30 अगस्त: एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Thursday, 30 Aug 2018 04:45:21 PM
30 august latest top10 news

राहुल साम्प्रदायिक ताकतों से देश को बचाने के लिए जा रहे है मानसरोवर यात्रा पर: अहमद

Rahul is going to save country from communal forces on Mansarovar journey: Ahmed

इलाहाबाद। कांग्रेस के जिला महासचिव हसीब अहमद ने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी देश को साम्प्रदायिक ताकतों से देश को बचाने के लिए शुक्रवार से पवित्र कैलाश मानसरोवर की यात्रा शुरू करेंगे। कांग्रेस जिला महासचिव हसीब अहमद ने गुरूवार को यहां कहा कि गांधी की मानसरोवर यात्रा से निश्चित रूप से बीजेपी की जमीन उखड़ गई है। हिन्दुत्व के एजेंडे पर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा)राजनीति कर रही है। गांधी की मानसरोवर यात्रा से भाजपा और संघ के लोगों में खलबली मच गई है। अहमद ने बताया कि 29 अप्रैल को रामलीला मैदान गांधी ने जनता से वादा किया था कि वह पार्टी कार्यकर्ताओं से 15 दिन का अवकाश लेकर कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर जाएंगे। वादा पूरा करने का समय लगभग आ गया और 31 अगस्त को पवित्र कैलाश मानसरोवर की यात्रा करेंगे।

गांधी साम्प्रदायिक शक्तियों से देश की सुरक्षा के लिए भगवान भोलेनाथ से प्रार्थना करेंगे। सोशल साइट पर वायरल हो रहे फोटो में एक तरफ भोलेनेाथ की तो दूसरी तरफ राहुल गांधी की हाथ जोडे तस्वीर लगी है। दोनों के बीच में मंदिर के ऊपर भगवा पताका पर त्रिशूल लहरा रहा है। सबसे ऊपर धवल कैलाश मानसरोवर पर्वत नजर आ रहा है और उस पर ऊं बम बम भोले लिखा है। नीचे दाहिनी तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी और बाईं तरफ जिला महासचिव हसीब अहमद की तस्वीर है।

दोनो के बीच शिव भक्त जनेऊधारी पंडित राहुल गांधी जी की कैलाश मानसरोवर यात्रा पर हार्दिक शुभकामनाएं लिखा गया है। भाजपा के महानगर अध्यक्ष अवधेश गुप्ता ने राहुल गांधी के मानसरोवर यात्रा पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। कांग्रेस, समाजवादी पार्टी(सपा) और बहुजन साज पार्टी (बसपा) ने मुस्लिमों के हित के लिए आज तक कोई काम नहीं किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सब का साथ सब का विकास की राजनीति करती है। वह सबके लिए काम करती है।

सबसे निचले पायदान पर खडे व्यक्ति तक विकास पहुंचे यही भाजपा का उद्देश्य है। गुप्ता ने कहा कि कांग्रेस अपने घटते जनाधार से परेशान राहुल गांधी हिदुओं को लुभाने के लिए जनेऊ धारण कर राजनीति को चमकने का प्रयास करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि साल 2014 की तरह ही आने वाले 2019 के चुनाव में जनता मुंहतोड़ जवाब देगी।

चारा घोटाला: लालू यादव ने किया CBI कोर्ट में आत्मसमर्पण, लगभग सौ दिनों बाद दोबारा जेल भेजे गए

Laloo Yadav surrenders in CBI court

रांची। चारा घोटाला मामले के दोषी राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने अंतरिम जमानत अवधि समाप्त होने के बाद गुरुवार को सीबीआई कोर्ट  के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। कोर्ट ने उन्हें करीब 100 दिन के बाद वापस बिरसा मुंडा जेल भेज दिया है। प्रसाद गुरुवार सुबह लगभग दस बजे चारा घोटाला मामलों की सुनवाई कर रही सीबीआई की विशेष अदालतों में पहुंचे और उन्होंने बारी-बारी से चाईबासा कोषागार से लूट के मामले में आदेश देने वाली एसएस प्रसाद की अदालत और फिर देवघर एवं दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामलों में फैसला सुनाने वाली एमपी मिश्रा की अदालत में आत्मसमर्पण किया।

दोनों अदालतों ने प्रसाद को न्यायिक हिरासत में लेकर वापस बिरसा मुंडा जेल भेजने के आदेश दिए। राजद प्रमुख के अधिवक्ताओं ने लालू को इलाज के लिए रिम्स अस्पताल में भर्ती कराने का अनुरोध किया जिसके बाद अदालतों ने जेल प्रशासन को प्रसाद के स्वास्थ्य का उचित ख्याल रखना का निर्देश दिया। प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया कि जेल के चिकित्सक उनके स्वास्थ्य की जांच करेंगे। उनकी बीमारियों की जांच के लिए रिम्स के चिकित्सकों का बोर्ड बनाया जा सकता है और इस मेडिकल बोर्ड की अनुशंसा के आधार पर प्रसाद को जल्द ही वापस रिम्स अस्पताल में भर्ती कराया जा सकता है।

लेकिन फिलहाल वह जेल में ही रहेंगे। झारखंड उच्च न्यायालय ने 24 अगस्त के अपने आदेश में प्रसाद को कहा था कि वह 30 अगस्त तक सीबीआई की विशेष अदालत में आत्मसमर्पण करें। इससे पहले कोर्ट ने राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख की चारा घोटाले के देवघर कोषागार समेत सभी तीन मामलों में स्वास्थ्य कारणों से दी गई अंतरिम जमानत की अवधि को आगे बढ़ाने से इनकार कर दिया था।

अदालत ने कहा था कि होने पर अब प्रसाद का यहां रिम्स अस्पताल में इलाज होगा। न्यायमूर्ति अपरेश कुमार सिह की पीठ ने इस मामले की सुनवाई करते हुए लालू के अधिवक्ताओं की अंतरिम जमानत अवधि बढ़ाने की दलील को 24 अगस्त को अस्वीकार कर दिया था। कोर्ट ने प्रसाद को आत्मसमर्पण के लिए 30 अगस्त तक का समय दिया था।

पाक के नए नेतृत्व के समक्ष आतंकवाद का मुद्दा उठाएंगे पोम्पिओ : रिपोर्ट

Pompeo will take up the issue of terrorism before Pakistan's new leadership:Report

इस्लामाबाद/वाशिंगटन। पाकिस्तान के नए नेतृत्व के साथ अगले हफ्ते होने वाली मुलाकात के दौरान अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ आतंकवाद के खिलाफ जंग का मुद्दा उठाएंगे। एक मीडिया रिपोर्ट में ये जानकारी दी गई। पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने मंगलवार को इस बात की पुष्टि की थी कि पोम्पिओ 5 सितंबर को इस्लामाबाद में होंगे लेकिन अब ये पता चला है कि इस महत्वपूर्ण दौरे पर वह अकेले नहीं होंगे। उनके साथ ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी जनरल जोसफ एफ डुनफोर्ड भी होंगे।

रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस ने मंगलवार को पेंटागन में मीडिया से कहा था, विदेश मंत्री और अध्यक्ष इस्लामाबाद में नई सरकार से मुलाकात के लिए जा रहे हैं। डॉन अखबार ने उन्हें उद्धृत करते हुए कहा कि पाकिस्तानी नेतृत्व के साथ उनकी बातचीत का 'प्रमुख हिस्सा’ आतंकवाद से लड़ने की जरूरत होगा। इस ब्रीफिग में डुनफोर्ड भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि अमेरिका की ''दक्षिण एशिया में स्थायी रूचि’’ है और वह चाहता है कि ''क्षेत्र में प्रभाव के लिए मौजूदगी (वहां) बरकरार रखी जाए। पोम्पिओ और जनरल डुनफोर्ड के पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात करने की भी उम्मीद है।

मैटिस ने कहा कि पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ अपनी बातचीत में प्रतिनिधिमंडल यह बिल्कुल स्पष्ट कर देगा कि हमें क्या करना है, हमारे राष्ट्रों के लिए, अपने साझा दुश्मन, आतंकवाद से निपटने के लिए और इसे अपनी चर्चा का प्राथमिक हिस्सा बनाना। जनरल डुनफोर्ड ने कहा कि अमेरिका दक्षिण एशिया में अपनी कूटनीतिक और रक्षा उपस्थिति बरकरार रखना चाहता है और इस मौजूदगी की प्रकृति बदलते वक्त के साथ बदलेगी। 

रूसी हस्तक्षेप मामला: जांच हो रही है तेज, व्हाइट हाउस के शीर्ष वकील पद छोड़ेंगे

Russian intervention case:  investigation is going fast, White House top lawyer will step down

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति चुनावों में रूसी हस्तक्षेप की जांच का दायरा डोनाल्ड ट्रंप के करीबियों तक बढ़ने के साथ ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि व्हाइट हाउस के वकील डॉन मैकगन जल्द ही अपना पद छोड़ेंगे। रूसी हस्तक्षेप की जांच कर रहे विशेष अभियोजक रॉबर्ट मूलर की टीम ने मैकगन से भी सहयोगी गवाह के तौर पर लंबी पूछताछ की। मैकगन ने इस जांच के संबंध में ट्रंप को सलाह दी थी। ट्रंप ने ट्विटर पर कहा कि वे “आने वाले समय” में व्हाइट हाउस के अपने पद को छोड़ेंगे। मैकगन का नाम व्हाइट हाउस में बचे उन चंद लोगों में से एक है जिन्होंने ट्रंप चुनाव अभियान में बड़ी भूमिका निभाई थी।

मैकगन व्हाइट हाउस में प्रमुख अभियोजक थे। मीडिया में आई खबरों के अनुसार उनकी जगह व्हाइट हाउस के वर्तमान उप-प्रमुख अभियोजक एम्मेट फ्लड लेंगे। वे एक अनुभवी वकील हैं जिन्होंने 1990 में राष्ट्रपति बिल क्लिंटन पर चले महाभियोग के दौरान उनका प्रतिनिधित्व किया था। ट्रंप अपने निजी कानूनी मामलों के निपटान के लिए निजी वकीलों की एक टीम भी रखते हैं जिसके प्रमुख न्यूयॉर्क के पूर्व मेयर रूडी गिलियानी हैं।

ट्रंप ने कहा कि जज ब्रैट कैवनॉग की अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट में पुष्टि के तुरंत बाद” मैकगन अपना पद छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि मैंने उनके (मैकगन) साथ लंबे समय तक काम किया है और उनकी सेवाओं के लिए सचमुच उनकी सराहना करता हूं। हालांकि न्यूयॉर्क टाइम्स ने ट्रंप और मैकगन के करीबियों के हवाले से बताया कि ट्रंप ने मैकगन को बताए बिना ट्विटर पर यह घोषणा कर दी। 

बॉलीवुड में वरूण को 'नंबर वन' बनायेंगे डेविड धवन

David Dhawan to make Varun Dhawan 'number one' in Bollywood

मुंबई। बॉलीवुड के इंटरटेनर नंबर वन कहे जाने वाले निर्देशक डेविड धवन एक बार फिर अपनी नई फिल्म को लेकर सुर्खियों के बाजार में छाए हुए हैं। खबरों की मानें तो डेविड धवन अपने बेटे वरूण धवन को लेकर फिर फिल्म बनाने जा रहे हैं। डेविड धवन ने नब्बे के दशक में गोविंदा को लेकर नंबर वन सीरीज की शुरुआत की थी।

डेविड ने गोविंदा के साथ कुली नंबर वन ,हीरो नंबर वन जोड़ी नंबर वन जैसी सुपरहिट फिल्में बनायी थी। डेविड धवन अब फिर से इसी नंबर वन सीरीज को शुरू करने जा रहे हैं। डेविड धवन के बेटे वरुण इस सीरीज को आगे बढ़ाने जा रहे हैं। डेविड धवन ने वरूण धवन को लेकर मैं तेरा हीरो और जुड़वा-2 जैसी सुपरहिट फिल्में बनायी है।

डेविड ने बेटे के साथ एक और फिल्म की तैयारी शुरू कर दी है। एक बार जब फिल्म की स्क्रिप्ट फाइनल हो जायेगी तब फिल्म की बाकी स्टारकास्ट को लॉक किया जाएगा। वरुण अपने पिता के साथ फिल्म करने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। यह एक रोमांटिक कॉमेडी होगी। फिल्म अगले साल जून में शुरू की जा सकती है।

वर्कफ्रंट की बात करें तो वरुण की आने वाली फिल्म सुई धागा हैं। जो रिलीज के लिए तैयार हैं। आपको बता दें कि इस फिल्म में उनके अपोजिट अभिनेत्री अनुष्का शर्मा नजर आऩे वाली हैं। अनुष्का और वरुण पहली बार सिल्वर स्क्रीन पर एक साथ नजर आने वाले हैं। 

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने फिल्म मंटो के लिए वसूली इतनी रकम, आज तक किसी अभिनेता को नहीं मिली इतनी फीस

Nawazuddin Siddiqui took a Rupee fee for his upcoming film Manto

मुंबई। हर एक्टर या एक्ट्रेस को अपनी एक्टिंग के अनुसार पैसे मिलने चाहिए। सभी अपने अभिनय को बेहतर बनाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। वहीं नवाजुउद्दीन सिद्दिकी ने अपनी अपकमिंग फिल्म में फीस को लेकर सभी को चौंका दिया है। जी हां बॉलीवुड में अपने संजीदा अभिनय के लिए मशहूर नवाजुउद्दीन सिद्दिकी ने अपनी आने वाली फिल्म मंटो के लिए एक रुपया फीस ली है। बॉलीवुड निर्देशक नंदिसा दास ने विवादित साहित्यकार सआदत हसन मंटो के जीवन पर फिल्म मंटो बनाई है। नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी फिल्म में मंटो का किरदार साकार करते नजर आएंगे।

बताया जा रहा है कि इस फिल्म के लिए उन्होंने फीस के रूप में सिर्फ़ एक रुपया लिया लिया है। नवाज़ का ये फैसला नंदिता दास के दिल को छू गया। नंदिता दास ने बताया है कि यह बहुत बड़ी उदारता का उदहारण है कि कोई स्टार अपनी सामान्य फीस के बिना भी आपकी फिल्म में काम कर रहा है। बताया जा रहा है कि फिल्म का टाईट बजट देखते हुए नंदिता ने उन्हें सिर्फ एक रुपया फीस ऑफर की थी और नवाज़ मान गए । इस फिल्म के लिए ऋषि कपूर, परेश रावल, रणवीर शौरी, दिव्या दत्ता और जावेद अख्तर ने भी कोई पैसा नहीं लिया।

नंदिता दास ने कहा , ऋषि कपूर ने पहली ही मीटिग में इस फिल्म में काम करने की स्वीकृति दे दी और फीस के बारे में पूछा तक नहीं। अच्छे कलाकार अच्छे काम के भूखे होते हैं और जब उनके पास मनचाहा प्रोजेक्ट आये तो वो किसी भी कीमत पर उसके साथ समझौता नहीं करते । उनके लिए तब बड़ा से बड़ा मेहनताना कोई मायने नहीं रखता । यह फिल्म 21 सितंबर को रिलीज़ हो रही है।

यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट: नडाल और वावरिका तीसरे दौर में, मर्रे बाहर

US Open Tennis Tournament: Nadal and Wawrika in the third round, Murray out

न्यूयार्क। दुनिया में नंबर एक और मौजूदा चैंपियन राफ़ेल नडाल ने सीधे सेटों में जीत दर्ज करके यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट के तीसरे दौर में प्रवेश किया लेकिन पूर्व चैंपियन एंडी मर्रे का वापसी पर सफर दूसरे दौर में ही थम गया। नडाल ने आर्थर ऐस स्टेडियम में देर रात खेले गए मैच में कनाडा के वासेक पोसिपसिल को 6-3, 6-4, 6-2 से हराया।

उन्हें केवल दूसरे सेट में थोड़ी परेशानी हुई जब उन्होंने अपनी सर्विस गंवायी और वह 2-4 से पीछे हो गए थे। पूर्व चैंपियन स्टैन वावरिका और जुआन मार्टिन डेल पोत्रो भी तीसरे दौर में पहुंच गए हैं लेकिन चोट से उबरकर वापसी करने वाले 2012 के विजेता मर्रे बाहर हो गए।

गत वर्ष घुटने की चोट की वजह से अपने 2०16 के खिताब का बचाव नहीं कर पाने वाले वावरिका को विश्व में 139वें नंबर के उगो हंबर्ट पर 7-6 (7/5), 4-6, 6-3, 7-5 से जीत के लिये तीन घंटे 21 मिनट तक जूझना पड़ा। गत 14 माह में अपना पहला ग्रैंडस्लैम खेल रहे मर्रे को स्पेन के फर्नांडो वर्डास्को ने 7-5, 2-6, 6-4, 6-4 से हराया।

मर्रे कूल्हे की चोट की वजह से गत एक वर्ष से भी अधिक समय तक कोर्ट से बाहर रहे थे। वर्डास्को को अगले दौर में एक अन्य पूर्व चैंपियन अर्जेंटीना के तीसरी वरीयता प्राप्त डेल पोत्रो से भिड़ना होगा जिन्होंने अमेरिका के डेनिस कुल्डा को 6-3, 6-1, 7-6 (7/4) से पराजित किया।

रूस के डेनिस मेदवेदेव ने यूनान के स्टीफ़ेनोस सितसिपास को 6-4, 6-3, 4-6, 6-3 से हराया। इस हार के बाद 15वीं वरीयता प्राप्त यूनानी खिलाड़ी ने कहा कि तेज गर्मी के कारण उन्हें मानसिक और शारीरिक दिक्कतों का सामना करना पड़ा। मेदवेदेव अगले दौर में क्रोएशिया के 20वीं वरीयता प्राप्त बोर्ना कोरिच से भिड़ेंगे जिन्होंने स्पेन के कारबालेस बेना पर 7-6 (7/4), 6-2, 6-3 से जीत दर्ज की।

गत वर्ष के उप विजेता और इस वर्ष विबलडन फाइनल में पहुंचने वाली पांचवीं वरीयता प्राप्त दक्षिण अफ्रीकी केविन एंडरसन ने फ्रांस के जेरेमी चार्डी को 6-2, 6-4, 6-4 से हराया। उन्हें अब कनाडा के डेनिस शापोवालोव से भिड़ना है जिन्हें इटली के आंद्रियास सेप्पी पर 6-4, 4-6, 5-7, 7-6 (7/2), 6-4 से जीत के लिए 5 सेट तक जूझना पड़ा। 

ENG vs IND: कोहली की कप्तानी में पहली बार टीम में बदलाव नहीं, इंग्लैंड करेगा बल्लेबाजी

4th-test-england-v-india

साउथम्पटन। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट क्रिकेट मैच में आज यहां टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। भारत ने नॉटिंघम में खेले गये तीसरे टेस्ट मैच में जीत दर्ज करने वाली अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया है। यह विराट कोहली की कप्तानी में पहला अवसर है जबकि किसी टेस्ट मैच के लिए टीम में बदलाव नहीं किया गया। 

इंग्लैंड ने मोईन अली और सैम कुरेन को अंतिम एकादश में शामिल किया है। इंग्लैंड पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला में अभी 2-1 से आगे चल रहा है। पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के चौथे मैच में भारत के खिलाफ इंग्लैंड ने टॉस जीत लिया है। विराट ने इतिहास बदलते हुए पहली बार अपनी कप्तानी में अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया है। इससे पहले भारत ने पिछले 45 टेस्ट में अपनी टीम में बदलाव किए थे जिससे विराट कोहली की अगुवाई वाले 38 टेस्ट मैच भी शामिल थे। वहीं इंग्लैंड की टीम में इस टेस्ट मैच के लिए दो परिवर्तन किए गए हैं। 

इस मुकाबले में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन और भारतीय कप्तान विराट कोहली पास रिकॉर्ड बनाने का मौका होगा। एंडरसन चौथे मैच में सात विकेट हासिल करने के साथ ही टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बन जाएंगे। एंडरसन ने अभी तक 141 टेस्ट मैचों में 557 विकेट झटक लिए हैं। एंडरसन को मैक्ग्रा का विश्व रिकॉर्ड तोडऩे के लिए केवल सात विकटों की आवश्यकता है।

वहीं विराट के पास छह हजार टेस्ट रन पूरे करने और इंग्लैंड में एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी बनने का मौका होगा। विराट ने नाम अभी तक 69 टेस्ट मैचों में 54.49 की औसत से 5994 रन दर्ज हैं। इसके अलावा उनके पास इस मैच में इंग्लैंड में एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में राहुल द्रविड़ को पीछे छोडऩे का मौका होगा। विराट इस दौरे के तीन टेस्ट मैचों में 440 रन बना चुके हैं। जबकि द्रविड़ साल 2002 में 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में सबसे ज्यादा 602 रन बनाए थे। 

इंडियन ऑयल की 2018-19 में 22,000 करोड़ रुपए के पूंजी व्यय की योजना

Rs 22,000 crore capital expenditure plan in IndianOil 2018-19

मुंबई। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ( आईओसी ) की चालू वित्त वर्ष के लिये 22,000 करोड़ रुपए के पूंजी व्यय की योजना है। कंपनी एन्नोर - मनाली एलएनजी पाइपलाइन तय समयसीमा के अनुसार साल के अंत तक चालू करेगी। देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी के चेयरमैन संजीव सिंह ने कहा कि निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 22,000 करोड़ रुपए के पूंजी व्यय योजना को मंजूरी दी है। इसमें से 6,000 करोड़ रुपए रिफाइनरी के उन्नयन के लिए है ताकि बीएस-6 उत्सर्जन मानकों को पूरा किया जा सके।

सालाना आम बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए सिंह ने यह भी कहा कि कंपनी 4,000 करोड़ रुपए से अधिक लागत वाली 1,170 किलोमीटर लंबी पाइपलाइन परियोजना 2018 में चालू होने की उम्मीद कर रही है। यह पाइपलाइन चेन्नई के समीप एन्नोर एलएनपी टर्मिनल को हिमाचल प्रदेश में मनाली को जोड़ेगी। सिंह ने कहा, पाइपलाइन परियोजना का 50 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है।

उन्होंने यह भी कहा कि एन्नोर में 5,000 करोड़ रुपए की लागत वाला एलएनजी टर्मिनल निर्धारित कार्यक्रम अक्टूबर तक चालू हो जाएगा। ईरान से कच्चे तेल के आयात के बारे में सिंह ने कहा कि यह अभी साफ नहीं है कि किसी प्रकार का प्रतिबंध होगा। इसको देखते हुए उन्होंने कई राष्ट्रीय तेल विपणन कंपनियों से गठजोड़ किया है कि ताकि कच्चे तेल की आपूर्ति बाधित नहीं हो। उन्होंने इस बात से इनकार किया कि आईओसी ने ईरान से तेल का आयात घटाया है। उन्होंने कहा कि शुद्ध आधार पर आयात में कोई कमी नहीं आयी है।

33 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes with losses of 33 points

मुंबई। जब आज सुबह शेयर बाजार खुला तो उसमें गिरावट देखी गई, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने ही गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत की और कारोबार की समाप्ति पर भी घरेलू शेयर बाजार गिरावट के साथ लाल निशान पर बंद हुआ। गिरावट के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 32.83 अंक यानि 0.085 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,690.10 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर गिरावट हावी रही और ये 15.10 अंक यानि 0.13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,676.80 के स्तर पर बंद हुआ। 

गौरतलब है कि कल के कारोबार के दौरान अधिकतर एशियाई बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बावजूद भारतीय मुद्रा के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आने और मुनाफावसूली के दबाव में शेयर बाजार शिखर से लुढ़क गया । बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 173.70 अंक फिसलकर बुधवार को 38,722.93 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 46.60 अंक की गिरावट में 11,691.90 अंक पर बंद हुआ। एशियाई बाजारों के तेजी में रहने की खबरों के बीच सेंसेक्स की शुरूआत मजबूत रही और यह बढ़त के साथ 38,989.65 अंक पर खुला।

यह शुरूआती घंटे में ही लुढ़कता हुआ 38,679.57 अंक के दिवस के निचले स्तर तक चला गया। आखिरी पहर में सेंसेक्स में हल्का सुधार आया लेकिन बाजार पर मुनाफावसूली हावी रही जिससे सेंसेक्स गत दिवस की तुलना में 0.45 प्रतिशत की गिरावट में 38,722.93 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की शुरूआत भी तेजी के साथ 11,744.95 अंक से हुई। कारोबार के दौरान यह 11,753.20 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,678.85 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.40 प्रतिशत की गिरावट में 11,691.90 अंक पर बंद हुआ।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.