03 मई : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Friday, 03 May 2019 04:32:35 PM
3 May top 10 news

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

मैं राहुल के जन्म की गवाह रही, उनके वायनाड से चुनाव लड़ने पर उत्साहित हूं: सेवानिवृत्त नर्स

I was witness to Rahul's birth, I am excited to contest elections from Wayanad: retired nurse

कोच्चि (केरल)। राहुल गांधी के जन्म की गवाह रहीं सेवानिवृत्त नर्स और वायनाड से मतदाता राजम्मा वावथिल जोर देकर कहती हैं कि किसी को भी कांग्रेस प्रमुख की नागरिकता पर सवाल नहीं उठाना चाहिए क्योंकि वह उन लोगों में से एक थीं जो दिल्ली के होली फैमिली अस्पताल में 19 जून 1970 को राहुल के जन्म के दौरान ड्यूटी पर थे। 72 वर्षीय राजम्मा उस वक्त बतौर नर्स प्रशिक्षण ले रही थीं।
उन्होंने कहा कि वह उन लोगों में शुमार थीं जिन्होंने नन्हे राहुल को पहली बार अपने हाथों में उठाया था। वायनाड से वावथिल ने पीटीआई को फोन पर बताया कि मैं खुशनसीब थी क्योंकि नवजात राहुल को अपनी गोद में  उठाने वाले लोगों में मैं पहली थी। मैं उनके जन्म की गवाह रही हूं। मैं बेहद उत्साहित थी... इंदिरा गांधी के पोते को देखकर हम सभी बहुत उत्साहित थे।

49 साल बाद वो प्यारा बच्चा आज कांग्रेस अध्यक्ष है और वायनाड से चुनाव लड़ रहा है। वावथिल अब खुद को एक गृहिणी बताती हैं। उनका कहना है कि उन्हें इससे अधिक खुशी नहीं मिल सकती थी। उन्हें आज भी वह दिन अच्छे से याद है। वावथिल ने उस दिन को याद करते हुए बताया कि कैसे जब सोनिया गांधी को प्रसव के लिये ले जाया जा रहा था तब राहुल गांधी के पिता राजीव गांधी और चाचा संजय गांधी अस्पताल के प्रसव कक्ष के बाहर इंतजार कर रहे थे।

यह कहानी वह अक्सर अपने परिवार को सुनाती हैं। सेवानिवृत्त नर्स ने कहा कि उन्हें राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाने वाली भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी की शिकायत से दुख है। वावथिल के अनुसार एक भारतीय नागरिक के तौर पर राहुल गांधी की पहचान पर कोई सवाल नहीं उठा सकता है और उनकी नागरिकता के बारे में स्वामी की शिकायत निराधार है।

उन्होंने बताया कि वहां अस्पताल में राहुल गांधी के जन्म के बारे में सभी रिकॉर्ड मौजूद होंगे। वावथिल ने दिल्ली के होली फैमिली अस्पताल से नर्सिंग पाठ्यक्रम पूरा किया था और बाद में वह भारतीय सेना में नर्स के तौर पर शामिल हुईं। वावथिल ने उम्मीद जतायी कि राहुल गांधी जब अगली बार वायनाड आएंगे तो वह उनसे मिल पाएंगी।

मैं संजय गांधी का बेटा हूं, इन जैसे लोगों से जूते फीते खुलवाता हूं: वरुण गांधी

I am the son of Sanjay Gandhi, I open shoes with people like these: Varun Gandhi

नई दिल्ली। भाजपा नेता और पीलीभीत से उम्मीदवार वरुण गांधी ने सुल्तानपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। इस रैली को संबोधित करते हुए वरुण गांधी ने कांग्रेस और महागठबंधन पर ​जमकर निशाना साधा। सुल्तानपुर से भाजपा ने मेनका गांधी को उम्मीदवार बनाया है। अपनी मां मेनका गांधी का चुनाव प्रचार करते हुए वरुण गांधी ने कहा कि मैं संजय गांधी का बेटा हूं, इन जैसे लोगों से जूते फीते खुलवाता हूं। 

गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो नजर आ रहा है। ​इस वीडियो में वरुण गांधी गठबंधन के उम्मीदवार चंद्रभद्र सिंह पर हमला करते नजर आ रहे है। इस वीडियो में वे कहते नजर आ रहे है कि आपको किसी मोनू-टोनू से डरने की जरूरत नहीं है। मैं संजय गांधी का लड़का हूं और इन जैसों से जूते के फीते खुलवाता हूं।

वरुण गांधी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले सुल्तानपुर की पहचान थी कि आप अमेठी के पड़ोसी है। मेरे आने के बाद आप देश दुनिया में कही भी जाओ, तो लोग कहेंगे वरुण गांधी वाला सुल्तानपुर है। ये पहचान मेनका गांधी के बाद और मशहूर होने वाली है। तो वहीं मेनका ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि अभी तक 330 गांवों में जा चुकी हूं। यह जमीन मेरे पति संजय गांधी और बेटे की है। इसलिए मैं याद दिला रही हूं कि सुल्तानपुर में गठबंधन का उम्मीदवार नहीं चल पा रहा है। 

ओडिशा में फोनी चक्रवात की दस्तक, भारी बारिश के साथ चली 175 किलोमी​टर प्रति घंटे की रफ्तार से प्रचंड हवा 

fani cyclone in odisha 2019

भुवनेश्वर। भारी बारिश और 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की प्रचंड हवाओं के साथ चक्रवाती तूफान 'फोनी’ ने शुक्रवार को सुबह ओडिशा तट पर दस्तक दी। तूफान की वजह से कई पेड़ उखड़ गए और झोपड़ियां तबाह हो गई। साथ ही मंदिर शहर पुरी के कई इलाके जलमग्न हो गए। अत्यधिक प्रचंड चक्रवाती तूफान फोनी सुबह करीब 8 बजे पुरी पहुंचा।

हालांकि पूर्व चेतावनी के कारण कम से कम 11 तटीय जिलों के निचले एवं संवेदनशील इलाकों से करीब 11 लाख लोगों को बृहस्पतिवार तक हटा लिया गया। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र, भुवनेश्वर के निदेशक एच. आर. बिस्वास ने कहा कि चक्रवात सुबह करीब आठ बजे पुरी तट पर पहुंचा और चक्रवात के पहुंचने की प्रक्रिया पूरी होने में करीब तीन घंटे का समय लगेगा।

बिस्वास ने बताया कि चक्रवात का केंद्र करीब 28 किलोमीटर दूर है और वह 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा है। पुरी और आसपास के इलाकों में 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है जो 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर पहुंच सकता है। विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) बी. पी. सेठी ने बताया कि चक्रवात के कारण गंजाम, पुरी, खोरधा और गजपति जैसे कई तटीय जिलों में प्रचंड हवा चल रही है।

उन्होंने बताया कि करीब 10,000 गांवों और 52 शहरी इलाकों से हटाए गए 11 लाख लोग 4,000 शिविरों में ठहरे हुए हैं जिनमें से विशेष रूप से चक्रवात के लिए बनाए गए 880 केंद्र शामिल हैं। सेठी ने बताया कि विमान से गिराने के लिए एक लाख से अधिक भोजन के पैकेट तैयार किए गए हैं।

इसके लिए दो हेलीकॉप्टर भेजने का अनुरोध किया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य के किसी भी हिस्से से किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। सरकार किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने बताया कि राजधानी भुवनेश्वर में 140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है।

भारतीय तटरक्षक बल ने विशाखापत्तनम, चेन्नई, गोपालपुर, हल्दिया, फ्रासेरगंज और कोलकाता में विभिन्न स्थानों पर 34 आपदा राहत टीमों को तैनात किया है। उसने किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए चार जहाजों को भी तैनात किया है। भारतीय नौसेना ने भी राहत सामग्री और मेडिकल टीमों के साथ तीन जहाजों को भी तैनात किया है ताकि ओडिशा के तट पर चक्रवात के पहुंचने के बाद वह राहत अभियान शुरू कर सकते हैं।

नौसेना के प्रवक्ता कैप्टन डी के शर्मा ने बताया कि हवाई सर्वेक्षण के लिए कई विमानों को भी तैयार रखा गया है। कैप्टन शर्मा ने कहा कि जरुरत पड़ने पर बचाव अभियान और राहत सामग्री गिराने के लिए हेलीकॉप्टरों को भी तैयार रखा गया है। फोनी को सबसे खतरनाक चक्रवाती तूफान कहा जा रहा है।

साल 1999 के सुपर चक्रवात में 10,000 लोगों की जान चली गई थी और उसने ओडिशा में जमकर तबाही मचाई थी। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने चक्रवात के दौरान लोगों से घरों में रहने की अपील की है और कहा कि लोगों की सुरक्षा के लिए सभी प्रबंध कर लिए गए हैं। 11 तटीय जिलों में सभी दुकानें, व्यावसायिक प्रतिष्ठान, निजी और सरकारी कार्यालय एहतियाती तौर पर बंद रहेंगे। 

पाकिस्तान ने मसूद अजहर की संपत्तियां सील करने, उस पर यात्रा प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया

Pakistan issued an order to seal the property of Masood Azhar, impose travel restrictions on it.

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने के बाद उसकी संपत्तियां सील करने और उस पर यात्रा प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया है। पाकिस्तान में रहने वाले अजहर के हथियार खरीदने-बेचने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है।

इस्लामिक स्टेट और अल-कायदा पर संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबंध समिति ने बुधवार को अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया था। जैश ने फरवरी में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली थी। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने बुधवार को जारी अधिसूचना में कहा, ‘‘संघ सरकार को यह आदेश देते हुए प्रसन्नता हो रही है कि अजहर के खिलाफ प्रस्ताव 2368 (2017) का पूर्ण रूप से पालन होगा।’’सरकार ने अधिकारियों को अधिसूचना के आधार पर जैश सरगना के खिलाफ समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री अपने प्रेमी से करेंगी शादी

New Zealand Prime Minister will marry her boyfriend

वेलिंगटन। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिडा आर्डर्न ने अपने लंबे समय से प्रेमी रहे टेलीविजन प्रस्तोता क्लार्क गेफोर्ड को अपना जीवनसाथी बनाने का फैसला किया है। दोनों जल्द ही विवाह के बंधन में बंध जाएंगे। प्रधानमंत्री के प्रवक्ता ने भी इस बात की पुष्टि की। इससे पहले शुक्रवार को दोनों की सगाई होने की बात सामने आई जब एक समारोह में आर्डर्न को बाएं हाथ की बीच की ऊंगली में हीरे की अंगूठी पहने देखा। 

इसके बाद खोजी पत्रकारों ने इस बारे में प्रधानमंत्री कार्यालय से जानकारी मांगी। तब प्रधानमंत्री के प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की कि ईस्टर की छुट्टियों के मौके पर दोनों की सगाई हुई थी और अब वे विवाह करने को तैयार हैं। पिछले वर्ष ही प्रधानमंत्री रहते हुए ही आर्डर्न ने अपनी पहली बेटी को जन्म दिया था।

दोनों ने अपनी बेटी का नाम नीव ती अरोहा रखा। आर्डर्न विश्व की दूसरी ऐसी नेता हैं जिन्होंने प्रधानमंत्री रहते हुए अपने बच्चे को जन्म दिया। इससे पहले पाकिस्तान की दो बार प्रधानमंत्री रहीं बेनजीर भुट्टो ने पद पर रहते हुए बच्चे को जन्म दिया था। आर्डर्न ने पहले कहा था, मेरे पास ऐसा सहयोगी है जो हमेशा मेरी मदद करता है। वह संयुक्त जिम्मेदारी का बड़ा हिस्सा निभाता है क्योंकि वह अभिभावक भी है ना कि कोई बेबीसीटर। स्थानीय मीडिया के मुताबिक आर्डर्न और गेफोर्ड की पहली मुलाकात वर्ष 2012 में एक पुरस्कार समारोह के दौरान हुई थी। 

इस कारण से भाजपा में शामिल हुए सनी देओल, किया खुलासा

Sunny Deol, who joined the BJP for this reason, did not disclose

एंटरटेनमेंट डेस्क। बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल ने कुछ दिन पहले ही भाजपा में शामिल हुए है। सनी देओल को भारतीय जनता पार्टी ने पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है। उन्होंने गुरदासपुर से नामांकन भी दाखिल कर दिया है। हाल ही में उन्होंने अपना एक इंटरव्यू दिया। इस इंटरव्यू में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की। सनी देओल ने इस इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने भाजपा में शामिल होने का फैसला क्यो किया? 

पीएम मोदीे से पहली मुलाकात के बारे में बात करते हुए सनी देओल ने कहा कि प्रधानमंत्री सामने वाले से इतने इत्मीनान से बातें करते है कि मुझे महसूस ही नहीं हुआ कि महसूस नहीं हुआ कि मैं पहली बार देश के प्रधानमंत्री से मिल रहा हूं। उन्होंने मुझे काफी सहज महसूस करवाया। 

बॉलीवुड अभिनेता सनी देओेल ने बताया कि वो मुझसे उम्र में बड़े है, बुजुर्ग है। जैसे पापा है। एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि मैं अपने चुनावी क्षेत्र में जाउंगा लोगों को सुनूंगा और जो वो बोलेंगे उसे करके दिखाउंगा। जिसके बाद मैं मानता हूं कि लोग मुझ पर विश्वास करने लगेंगे। 

प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए सनी देओल ने कहा कि मोदी जी ने मुझसे कहा कि बेटा तुम्हारी ताकत है, चुप रहना, वही असली ताकत है। उन्हे मुझ पर भरोसा ​है कि मैं जो करूंगा सही करूंगा। पहली मुलाकात में मैंने उनके बारे में जितना सुना था सब सही पाया। मैं उनकी वजह से राजनीति से जुड़ा हूं।

इस दिन रिलीज होगी फिल्म प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक

Prime Minister Narendra Modi's biopic will be released on this day

एंटरटेनमेंट डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक 'पीएम नरेंद्र मोदी' अपनी रिलीज डेट को लेकर सुर्खियों में बनी हुई है। यह फिल्म पहले 11 अप्रैल को रिलीज होने वाली थी। लेकिन इससे एक दिन पहले इसकी रिलीज पर रोक लगा दी थी। इस फिल्म की रिलीज डेट को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था। तो वहीं लोकसभा चुनावों के चलते रोक लगा दी थी। गौरतलब है कि यह फिल्म पहले 5 अप्रैल को रिलीज होने वाली थी। लेकिन यह रिलीज नहीं हो सकी। इसके बाद इस फिल्म की नई रिजीज डेट 11 अप्रैल सामने आई। लेकिन लोकसभा चुनाव के चलते इस फिल्म की रिलीज को टाल दिया। 

आपको बता दें कि अब फिल्म की रिलीज की नई डेट सामने आ गई है। फिल्म 24 मई 2019 को रिलीज होगी। इस बारे में बात करते हुए फिल्म के ​प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने कहा कि एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हम देश के कानून की इज्जत करते है। इस बारे में बात करने के बाद इस फैसले पर पहुंचे है कि लोकसभा चुनाव होने के बाद हम इस फिल्म को रिलीज करेंगे। 

इसके बाद कहा कि अब हम अपनी फिल्म को 24 मई को रिलीज करेंगे। यह पहली बार होगा जब किसी फिल्म का प्रचार केवल 4 दिन किया जाएगा। उम्मीद करता हूं कि किसी को फिल्म से कोई दिक्कत नहीं होगी और इस बार यह रिलीज हो सकेगी। दरअसल, फिल्म में पीएम मोदी का किरदार विवेक ओबरॉय निभा रहे है।  उनके अलावा एक्टर बोमन ईरानी, मनोज जोशी, प्रशांत नारायण, जरीना वहाब, बरखा सेनगुप्ता, अंज श्रीवास्तन, रमाकांत दायमा, अक्षत आर सुलूजा, जिमेश पटेल और दर्शन कुमार नजर आएंगे। 

विश्व कप से पहले दक्षिण अफ्रीका को लग सकता है बड़ा झटका, यह दिग्गज गेंदबाज है चोट से परेशान

Before the World Cup, South Africa may feel a big setback, this is a veteran bowler troubled by injury

स्पोटर्स डेस्क। आईसीसी विश्व कप 30 मई सेे इंग्लैंड में खेला जाना है। इस विश्व कप से पहले साउथ अफ्रीका को एक बड़ा झटका लग सकता है। टीम के स्टार तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा कमर की चोट से परेशान है। दरअसल, रबाडा इस समय आईपीएल में दिल्ली की तरफ से खेल रहे है। आईपीएल के इस सीजन में दिल्ली प्लेआफ में पहुंच गई है। ऐेसे में रबाडा की कमर में परेशानी दिल्ली के लिए आईपीएल के अंत में चिंता का सबब हो सकती है। 

हालांकि साउथ अफ्रीका टीम इस बारे में ज्यादा चिंतित होगी। क्योंकि विश्व कप शुरू होने में महज कुछ ही दिनों का समय बाकी है। बता दें कि चेन्नई के खिलाफ मैच में दिल्ली ने रबाडा को टीम में शामिल नहीं किया गया। इस मैच में दिल्ली की टीम को रबाडा की काफी कमी खली। इस मैच में दिल्ली कैपिटल्स को 80 रन से हार का सामना करना पडा। 

गौरतलब है कि इस सत्र का पहला मैच था, जिसमें रबाडा नहीं खेले थे। इस बारे में दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने बताया कि टीम प्रबंधन ने ए​हतियात के तौर पर रबाडा को आराम दिया था। लेकिन साउथ अफ्रीका की टीम काफी चिंतित होगी। क्योंकि उनका अनुभवी तेज गेंदबाज डेेल स्टेन भी चोटिल है। जिसने इस आईपीएल सत्र में केवल दो ही मैच खेले थे। चेन्नई के खिलाफ मिली हार के बाद अय्यर ने कहा कि हां हम उसकी काबिलियत से वाकिफ है। वह स्लॉग ओवरों में शानदार गेंदबाज है। निश्चित रूप से हमें उसकी कमी खली,लेकिन उसकी पीठ में परेशानी है, अच्छा है उसे आराम मिला। 

शाहिद अफरीदी ने अपनी आयु को लेकर बने रहस्य को किया खत्म

Shahid Afridi finishes the secret to his age

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेट कप्तान शाहिद अफरीदी ने अंतत: अपनी आयु को लेकर बना रहस्य खत्म करते हुए खुलासा किया है कि उनका जन्म 1975 में हुआ था और आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 1980 में नहीं। अफरीदी की आत्मकथा में इस खुलासे का मतलब है कि 1996 में नैरोबी में जब उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ रिकार्ड 37 गेंद में शतक जड़ा था तो वह 16 साल के नहीं थे।

अफरीदी ने अपनी आत्मकथा 'गेम चेंजर’ में लिखा, मैं सिर्फ 19 साल का था, 16 साल का नहीं जैसा कि उन्होंने दावा किया। मेरा जन्म 1975 में हुआ। इसलिए हां, अधिकारियों ने मेरी उम्र गलत लिखी। अफरीदी का 19 साल का होने का दावा भ्रम पैदा करने वाला है क्योंकि अगर वह 1975 में पैदा हुए तो उनकी उम्र रिकार्ड शतक के दौरान 21 साल होनी चाहिए। उन्होंने 27 टेस्ट, 398 एकदिवसीय और 99 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले।

विश्व टी20 2016 के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले इस पूर्व कप्तान ने अपनी किताब में पूर्व दिग्गज गेंदबाजी वकार यूनिस को भी निशाना बनाया। यूनिस 2016 में भारत में हुए विश्व टी20 के दौरान टीम के कोच थे। उन्होंने लिखा, ''दुर्भाग्य से वह अतीत को नहीं भुला पाया। वकार और मेरा इतिहास रहा है, इसकी शुरुआत कप्तानी को लेकर वसीम के साथ उसके मतभेद को लेकर हुई। वह औसत दर्जे का कप्तान था लेकिन बदतर कोच। वह हमेशा कप्तान यानी मुझे बताने का प्रयास करता था कि क्या करना है। यह स्वाभाविक भिड़ंत थी और ऐसा होना ही था।

सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन मामूली गिरावट के साथ बंद हुए Sensex-Nifty

Sensex-Nifty closed on the last trading day of the week with a slight decline

मुंबई। सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन सु​बह बढ़त के साथ खुले बाजार में कारोबार की समाप्ति पर गिरावट देखने को मिली। गिरावट के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 18.17 अंक यानि 0.047 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,963.26 के स्तर पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) के पचास शेयरों वाले निफ्टी में भी कारोबार की समाप्ति पर गिरावट देखने को मिली और ये 12.50 अंक यानि 0.11 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,712.25 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि कल के कारोबार के दौरान सुबह शेयर बाजार गिरावट के साथ लाल निशान पर खुला और लाल निशान पर ही बंद हुआ। कारोबार की शुरूआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 144.43 अंक यानि 0.37 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,887.12 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 50.12 अंक यानि 0.13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,981.43 के स्तर पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी कारोबार की शुरूआत में 47.75 अंक यानि 0.41 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,700.40 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 23.40 अंक यानि 0.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,724.75 के स्तर पर बंद हुआ।

loading...


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
loading...


Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.