेहरू पार्क के पास प्रशांत की कनपटी पर तमंचा सटा कर रूपयों से भरा बैग छीन लिया और फरार हो गये। बैंको में जमा करने के लिये यह पैसा कंपनी द्वारा इक्क्ठा किया गया था।

उन्होंने बताया कि कंपनी के कर्मचारी गाड़ी में सुरक्षा गार्डों की निगरानी में बैंक और एटीम में पैसा पहुंचाने जाती है लेकिप किन परिस्थितियों में अकेले कर्मचारी को मोटरसाइकिल पर पैसा लेकर जमा करने क्यों भेजा। इसकी जांच की जायेगी। श्रीवास्तव ने बताया कि इस मामले में प्रशांत की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.