31 अगस्त: एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबर

Samachar Jagat | Friday, 31 Aug 2018 04:55:02 PM
31 august latest top10 news

देश जानना चाहता है कि PM मोदी और अनिल अंबानी के बीच क्या सौदा हुआ: राहुल

Country wants to know what deal between PM Modi and Anil Ambani: Rahul

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफ़ेल मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा और कहा कि देश जानना चाहता है कि 'मोदी और उद्योगपति अनिल अंबानी के बीच क्या सौदा हुआ है।’  उन्होंने संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) के गठन की मांग करते हुए कहा कि जेपीसी की जांच से स्पष्ट हो जाएगा कि राफ़ेल सौदे में क्या हुआ था।

राफ़ेल मामले मे जेपीसी पर जवाब देने के लिए वित्त मंत्री अरूण जेटली को 24 घंटे की 'समयसीमा’ देने वाले गांधी ने कहा, कि कल जेटली जी ने सवाल पूछे। मैंने अरुण जेटली के द्वारा नरेन्द्र मोदी जी को एक विकल्प दिया। विकल्प यह था कि जेपीसी बनाई जाए। इससे सब साफ हो जाएगा, सबको पता लग जाएगा कि राफ़ेल में क्या हुआ।

उन्होंने कहा, 'कि जेपीसी पर किसी भी विपक्षी दल को ऐतराज नहीं है। अरुण जेटली जी लंबे-लंबे ब्लॉग लिख रहे हैं, लेकिन जेपीसी के बारे में कुछ नहीं बोल रहे। अब मैं समझता हूं कि अरुण जेटली जी फंस गए हैं क्योंकि अनुमति तो नरेन्द्र मोदी जी को देनी है। जेटली जी ने पता नहीं पूछा या नहीं पूछा, शायद वो इतना घबरा गए हैं, कि पूछें भी ना। उन्होंने कहा, राफ़ेल बड़ा स्पष्ट मामला है। अनिल अंबानी जी ने हवाई जहाज कभी नहीं बनाया। वह 45,000 करोड़ रुपए के कर्जे में हैं। दूसरी तरफ, सरकारी कंपनी हिदुस्तान एयरोनॉटिक्स, 70 साल से हवाई जहाज बना रही हैं उस पर कोई कर्ज़ा नहीं है।

राहुल  गांधी ने कहा, कि सवाल यह है कि हवाई जहाज 520 करोड़ रुपए का था, उसको आपने 1,600 करोड़ रुपए में क्यों खरीदा? किसको फायदा पहुंचाने के लिए खरीदा? अब अरुण जेटली जी उल्टा मुझसे सवाल पूछ रहे हैं। पूरा देश जानना चाहता है कि अनिल अंबानी जी ने और मोदी जी ने क्या डील की है?

समाप्त हुआ चौथा बिम्स्टेक सम्मेलन

Fourth BIMSTEC Conference Ended

काठमांडो। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली द्बारा बिम्स्टेक की अध्यक्षता श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सीरीसेना को सौंपे जाने के साथ ही संगठन का चौथा शिखर सम्मेलन शुक्रवार को समाप्त हो गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिम्स्टेक के अन्य सदस्य देशों के शीर्ष नेताओं ने नेपाल की राजधानी काठमांडो में आयोजित इस 2 दिवसीय शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, '' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य नेताओं की बिम्स्टेक प्रक्रिया को पुनर्जीवित करने की प्रतिबद्धता के साथ यह शिखर सम्मेलन सफलतापूर्वक समाप्त हो गया। बिम्स्टेक के मौजूदा अध्यक्ष ओली ने काठमांडो घोषणापत्र का मसौदा पेश किया जिसे सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया।

समापन सत्र को संबोधित करते हुए ओली ने कहा कि शांतिपूर्ण, समृद्ध और स्थिर बंगाल की खाड़ी क्षेत्र के लक्ष्य को लेकर काठमांडो के घोषणापत्र में साझी बुद्धिमता, सोच और दृष्टि पूरी तरह से दिखती है। बिम्स्टेक के सदस्य देशों में ऊर्ज़ा सहयोग बढ़ाने के लिए बिम्स्टेक ग्रिड इंटरकनेक्शन की स्थापना के लिए सहमति पत्र पर भी हस्ताक्षर किया गया।

ओली ने श्रीलंका को बिम्स्टेक का नया मेजबान देश बनने पर बधाई देने के साथ ही इस शिखर सम्मेलन को सफल बनाने के लिए सदस्य देशों के शासन प्रमुखों/राष्ट्राध्यक्षों को बधाई दी। बिम्स्टेक क्षेत्रीय देशों का एक समूह है। भारत, बांग्लादेश, म्यामां, श्रीलंका, थाईलैंड, भूटान और नेपाल इसके सदस्य देश हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कल बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सीरीसेना से मुलाकात की थी। 

सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन लाल निशान पर बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes on red mark on the last trading day of the week

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये मामूली घटत - बढ़त के साथ बंद हुआ है। घटत - बढ़त के इस माहौल में जहां कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स लाल निशान पर बंद हुआ वहीं निफ्टी में मामूली बढ़त देखने को मिली। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 45.03 अंक यानि 0.12 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,645.07 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 0.032 अंक यानि 3.70 प्रतिशत की मामूली बढ़त के साथ 11,680.50 के स्तर पर बंद हुआ। 

गौरतलब है कि कल जब सुबह शेयर बाजार खुला तो उसमें गिरावट देखी गई, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने ही गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत की और कारोबार की समाप्ति पर भी घरेलू शेयर बाजार गिरावट के साथ लाल निशान पर बंद हुआ। काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 63.23 अंक यानि 0.16 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,659.70 अंक के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 32.83 अंक यानि 0.085 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,690.10 के स्तर पर बंद हुआ। 

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 25.95 अंक यानि 0.22 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,665.95 के स्तर पर खुला। सेंसेक्स की तरह निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर गिरावट हावी रही और ये 15.10 अंक यानि 0.13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,676.80 के स्तर पर बंद हुआ। 

मंदिर की बजाय ट्रिपल तलाक की पैरवी में जुटी है मोदी सरकार: तोगड़िया

Modi government is in  lobby of triple divorce instead of temple: Togadia

जौनपुर। अंतर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद (अहिप) के अध्यक्ष प्रवीण भाई तोगड़िया ने कहा कि अयोध्या में राममंदिर निर्माण का संकल्प लेकर सत्ता में आई केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार करोडो हिन्दू जनमानस की भावनाओं पर ध्यान देने की बजाय ट्रिपल तलाक की पैरवी में जुटी है।

तोगड़िया ने गुरूवार देर शाम यहां पत्रकारों से कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राममंदिर निर्माण के वादे के साथ 2014 में केन्द्र की सत्ता हासिल की थी मगर हर बार की तरह इस कार्यकाल में भी भाजपा इस संवेदनशील मुद्दे को भूल गई और अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं के दिल में जगह बनाने के लिए ट्रिपल तलाक की जोरशोर से पैरवी करने लगी।

उन्होने कहा कि बीजेपी सरकार बगैर वादे के जीएसटी और ट्रिपल तलाक कानून पारित करा सकती है लेकिन जिस वादे ने उसे सत्ता के शिखर पर पहुंचाया, उस राममंदिर निर्माण के वादे की उन्हें याद तक नही है। उन्होने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अगर मंदिर निर्माण के लिए मार्ग प्रशस्त नही कराएंगे तो क्या पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान मंदिर बनाने आएंगे।

उन्होंने साफ कहा कि सरकार किसी की भी हो राम मंदिर तो बनकर रहेगा। राम मंदिर निर्माण के लिए अहिप के कार्यकर्ता विजय दशमी के बाद 31 अक्टूबर को लखनऊ से अयोध्या कूच करेंगे। इससे पहले देश के 30 करोड़ हिन्दुओं का हस्ताक्षर लेकर शपथ पत्र भरवाने का काम किया जाएगा।

सितंबर के पहले सप्ताह में सभी बैंक खुले रहेंगे: सरकार

All banks will be open in the first week of September: Government

नई दिल्ली।  सोशल मीडिया में सितंबर के पहले सप्ताह में विभिन्न कारणों से बैंकों में छह दिन कामकाज नहीं होने को लेकर फैलायी जा रही अफवाह के मद्देनजर सरकार ने शुक्रवार को स्पष्ट किया कि बैंक केवल 02 सितंबर को रविवार के दिन और 08 सितंबर को दूसरे शनिवार के दिन बंद रहेंगे। शेष दिन बैंकिंग गतिविधियाँ आम दिनों की तरह संचालित होंगी।

वित्त मंत्रालय ने इस संबंध में यहाँ जारी बयान में कहा कि सोशल मीडिया में ऐसी अफवाह फैलाई जा रही है कि सितंबर के पहले सप्ताह में बैंक छह दिन के लिए बंद रहेंगे। इससे आम लोग बेवजह परेशान हो रहे हैं। यह स्पष्ट किया जा रहा है कि सितंबर के पहले सप्ताह में बैंक खुले रहेंगे और बैंकिंग गतिविधियाँ बिना किसी व्यवधान के जारी रहेंगी।

बैंक केवल 02 सितंबर को रविवार के दिन और 08 सितंबर को दूसरे शनिवार के दिन बंद रहेंगे। इसके अलावा 03 सितंबर को देश में सभी जगह छुट्टी नहीं है। इस दिन नेगोशिएबल इन्स्ट्यूमेंट्स एक्ट, 1881 के तहत केवल कुछ ही राज्यों में बैंक बंद रहेंगे

बैंक जिन दिनों बंद रहेंगे उन दिनों सभी राज्यों में एटीएम पूरी तरह काम करते रहेंगे। ऑनलाइन बैंङ्क्षकग सेवाओं पर भी कोई असर नहीं पड़ेगा। बैंकों से कहा गया है कि वे एटीएम मशीनों में निकासी के लिए पर्याप्त मात्रा में नकदी की उपलब्धता सुनिश्चित करें। उल्लेखनीय है कि 03 सितंबर को कृष्ण जन्माष्टी की वजह से कुछ राज्यों में अवकाश है। रिजर्व बैंक के अधिकारियों और कर्मचारियों के यूनाइटेड फोरम ने अपनी विभिन्न माँगों को लेकर 04 और 05 सितंबर को सामूहिक अवकाश पर जाने की घोषणा की है जिसे सोशल मीडिया में बैंक हड़ताल बताया जा रहा है।

संजय लीला भंसाली की फिल्म में पहली बार साथ नजर आएंगे सलमान और दीपिका

Salman and Deepika will be seen together for Sanjay Leela Bhansali's film

मुंबई। बॉलीवुड के जाने माने फिल्मकार संजय लीला भंसाली दबंग स्टार सलमान खान और डिंपल गर्ल दीपिका पादुकोण को लेकर फिल्म बना सकते हैं। संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत इस वर्ष प्रदर्शित हुई है। फिल्म में रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और शाहिद कपूर ने मुख्य भूमिका निभायी थी। संजय लीला भंसाली अब अपनी अगली फिल्म की तैयारी कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि भंसाली 'इंशा अल्लाह' नामक अगली फिल्म बनाने जा रहे हैं।

भंसाली यह फिल्म सलमान खान और दीपिका पादुकोण के साथ बनाएंगे। दीपिका पादुकोण और सलमान खान की जोड़ी अब तक किसी भी फिल्म में नजर नहीं आई है। गौरतलब है कि सलमान और दीपिका, भंसाली के बेहद करीबी हैं। भंसाली और सलमान ने'खामोशी','हम दिल दे चुके सनम' और 'सांवरिया' जैसी फिल्में की हैं।

वहीं दीपिका ने अपने करियर की तीन बेहतरीन फिल्में, गोलियों की रासलीला रामलीला, बाजीराव मस्तानी और पद्मावत, संजय लीला भंसाली के निर्देशन में ही की है। फिलहाल सलमान 'भारत' नामक फिल्म में व्यस्त हैं। इसके बाद वे 'दबंग 3' की शूटिंग शुरू करेंगे और फिर 'इंशा अल्लाह' की शूटिंग शुरू कर सकते हैं।

दीपिका और सलमान खान दोनों के फैंस के लिए ये वाकई दिलचस्प होगा कि बॉलीवुड की दो दमदार स्टार एक साफ फिल्मी पर्दे पर जोड़ी जमाते नजर आएंगे। वर्कफ्रंट की बात करें तो सलमान खान फिलहाल फिल्म भारत की शूटिंग में व्यस्त हैं। प्रियंका चोपड़ा के हटने के बाद इस फिल्म में सलमान के अपोजिट कैटरीना कैफ को लिया गया हैं। 

चौथे टेस्ट में अपनी गेंदबाजी से पहली पारी में इंग्लैंड की कमर तोडऩे वाले जसप्रीत बुमराह ने कही ये बात!

Jaspreet Bumrah said can not get five wickets in every session

साउथम्पटन। इंग्लैंड की बल्लेबाजी की नींव हिलाने वाले भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने इस बात से इनकार किया है कि चौथे टेस्ट में भारत ने अच्छी शुरूआत के बाद अपनी पकड़ ढीली कर दी। सैम कुरेन के 78 रन की मदद से इंग्लैंड ने पहली पारी में 246 रन बनाए जबकि एक समय स्कोर छह विकेट पर 86 रन था।

जसप्रीत बुमराह ने कहा है कि आप हर सत्र में पांच छह विकेट नहीं ले सकते। जसप्रीत बुमराह ने कहा है कि उन्होंने भी अच्छा खेला। सैम कुरेन और मोईन अली ने अच्छी साझेदारी की। कुरेन ने शुरू में संभलकर खेला। गेंद पुरानी होने पर स्विंग नहीं ले रही थी और सीम भी नहीं मिल रही थी। उन्होंने कहा है कि बाद में उन्होंने तेजी से रन बनाना शुरू किया।

ब्रेक के बाद हमने तय किया कि विकेट के लिए अतिरिक्त प्रयास करने होंगे। आपको लालच और अधिक अपेक्षाओं से बचना होता है। उनके छह विकेट 86 रन पर थे और वे 100 रन पर भी आउट हो सकते थे। हमें कोई दुख नहीं कि उन्होंने इतने रन बनाए। हम भी अच्छी बल्लेबाजी करके दबाव बना सकते हैं।जसप्रीत बुमराह ने कहा है कि सुबह काफी सीम और स्विंग मिल रही थी। हम भी पहले बल्लेबाजी करना चाहते थे। गेंद को हमारी अपेक्षा से अधिक मूवमेंट मिल रही थी। हमने सोचा नहीं था कि इतनी मदद मिलेगी। हमें खुशी है कि हम दोनों छोर से दबाव बना सके।

दक्षिण भारतीय फिल्म निर्देशक बी जया का दिल का दौरा पड़ने से हुआ निधन

South Indian film director B Jaya Passes Away

हैदराबाद। दक्षिण भारतीय फिल्मों की जानी मानी निर्देशक बी जया अब हमारे बीच नहीं रही हैं। बी जया  का गुरूवार की रात हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया हैं। जानकारी के मुताबिक उनका निधन दिल का दौरा पड़ने से हुआ हैं। बी जया की उम्र 54 वर्ष थी।

जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि उनकी तबीयत पिछले काफी समय से ठीक नहीं थी। उनके निजी जिंदगी पर नजर डाले तो जया ने मद्रास विश्वविद्यालय से अंग्रेजी साहित्य में स्नातकोत्तर थी। उन्होंने अपने करियर की शुरूआत में तेलुगू भाषी समाचार पत्र के लिए एक रिपोर्टर और स्तंभकार के तौर पर भी काम किया था। उन्होंने मद्रास विश्वविद्यालय के पत्रकारिता में डिप्लोमा कोर्स भी किया था और बाद में अन्नामलाई विश्वविद्यालय से मनोविज्ञान में एम ए किया था।

निर्देशन के क्षेत्र में जया ने 2003 में कदम रखा। जया ने छांतीगाडु फिल्म का निर्देशन कर अपने करियर की शुरूआत की थी। इस फिल्म के बाद उन्होंने कई फिल्मों का निर्देशन भी किया। इस लिस्ट में  उनकी प्रेमीकुलू, गुंड़म्मा गारी मानावाडू, सवाल, लवली और वैशाकम जैसी फिल्मों शामिल हैं। जिनके निर्देशन के लिए उन्हें याद किया जाएगा। फिल्म जगत के लोगों ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उनके परिवार में पति बी ए राजू हैं।  

बिया ने संयुक्त राष्ट्र की मदद से फंसे सैकड़ों शरणार्थियों को निकाला

Libya extends hundreds of refugees stranded with the help of the United Nations

त्रिपोली। लीबिया सरकार ने देश के विभिन्न गुटों के संघर्ष के कारण सरकारी निगरानी केंद्रों में फंसे सैंकड़ों शरणार्थियों को संयुक्त राष्ट्र की मदद से निकालकर किसी अन्य जगह पर स्थानांतरित कर दिया। संयुक्त राष्ट्र और सहायता सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

एक सहायता सूत्र ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र समर्थित सरकार ने राजधानी त्रिपोली के दक्षिण-पूर्वी आइन जारा क्षेत्र के दो केंद्रों से इन शरणार्थियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया।  संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी यूएनएचसीआर ने अपने बयान में कहा कि उसने अन्य एजेंसियों और अवैध शरणार्थी प्रतिरोधक विभाग के साथ मिलकर इन शरणार्थियों को स्थानांतरित किया है। 

एक अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठन ने कहा इन शरणार्थियों में मुख्यत: इथोपिया, सोमालिया और इरिट्रिया से हैं। इनको युद्ध क्षेत्र से निकालकर अलग-अलग निगरानी केंद्रों में ले जाया गया है। आइन जारा में कुछ शरणार्थी अभी भी मदद का इंतजार कर रहे हैं। 

इन शरणार्थियों के रक्षक गुटों के संघर्ष के कारण इनको छोड़कर भाग गए थे जिसके कारण करीब 30 शरणार्थियों की मौत हो गयी थी। लीबिया में वर्ष 2011 में नाटो समर्थित क्रांति से तानाशाह मुअम्मर गद्दाफी के सत्ता से बेदखल किये जाने के बाद यहां विभिन्न गुट सत्ता के लिए संघर्षरत है। 

14 लाख छात्रों को दोपहर का खाना वितरित करेगा इस्कॉन

Samachar Jagat | Friday, 31 Aug 2018 03:49:55 PM

ISKCON will distribute lunch to 14 million students

मुंबई। इंटरनेशनल सोसायटी फॉर कृष्णा कांसियसनेस ( इस्कॉन ), विभिन्न सरकारी और महानगर पालिका की ओर संचालित स्कूलों में लाखों विद्यार्थियों को दोपहर का खाना उपलब्ध करा रहे हैं और अब अपनी क्षमता बढ़ाते हुए प्रतिदिन 14 लाख विद्यार्थियों को दोपहर का खाना उपलब्ध कराएंगे। अन्नामृता फाउंडेशन के निदेशक राधाकृष्ण दास के अनुसार भारत में सबसे बड़ी नई रसोई मुंबई के माहुल में बनाई गई है। पूरे देश में कुल 21 रसोइयां हैं और इसी श्रृखंला में मुंबई में 21वीं रसोई बनाई गई है। 

उन्होंने कल कहा कि यह रसोई नौ हजार वर्ग फुट में बनी है और आधुनिक और उच्च तकनीक से परिपूर्ण है। यहां पर तीव्र गति से उच्च श्रेणी का खाना बना कर बच्चों को दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारी सभी रसोइयां आईएसओ द्वारा
प्रमाणित है। अन्नामृता फाउंडेशन को इस्कॉन फूड रिलीफ फाउंडेशन के नाम से भी जाना जाता है। उन्होंने कहा कि उन्हें इस कार्य के लिए पीरामल फाउंडेशन, सहाचरी फाउंडेशन, एसबीआई म्युच्युल फंड, आईडीबीआई बैंक लिमिटेड, टैक्सिस ग्लोबल लिमिटेड, सिडीकेट बैंक और ओएनजीसी समेत अन्य कार्पोरेट मदद करते हैं।

ताडदेव, मीरा भायंदर, पालघर, निगडी, वाडा, औरंगाबाद, गुड़गांव, दिल्ली, फरीदाबाद, कुरुक्षेत्र, पलवल, तिरुपति, नेल्लोर, राजामुद्री, कडप्पा, रंगा नारा गड्डा, जमशेदपुर, जयपुर और कोलकाता इत्यादि सहित देश भर में विभिन्न अन्नामृता के केंद्र बनाए गए हैं और पहले से ही 12 लाख बच्चों को दोपहर का मुफ्त भोजन उपलब्ध करा रहा है जो अब बढा कर 14 लाख बच्चों को दोपहर का भोजन मुफ्त दिया जाएगा।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.