दो साल जेल में रह चुके हैं राष्ट्रपति शासन लगवाने वाले राज्यपाल कोश्यारी, ये थी वजह?

Samachar Jagat | Tuesday, 12 Nov 2019 07:38:21 PM
3643939593810176

महाराष्ट्र में आखिरकार कोई भी दल सरकार बनाने में नाकाम हो गया। सभी दलों को मौका मिला लेकिन पर्याप्त संख्याबल कोई नहीं जुटा सका। इसके बाद राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बड़ा फैसला ले लिया और राज्य में राष्ट्रपति शासन लगवा दिया। अपने इस फैसले से वो सुर्खियों में आ गए हैं। आइए जानें आखिर राज्यपाल का राजनीतिक सफर क्या है और वो दो साल जेल में क्यों रहे थे।

बागेश्वर में हुआ था जन्म

भगत सिंह कोश्यारी साल 1942 में पैदा हुए थे। उनका जन्म उत्तराखंड के बागेश्वर जिले में हुआ था। कोश्यारी छात्र जीवन से ही राजनीति में आ गए थे। वो शुरू से ही संघ से जुड़े रहे और भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता रहे। कोश्यारी भाजपा सरकार में उत्तराखंड का सीएम पद भी संभाल चुके हैं। शुरुआती पढ़ाई अल्मोड़ा में पूरी करने के बाद उन्होंने आगरा विवि से अंग्रेजी साहित्य में पढ़ाई की है।

जानें क्यों दो साल जेल में रहे थे

छात्र जीवन में ही राजनीति में आ गए कोश्यारी दो साल जेल में भी रह चुके हैं। इसकी वजह आपातकाल था। साल 1975 में आपातकाल के दौरान कोश्यारी ने इंदिरा गांधी के फैसले का विरोध किया था। इस वजह से उनको करीब दो साल जेल में रहना पड़ा था। 23 मार्च 1977 को उनको छोड़ा गया था। इसी के बाद से उनका राजनीति में सितारा चमका था।

दोस्तो आपको क्या लगता है कोश्यारी ने कैसा फैसला लिया है, कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें। हर अपडेट के लिए आप मुझे फॉलो जरूर करें। धन्यवाद।।

(न्यूज सोर्स- aajtak.indiatoday.in)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.