05 अगस्त: एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Sunday, 05 Aug 2018 05:11:11 PM
5 august latest top ten news

सुषमा स्वराज ने ताशकंद में लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि अर्पित की

Sushma Swaraj paid tribute to Lal Bahadur Shastri in Tashkent

ताशकंद। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज उज्बेक राजधानी में भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के स्मारक पर उनकी आवक्ष प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। उज्बेकिस्तान के पहले दौरे पर कल यहां पहुंचीं स्वराज आज सुबह शास्त्री स्मारक गयीं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने मंत्री के फोटो के साथ ट्वीट किया, ''विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ताशकंद में स्वतंत्रता सेनानी और भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की।" स्मारक पर स्वराज याकोव शापीरो से भी मिलीं जिन्होंने शास्त्री की आवक्ष कांस्य प्रतिमा बनायी है।

ताशकंद में जनवरी, 1966 में ताशकंद समझौता पर दस्तखत के बाद शास्त्री की मृत्यु हो गयी थी। इस समझौते के साथ ही भारत और पाकिस्तान के बीच लड़ाई का औपचारिक अंत हुआ था। शास्त्री की याद में यहां यह स्मारक भी बनाया गया है। कुमार ने ट्वीट किया, ''विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (श्रद्धांजलि कार्यक्रम से पहले) उज्बेकिस्तान की लेजिस्टिव एसेम्बली ऑफ ऑली मजलिस (वहां की संसद) के अध्यक्ष नूरदिनजोन इस्मोइलोव तथा संसद में विभिन्न गुटों के प्रतिनिधियों से मिलीं। दोनों पक्षों ने दोनों देशों के लोगों के बीच आपसी संबंध बढ़ाने में संसद की भूमिका पर चर्चा की।"

प्रवक्ता ने ट्विटर पर लिखा, ''उज्बेकिस्तान में भारतीय आमों का प्रचाार किया। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ताशकंद में आम निर्यातकों के साथ मिलकर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित आम महोत्सव का उद्घाटन किया। निर्यातक फल बाजार जायेंगे और फल कारोबारियों से मिलेंगे।" कुमार के अनुसार स्वराज ने ताशकंद में उज्बेक भारतीय विद्वानों, भहदी शिक्षकों, विद्यार्थियों, आईटीईसी और आईसीसीआर के पूर्व विद्याॢथयों से भेंट की। ये सभी अकादमिक विनियमों एवं दोनों देशों के लोगों के बीच आपसी संबंध अहम भूमिका निभाते हैं।

विदेश मंत्री ने उज्बेकिस्तान में सर्वत्र भारतीय संस्कृति की उपस्थिति की प्रशंसा की। वह कल उज्बेकिस्तान के प्रधानमंत्री अब्दुल्ला एरीपोव से मिलीं और द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की। भारत और उज्बेकिस्तान रणनीतिक साझेदार हैं और उनके बीच मजबूत ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक संबंध हैं। स्वराज तीन देशों की अपनी यात्रा के अंतिम चरण में यहां पहुंची थीं। इससे पहले वह किरगजस्तान और कजाखस्तान गयी थीं।

आर ए एस प्री परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्न

RAS Pre Exhibition Peaceful Finale

जयपुर। राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से आज आयोजित राजस्थान प्रशासनिक सेवा प्री (आरएएस प्री 2018) की परीक्षा प्रदेशभर में 1454 केन्द्र पर शांतिपूर्वक संपन्न हुई। परीक्षा के मद्देनजर आज भी नेट सेवायें बंद रहीं जिसके कारण सवेरे नौ बजे से दोपहर एक बजे तक लोग परेशान रहे। परीक्षा केंद्रों पर अभ्यर्थियों की गहनता से जांच की गई। परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न होने पर आयोग ने भी राहत की सांस ली है। राजधानी जयपुर में 327 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा हुई। यहां 1.29 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी पंजीकृत थे।

जयपुर व अजमेर समेत प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों, उपखंड और तहसील मुख्यालयों पर 1454 परीक्षा केंद्रों पर यह परीक्षा सुबह 10 बजे शुरू हो गई। प्रदेश के किसी भी जिले से किसी प्रकार की अव्यवस्था की शिकायत आयोग में नहीं पहुंचीं। आयोग सचिव पी सी बेरवाल ने बताया कि प्रदेशभर से परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न होने का फीड बैक आयोग को मिला है। परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थियों के पहुंचने का सिलसिला सुबह आठ बजे पहले ही शुरू हो गया था। 

आयोग द्बारा तय किए गए ड्रेस कोड से अलग नजर आए अभ्यर्थी सुरक्षाकर्मियों व सेंटर स्टाफ के खास निशाने पर रहे, कुछ स्थानों पर निर्घारित ड्रेस कोड में नही पहुंचे अभ्यर्थियों को परेशानी का सामना करना पडा। अजमेर के जोंस गंज स्थित एक परीक्षा केंद्र पर महिला अभ्यर्थी पूरी बांह की कमीज पहनकर पहुंचीं जहां स्टाफ ने उन्हें केंद्र में प्रवेश देने से मना कर दिया। इस पर महिला अभ्यर्थी ने अपने ही हाथ से कमीज की आधी आस्तीन काटी, इसके बाद उसे परीक्षा में बैठने के लिए केंद्र में जाने दिया गया। कुछ और केंद्रों से भी इस तरह की शिकायतें मिली हैं। एक परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थी बनियान में परीक्षा देता मिला है।

प्रशासन की ओर से परीक्षा के एक घंटे पूर्व यानी 9 बजे से इंटरनेट सेवा बंद करने की घोषणा की गई थी, लेकिन अजमेर में इंटरनेट सेवा 10 बजे से बंद हुई। नेट बंद रहने से जनजीवन पर व्यापक असर पड़ा जिससे लोग परेशान रहे। जयपुर, अजमेर, कोटा, जोधपुर, झुंझुनूं, सीकर, अलवर, टोंक, भीलवाड़ा, नागौर और दौसा जिलों में सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक करीब 4 घंटे तक इंटरनेट सेवा बंद रहीं। इससे पहले 14-15 जुलाई को कांस्टेबल भर्ती परीक्षा की वजह से इंटरनेट बंद रखा गया था।

बॉलीवुड की सुपरहिट फिल्म सरफरोश के सीक्वल में नजर आएंगे जॉन अब्राहम!

John Abraham will be seen in the sequel of Bollywood superhit film Sarfarosh

मुंबई। बॉलीवुड के माचो मैन जॉन अब्राहम की फिल्म सत्यमेव जयते रिलीज के लिए तैयार हैं। आपको बता दें कि जॉन अब्राहम की ये फिल्म इसी महीने स्वतंत्रता दिवस पर रिलीज होने जा रही हैं। आपको बता दें कि जॉन की फिल्म सत्यमेव जयते का बॉक्स ऑफिस पर अक्षय कुमार की फिल्म गोल्ड से मुकाबला होने जा रहा हैं

खबरों की मानें तो जॉन अब्राहम सिल्वर स्क्रीन पर सुपरहिट फिल्म सरफरोश के सीक्वल में काम करते नजर आ सकते हैं। वर्ष 1999 में प्रदर्शित फिल्म सरफरोश में आमिर खान ने मुख्य भूमिका निभायी थी। फिल्म में आमिर के अलावा सोनाली बेंद्रे और नसीरुद्दीन शाह मुख्य भूमिका में नजर आए थे।

इस फिल्म का सीक्वल बनने जा रहा है लेकिन इस फिल्म के लीड रोल में आमिर नहीं बल्कि जॉन अब्राहम नजर आयेंगे। फिल्म के डायरेक्टर जॉन मैथ्यू ने इस बार आमिर की जगह जॉन को लेने का फैसला किया है। जॉन अबाहम ने कहा,''जॉन मैथ्यू मदान और मैं, हम दोनों इस फिल्म को को-प्रोड्यूस कर रहे हैं। अभी हम स्क्रिप्ट पर काम कर रहे हैं और हां इसे मैं ही कर रहा हूं।

वहीं ये फिल्म अगले साल तक फ्लोर पर जाने की है। मैं इस फिल्म को लेकर काफी उत्साहित हूं। मैं आमिर खान को पसंद करता हूं। मैं उनका बहुत बड़ा फैन हूं। ये एक चुनौती है लेकिन ये अलग किरदार है, अलग कहानी है हालांकि इसकी थीम एक सी है, और ये बहुत मजेदार होने वाली है।

सेंसेक्स की शीर्ष 10 में 5 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 77,785 करोड़ रुपए बढ़ा

Market capitalization of 5 companies in top 10 of Sensex up 77,785 crores

नई दिल्ली। सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों में से पांच का बाजार पूंजीकरण ( मार्केट कैप ) पिछले सप्ताह 77,784.85 करोड़ रुपए बढ़ गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज इनमें सबसे अधिक लाभ में रहने वाली कंपनी रही। शीर्ष कंपनियों में लाभ में रहने पाली कंपनियों में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, रिलायंस इंडस्ट्रीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईटीसी और भारतीय स्टेट बैंक रहीं। जबकि एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, इन्फोसिस, मारुति सुजुकी इंडिया और कोटक महिंद्रा बैंक को नुकसान उठाना पड़ा।

आलोच्य सप्ताह के दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 30,010.92 करोड़ रुपए बढ़कर 7,45,782.95 करोड़ रुपए पर, हिंदुस्तान यूनिलीवर का 22,057.61 करोड़ रुपए बढ़कर 3,80,856.49 करोड़ रुपए पर, टीसीएस का 13,112.87 करोड़ रुपए बढ़कर 7,57,043.31 करोड़ रुपए पर, भारतीय स्टेट बैंक का 10,709.5 करोड़ रुपए बढ़कर 2,66,488.18 करोड़ रुपए पर और आईटीसी का 1,893.95 करोड़ रुपए बढ़कर 3,71,153.10 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

हालांकि, इस दौरान एचडीएफसी बैंक का बाजार मूल्यांकन 21,780.42 करोड़ रुपए गिरकर 5,60,634.32 करोड़ रुपए पर आ गया। एचडीएफसी का बाजार पूंजीकरण 11,848.66 करोड़ रुपए कम होकर 3,33,714.86 करोड़ रुपए पर, मारुति सुजुकी का 3,839.44 करोड़ रुपए लुढ़ककर 2,77,561.73 करोड़ रुपए पर, इन्फोसिस का 2,282.41 करोड़ रुपए घटकर 2,97,936.80 करोड़ रुपए पर और कोटक महिंद्रा बैंक का 318.15 करोड़ रुपए कम होकर 2,49,575.74 करोड़ रुपए पर आ गया।

शीर्ष 10 कंपनियों में टीसीएस पहले स्थान पर रही। इसके बाद रिलायंस इंडिया, एचडीएफसी बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईटीसी, एचडीएफसी, इन्फोसिस, मारुति सुजुकी, भारतीय स्टेट बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक का स्थान रहा। पिछले सप्ताह सेंसेक्स 219.31 अंक यानी 0.59 प्रतिशत बढ़कर 37,556.16 अंक पर पहुंच गया।

आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे कोहली

Indian captain Virat Kohli tops ICC rankings

दुबई। इंग्लैंड के खिलाफ एजबस्टन में पहले क्रिकेट टेस्ट में शानदार शतक जड़ने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली टेस्ट बल्लेबाजों की आज जारी नवीनतम आईसीसी रैंकिग में शीर्ष पर पहुंच गए। कोहली आईसीसी रैंकिग में शीर्ष पायदान पर जगह बनाने वाले कुल सातवें भारतीय बल्लेबाज हैं। वह सचिन तेंदुलकर (जून 2011) के बाद पहले भारतीय बल्लेबाज हैं जो यह उपलब्धि हासिल करने में सफल रहे। भारत की 31 रन की हार के दौरान कोहली ने 149 और 51 रन की पारियां खेलीं जिससे उन्हें 31 अंक मिले और वह 32 महीने तक शीर्ष बल्लेबाज के रूप में स्टीव स्मिथ के राज को खत्म करने में सफल रहे। कोहली 67 टेस्ट के अपने करियर में पहली बार बल्लेबाजी रैंकिग में शीर्ष पर पहुंचे हैं।

दिसंबर 2015 से शीर्ष स्थान पर काबिज स्मिथ पर अब कोहली ने पांच अंक की बढ़त बना ली है लेकिन दुनिया के शीर्ष रैंकिंग वाले बल्लेबाज के रूप में श्रृंखला का अंत करने के लिए उन्हें बाकी मैचों में अपनी फार्म बरकरार रखनी होगी। तेंदुलकर जनवरी 2011 में दक्षिण अफ्रीका के जैक कालिस के साथ दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज बने थे लेकिन जून 2011 में जमैका टेस्ट के बाद वह दूसरे स्थान पर खिसक गए क्योंकि उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टेस्ट की श्रृंखला में हिस्सा नहीं लिया था।

कोहली और तेंदुलकर के अलावा राहुल द्रविड़, गौतम गंभीर, सुनील गावस्कर, वीरेंद्र सहवाग और दिलीप वेंगसरकर अन्य भारतीय बल्लेबाज हैं जिन्होंने अपने करियर के दौरान नंबर एक रैंकिंग हासिल की। कोहली 934 अंक के साथ भारत के शीर्ष रैंकिंग बल्लेबाज हैं। वह अंकों की सर्वकालिक सूची में कुल 14वें स्थान पर हैं। कोहली ने एजबस्टन टेस्ट की शुरुआत 903 अंक के साथ की थी और वह गावस्कर से 13 अंक पीछे थे लेकिन उन्होंने हाल आफ फ़ेम में शामिल इस महान खिलाड़ी पर अब 18 अंक की बढ़त बनाई है। कोहली अगर लार्ड्स में दूसरे टेस्ट में भी अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो सर्वाधिक अंक के मामले में मैथ्यू हेडन, कैलिस और एबी डिविलियर्स को पछाड़कर शीर्ष 10 में शामिल हो सकते हैं। इन तीनों के सर्वाधिक अंक 935 हैं।

इस सूची में शीर्ष दो स्थान पर आस्ट्रेलिया के महान डोनाल्ड ब्रैडमैन (961) और स्टीव स्मिथ (947) शामिल हैं। पहले टेस्ट के दौरान हालांकि अन्य भारतीय बल्लेबाजों को नुकसान उठाना पड़ा है। लोकेश राहुल एक स्थान के नुकसान से 19वें जबकि अजिक्य रहाणे तीन स्थान के नुकसान से 22वें पायदान पर हैं। मुरली विजय और शिखर धवन क्रमश: दो और एक स्थान के नुकसान से संयुक्त 25वें स्थान पर हैं।

इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जानी बेयरस्टा चार स्थान के फायदे से वेस्टइंडीज के क्रेग ब्रेथवेट के साथ संयुक्त 12वें स्थान पर हैं। एलिस्टेयर कुक चार स्थान के नुकसान से 17वें जबकि बेन स्टोक्स पांच स्थान के नुकसान से 33वें स्थान पर खिसक गए हैं। गेंदबाजों की सूची में भारतीय आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन 14 अंक हासिल करने के बाद चौथे स्थान पर चल रहे दक्षिण अफ्रीका के वर्नन फिलेंडर से सिर्फ एक अंक पीछे हैं। उन्होंने एजबस्टन टेस्ट में 62 रन देकर चार और 59 रन देकर तीन विकेट चटकाए।

इशांत शर्मा को 19 अंक मिले और वह 25वें नंबर पर काबिज भुवनेश्वर कुमार से 13 अंक पीछे हैं। मोहम्मद शमी दो स्थान के नुकसान से 19वें पायदान पर हैं। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्राड अब एक स्थान के नुकसान से 13वें पायदान पर हैं। जेम्स एंडरसन ने अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखा है लेकिन उनके और दक्षिण अफ्रीका के कागिसो रबादा के बीच अब सिर्फ दो अंक का अंतर है।

स्टोक्स मैच में छह विकेट चटकाने के बाद चार स्थान के फायदे से 27वें पायदान पर पहुंच गए हैं। इंग्लैंड के 1000 वें पुरुष टेस्ट में मैच आफ द मैच बने सैम कुरेन बल्लेबाजी रैंकिंग में 152वें स्थान से 72वें जबकि गेंदबाजी रैंकिंग में 49 स्थान के फायदे से 62वें पायदान पर पहुंच गए हैं। वह आलराउंडरों की सूची में 58 स्थान के फायदे से 37वें पायदान पर हैं। उन्होंने मैच में 24 और 63 रन की पारियां खेलने के अलावा कुल 92 रन देकर पांच विकेट चटकाए।

देशों से प्रत्यर्पण संधि में दहेज उत्पीडऩ को शामिल किया जाए: संसदीय समिति

Dowry harassment should be included in extradition treaty from countries: Parliamentary Committee

नई दिल्ली। संसद की एक समिति ने कहा हे कि भारत में दहेज उत्पीडऩ दंडनीय अपराध है लेकिन दुनिया के अधिकतर देशों में कानून में ऐसी कोई अवधारणा नहीं है, ऐसे में सरकार को 'दहेज के लिये उत्पीडऩ' को प्रत्यर्पण संधि में शामिल करना चाहिए। लोकसभा में हाल ही में पेश विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय से संबंधित याचिका समिति की रिपोर्ट में भचता जताई गई है कि भारत में उत्पीडऩ के कुल मामलों में से दहेज उत्पीडऩ के मामले सबसे अधिक हैं।

समिति यह जानकर अचंभित है कि दहेज उत्पीडऩ भारत में कानून के अंतर्गत दंडनीय अपराध है लेकिन आस्ट्रेलिया सहित विश्व के अधिकतर देशों में वैधानिक न्याय शास्त्र में न तो ऐसी कोई अवधारणा है और न ही कानून के अंतर्गत अपराध है। समिति ने सिफारिश की है कि प्राधिकार इस पहलू पर गंभीरता से विचार करे और एनआरआई पुरूष से शादी करने वाली पीडि़त महिला को राहत देने के लिये ठोस कदम उठाये जाएं।

रिपोर्ट में समिति ने कहा कि भारतीय परिदृश्य को ध्यान में रखते हुए आस्ट्रेलिया सहित अन्य देशों में दहेज के लिये उत्पीडऩ मामले को न्यायोचित ठहराने के लिये प्रत्यर्पण संधि में 'दहेज के लिये उत्पीडऩ' के मुद्दे को भी शामिल किया जाए। समिति ने इस बात पर भचता व्यक्त की है कि अप्रवासी भारतीय पुरूषों से शादी करने वाली प्रताडि़त महिलाओं के मामलों से निपटने के लिये विदेश मंत्रालय, गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस के बीच संवाद एवं समझ की कमी है जिससे प्रत्यर्पण अनुरोध में विलंब हो जाता हैं।

इसके कारण भगोड़े को प्रत्यर्पण से बचने या प्रत्यर्पण प्रक्रिया में विलंब करने का अवसर मिल जाता है। सिफारिश में समिति ने कहा है कि ऐसे मामलों से निपटने के लिए चूकरहित और त्वरित नेटवर्क बनाया जाए तथा इस श्रेणी में आने वाले मामलों की निगरानी के लिये समुचित कदम उठाये जाएं।

इजरायल में द्रुज समुदाय का प्रदर्शन

Demographics of the Druze community in Israel

तेल अवीव। इजरायल के शहर तेल अवीव में द्रुज समुदाय के हजारों लोगों ने जमा होकर प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की सरकार और इजरायल को यहूदी राष्ट्र घोषित करने वाले कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया। द्रुज प्रदर्शनकारियों ने शनिवार को तेल अवीव के रोबिन चौराहे पर जमा होकर द्रुज झंडे फहराये और इजरायल को यहूदी राष्ट्र घोषित करने वाले कानून को निरस्त करने की मांग की।

द्रुज के आध्यामिक नेता शेख मुवाफक तरिफ ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा, कोई हमें वफादारी का उपदेश नहीं दे सकता। सेना का कब्रिस्तान इसका गवाह है। हमारी वफादारी के बावजूद सरकार हमें बराबर नागरिक नहीं मानती। हमने जिस तरह सैन्य अधिकारों की लड़ाई लड़ी ठीक वैसे ही समानता और सम्मान की लड़ाई लडऩे के लिए हम दृढ़ संकल्प हैं।

इजरायल को यहूदी राष्ट्र घोषित करने वाले कानून के खिलाफ अल्पसंख्यक समुदाय द्रुज के लोगों में रोष है। श्री नेतन्याहू इस कानून को लेकर अपनी सरकार का बचाव कर रहे हैं। उनका कहना है कि देश में केवल यहूदियों को ही आत्म निर्णय का अधिकार है। श्री नेतन्याहू ने अरबी भाषा के आधिकारिक भाषा के दर्जे का समाप्त कर दिया है। इसे लेकर उनको देश के भीतर और बाहर कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है।

द्रुज समुदाय इस कानून के पारित होने के बाद अपने आप को छला हुआ महसूस कर रहा है। इस कानून के आने से द्रुक इजरायल में दोयम दर्जे के नागरिक बनकर रह गये हैं। इजरायल में द्रुज की संख्या 1,20,000 है जो आबादी का महज दो प्रतिशत है। द्रुज अरब समुदाय के संबंध रखने वाला एक अल्पसंख्यक समूह है। इनकी सबसे ज्यादा संख्या लेबनान और सीरिया में है।

कच्चा तेल की मौजूदा कीमतें देश-कंपनी के लिए अनुकूल: ऑयल इंडिया सीएमडी

Current crude oil prices are favorable to the company: Oil India CMD

गुवाहाटी। सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी ऑयल इंडिया लिमिटेड ने कहा कि कच्चे तेल की मौजूदा कीमत उसके और देश दोनों के लिए अनुकूल है। कंपनी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक ( सीएमडी ) उत्पल बोरा ने कहा, भारत और हमारी कंपनी दोनों के लिए 60 से 65 डॉलर प्रति बैरल की कीमत अनुकूल है क्योंकि उत्पादन लागत का अंतर तब तुलनात्मक काफी अच्छा रहता है। यदि कीमत 65 से 70 डॉलर प्रति बैरल हो तो हम 63 डॉलर का उत्पादन लागत उगाह सकते हैं।

बोरा ने कहा कि जब कच्चा तेल की अंतरराष्ट्रीय कीमतें बढ़ती हैं तो यह कंपनी के लिए फायदे की स्थिति होती है लेकिन यह देश के लिए ठीक नहीं होता क्योंकि आपूर्ति का 80 प्रतिशत आयातित होता है। कच्चे तेल के भविष्य के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, कोई भी विशेषज्ञ यह अनुमान नहीं लगा सकता है कि यह कितना गिरेगा या चढ़ेगा क्योंकि कच्चा तेल की कीमत में काफी उतार-चढ़ाव होता है। यह कुछ साल पहले 148 डॉलर तक चढ़ गया था और फरवरी 2014 में गिरकर 27 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया था।

कंपनी के विदेश में निवेश के बारे में बोरा ने कहा कि रूसी तेल क्षेत्र में दो परियोजनाओं से मुनाफा हो रहा है और निवेश से आय मिल रही है। बोरा ने असम का जिक्र करते हुए कहा कि गुवाहाटी तथा इसके आस-पास के इलाकों सिलचर और हैलाकांडी शहरों में पाइप से गैस की आपूर्ति के लिए कंपनी ने इंडियन ऑयल कारपोरेशन, गेल और नुमालीगढ़ रिफाइनरी के साथ मिलकर संयुक्त उपक्रम बनाया है। उन्होंने कहा कि प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए सीएनजी स्टेशन भी लगाए जा रहे हैं।

सलमान खान की विदेश जाने की स्थाई अनुमति याचिका खारिज

Salman's permanent leave petition to go abroad rejected

जोधपुर। राजस्थान के जोधपुर में अदालत ने अभिनेता सलमान खान की विदेश जाने के लिए स्थाई अनुमति प्रदान करने की याचिका को  खारिज कर दिया हैं। जिला एवं सेशन न्यायाधीश ग्रामीण चंद्र प्रकाश सोनगरा ने सीजेएम ग्रामीण के आदेश में हस्तक्षेप करने से इंकार करते हुए सलमान की विदेश जाने की अनुमति देने के लिए दायर याचिका को अब खारिज कर दिया गया हैं।

इस मामले में एक दिन पहले ही बहस के दौरान सलमान के अधिवक्ताओं ने अदालत में प्रार्थना पत्र पेश कर सीजेएम ग्रामीण द्वारा सलमान पर बिना अनुमति विदेशी यात्रा करने पर लगाई गई रोक को हटाकर विदेश यात्रा की स्थाई अनुमति देने की मांग की थी। इस पर शुक्रवार को सनुवाई अधूरी रही थी। सलमान को हर बार विदेश यात्रा पर जाने के लिए न्यायालय से अनुमति लेनी होगी।

सलमान को अगले दो महीनों में दो बार विदेश यात्रा पर जाना है। इसके लिए अनुमति हासिल करने के लिए आवेदन प्रस्तुत किया गया है, जिस पर न्यायालय अपना फैसला देगा। काला हिरण शिकार मामले में सीजेएम (ग्रामीण) अदालत ने सलमान को दोषी करार देते हुए पांच साल की सजा सुनाई थी। बाद में दो दिन जेल में रहने के बाद सलमान को जमानत मिल गई थी। जमानत देने के दौरान अदालत की बिना अनुमति के सलमान के विदेश जाने पर रोक लगा दी गई थी।

राजस्थान में चुनाव बाद तय होगा मुख्यमंत्री, राहुल के नेतृत्व में लड़ा जाएगा चुनाव: कांग्रेस प्रभारी

Samachar Jagat | Sunday, 05 Aug 2018 11:45:44 AM

Elections in Rajasthan will be decided after the Chief Minister, Rahul will be contesting election: Congress incharge

नई दिल्ली। राजस्थान में मुख्यमंत्री पद की दावेदारी को लेकर गुटबाजी की खबरों के बीच कांग्रेस महासचिव एवं राज्य प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा है कि आगामी विधानसभा चुनाव राहुल गांधी के नेतृत्व में लड़ा जाएगा और मुख्यमंत्री का फैसला चुनाव के बाद होगा। पांडे ने पूर्व केंद्रीय मंत्री लालचंद कटारिया के एक हालिया बयान की ओर इशारा करते हुए यह भी कहा कि पार्टी का अनुशासन तोडऩे वालों को भविष्य में कोई जिम्मेदारी नहीं दी जाएगी।

उन्होंने कहा, ''चुनाव से पहले मुख्यमंत्री पद के लिए कोई चेहरा पेश नहीं होगा। चुनाव राहुल गांधी के नेतृत्व में होगा। इसमें सभी नेताओं का सामूहिक योगदान होगा।'' एक अन्य सवाल के जवाब में पांडे ने कहा, ''जनता कंाग्रेस को जिताने का मन बना चुकी है। ऐसे में चुनाव में जीत के बाद मुख्यमंत्री का फैसला होगा। इसमें कोई सन्देह नहीं है।'' दरअसल, हाल के दिनों में ऐसी खबरें आईं हैं जिनसे यह संकेत मिलता है कि अशोक गहलोत, सचिन पायलट और सीपी जोशी तीनों मुख्यमंत्री के पद की दबी जुबान में दावेदारी कर रहे हैं।

पिछले दिनों कटारिया ने गहलोत को मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित करने की वकालत करते हुए सार्वजनिक तौर पर कहा था कि यदि चुनाव में प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट को नेतृत्व सौंपा गया तो कांग्रेस राजस्थान में जीती-जिताई बाजी हार जाएगी। कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी ने कहा, ''पिछले कुछ दिनों में मीडिया में कुछ खबरें आई हैं। मैं इतना कहना चाहता हूं कि पार्टी लाइन के खिलाफ बयानबाजी करने वाले पार्टी में किसी पद और टिकट के हकदार नहीं होंगे।''

बसपा के साथ गठबंधन के सवाल पर पांडे ने कहा, ''इस बारे में अगले 8-10 दिनों में जिला और विकासखण्ड इकाइयों की तरफ से जमीनी स्थिति की आकलन रिपोर्ट आ जायेगी जिसके बाद गठबंधन के संदर्भ में फैसला किया जाएगा।'' भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राजस्थान में कांग्रेस पर निशाना साधे जाने पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा, ''भाजपा और अमित शाह को अंदाजा हो गया है कि उनकी हार तय है। इसलिए वे हताशा में आकर आधारहीन बातें कर रहे हैं।

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.