05 मई : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Sunday, 05 May 2019 03:55:49 PM
5 May top 10 news

पाकिस्तान के साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि कोई नहीं जानता कि देश कौन चला रहा है : मोदी

The biggest problem with Pakistan is that nobody knows who is running the country Modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और वर्तमान प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ दोस्ताना संबंध स्थापित करने की कोशिश की लेकिन पाकिस्तान के साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि कोई नहीं जानता कि देश कौन चला रहा है और हमें किससे बात करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह उनका अकेले का नहीं बल्कि दुनिया के कई देशों का अनुभव है। मोदी ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को शपथ ग्रहण समारोह में दिल्ली बुलाना और काबुल से वापस आते हुए उनसे मिलने के लिए लाहौर जाने के उनके कदमों से भी दुनिया को यह समझ में आया कि भारत ने पाकिस्तान के साथ संबंध अच्छे बनाने की कोशिश की लेकिन पाकिस्तान ने गड़बड़ की। 

पीएम मोदी ने कहा कि पिछले पांच साल में पाकिस्तान को अलग-थलग करना उनकी सरकार की बड़ी कूटनीतिक उपलब्धि रही है और जैश ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करने वाले संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव की ताकत भी सर्जिकल और एयर स्ट्राइक जितनी ही है।

खबरों के अनुसार, उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्षों में बड़ा बदलाव यह हुआ है और अब अकेला चीन पाकिस्तान के साथ होता है और पूरी दुनिया हमारे साथ है। भारत ने हर मंच पर आतंकवाद के बारे में मानवता के पक्ष की वकालत की है और लोगों को इस बात पर विश्वास में लिया गया है कि आतंकवाद मानवता का दुश्मन है। आतंकवाद किसी देश का नहीं, दुनिया की मानवता के लिए खतरा है।

इस मामले में साध्वी प्रज्ञा को चुनाव आयोग ने जारी किया नोटिस

In this matter, the notice issued by the Election Commission to Sadhvi Pragya

नई दिल्ली। भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा को एक बार फिर से भोपाल चुनाव अयोग ने नोटिस जारी किया है। दरअसल, यह नोटिस प्रज्ञा पर चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध के दौरान प्रचार काने को लेकर जारी किया गया है। निर्वाचन आयोग को शिकायत मिली थी कि तीन दिन के प्रतिबंध के बाद भी प्रज्ञा चुनाव प्रचार कर रही है। इस पर चुनाव आयोग ने प्रज्ञा से जवाब मांगा है। आपको बता दें कि भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ने बाबरी मस्जिद विघ्वंस को लेकर विवादित बयान दिया था। इसके बाद निर्वाचन आयोग ने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले में प्रज्ञा के चुनाव प्रचार पर तीन दिन का प्रतिबंध लगा दिया था। साध्वी प्रज्ञा ने 

गौरतलब है कि बाबरी मस्जिद गिराने को गर्व की बात बताया था। एक नि​जी चैनल को इंटरव्यू देेते हुए साध्वी प्रज्ञा ने कहा था कि वह बाबरी मस्जिद ढांचे पर चढ़ी थीं और उसे गिराने में मदद की थी। इसके बाद कहा कि  बाबरी मस्जिद की जगह राम मंदिर बनाया जाएगा। मैंने ढांचे पर चढ़कर तोड़ा था। अब वहीं राम मंदिर बनाएंगे।

दअरसल, यह पहली बार नहीं हैं, जब साध्वी प्रज्ञा ने विवादित बयान दिया हो। इससे पहले उन्होंने शहीद हमेंत करकरे को लेकर भी विवादित बयान दिया था। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि हेमंत करकरे ने उन्हें गलत तरीके से फंसाया था।  इसके बाद कहा कि एक अधिकारी ने हेमंत करकरे से उन्हें छोड़ने का कहा था लेकिन करकरे ने कहा था कि वे कुछ भी करेंगे, सबूत लाएंगे लेकिन साध्वी को नहीं छोड़ेंगे।  हेमंत करकरे का यह कदम देशद्रोह था, धर्मविरुद्ध था। 

साध्वी बोलीं, ''ये उसकी कुटिलता थी ये देशद्रोह था धर्मविरुद्ध था, वो मुझसे पूछता था कि क्या मुझे सच के लिए भगवान के पास जाना होगा, तो मैंने कहा था कि आपको जरूरत है तो जाइए। इसके बाद कहा कि मैंने उसे कहा था तेरा सर्वनाश होगा, उसने मुझे गालियां दी थीं।  जिस दिन मैं गई तो उसके यहां सूतक लगा था और जब उसे आतंकियों ने मारा तो सूतक खत्म हुआ। 

कजाकिस्तान के इतिहास में पहली बार राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में उतरी एक महिला

First time female candidates for presidential position in Kazakhstan

कजाकिस्तान। कजाकिस्तान के इतिहास में पहली बार एक महिला राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में हैं। रिपोर्ट के अनुसार कजाकिस्तानी संसद के निचले सदन की सदस्य दानिया एस्पाएवा अक झोल डेमोक्रेटिक पार्टी (लाइट वे) से राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव लड़ रही हैं। चुनाव आगामी नौ जून को होगा।  केंद्रीय चुनाव आयोग (सीईसी) ने देश के कार्यवाहक राष्ट्रपति कास्सिम-जोमारत तोकायेव, लेखक सादिबेक तुगेल और क्षेत्रीय ट्रेड यूनियन के प्रमुख अमंगलदेय तसपिखोव का पहले ही राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में नाम पंजीकृत कर लिया है। एस्पाएवा (58) 2016 में सांसद बनने से पहले बैंकिंग क्षेत्र में काम करती थीं। अक झोल डेमोक्रेटिक पार्टी ने 2012 में संसद में उपस्थिति दर्ज कराई थी।

सीईसी के अनुसार एस्पाएवा ने अपने समर्थन में 144,098 हस्ताक्षर कराए जिसमें 139,541 हस्ताक्षर विश्वसनीय माने गए। उन्होंने सभी दस्तावेज उपलब्ध कराए हैं। इससे पहले 2015 में दो महिलाओं ने राष्ट्रपति पद के लिए इच्छा जताई थी लेकिन कोई भी नामांकन दर्ज नहीं करवा पायीं क्योंकि लिमाना कोइशिएवा अपने समर्थन में हस्ताक्षर नहीं जुटा पायीं जबकि आईगुल उतेपोवा ने स्वेच्छा से अपना आवेदन वापस ले लिया था। कजाकिस्तान में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में नामांकन दर्ज कराने के लिए देश के कुल मतदाताओं का एक प्रतिशत हस्ताक्षर लेकर चुनाव आयोग को देना पड़ता है।

कजाकिस्तान में एक जनवरी 2019 तक 1.18 करोड़ योग्य मतदाता थे। ऐसे में राष्ट्रपति के उम्मीदवार के लिए 118,100 हस्ताक्षर प्राप्त कराना हैं। कजाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति नूरसूल्तान नजरबायेव ने 30 सालों तक पदभार संभालने के बाद 20 मार्च को इस्तीफा दे दिया और तोकायेव को नियुक्त किया जो कजाकिस्तानी संसद के ऊपरी सदन के अध्यक्ष के रूप में काम कर रहे हैं।

ट्रंप ने फेसबुक प्रतिबंध के बाद सोशल मीडिया कंपनियों पर बोला हमला

Trump attacked social media companies after Facebook ban

अमेरिका। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फेसबुक की ओर से कई चरमपंथी विचारधारा के व्यक्तियों को प्रतिबंधित किए जाने के बाद सोशल मीडिया कंपनियों की यह कहते हुए आलोचना की कि वह करीब से इस पर नजर बनाए हुए हैं। ट्रंप ने शुक्रवार एवं शनिवार को शिकायतों को ट्वीट तथा रिट्वीट करते हुए कहा कि वह सोशल मीडिया मंचों पर अमेरिकी नागरिकों की सेंसरशिप पर नजर रखेंगे।

इससे पहले ट्रंप कहते रहे हैं कि सोशल मीडिया कंपनियां रूढ़िवादियों के प्रति पक्षपातपूर्ण रवैया रखती हैं। हालांकि कंपनियों ने हमेशा इसे गलत बताकर खारिज किया है। राष्ट्रपति की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब फेसबुक ने इसी हफ्ते लुई फराखान, एलेक्स जोन्स और अन्य चरमपंथियों पर यह कहते हुए प्रतिबंध लगा दिया था कि इन्होंने खतरनाक व्यक्तियों पर लगाई गई उसकी रोक का उल्लंघन किया है।

कंपनी ने दक्षिणपंथी हस्तियों पॉल नेहलन, मिलो यानोपोलोस, पॉल जोसेफ वॉटसन और लॉरा लूम के साथ ही जोन्स की साइट इन्फोवॉर्स को भी हटा दिया। इस साइट के जरिए अक्सर षड्यंत्र के सिद्धांत पोस्ट किए जाते थे। हालिया प्रतिबंध फेसबुक की मुख्य सेवा और इंस्टाग्राम पर भी लागू होता है तथा फैन पेज एवं अन्य संबंधित अकाउंट भी इसके दायरे में आएंगे।

फिल्म Student of the Year 2 का गाना 'फकीरा' हुआ रिलीज

Release of song of film 'Student of the Year 2

एंटरटेनमेंट डेस्क। टाइगर श्रॉफ की फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2' इन दिनों काफी चर्चाओं में है। इस फिल्म का नया ​गाना 'फकीरा' रिलीज हो गया है। यह गाना सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो गया है। इस गाने में अनन्या पांडे और टागर श्रॉफ की शानदार केमिस्ट्री देखी गई है। इसके साथ ही इसमें दोनों का शानदार डांस भी देखा गया है। गाने के लिरिक्स भी लोगों को पसंद आ रहे हैं। 

आपको बता दें कि इस फिल्म का ​ Hook Up और मुंबई दिल्ली की कुडियां गाने पहले ही रिलीज हो गए है। इन गानों को फैंस के द्वारा काफी पसंद किया गया है। इस फिल्म का ट्रेलर के ट्रेलर को भी फैंस ने काफी पसंद किया था। इस फिल्म से दो एक्ट्रेस अनन्या पांडे और तारा सुतारिया बॉलीवुड इंडस्ट्री में डेब्यू कर रही है। दरअसल, इस फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है।

फकीरा गाने को 32 लोकेशन्स पर शूट किया गया है। इस गाने में फैंस को खूबरसूरत जगह भी देखने को मिलेगी, तो वहीं साथ में टाइगर और अनन्या की रॉकिंग केमिस्ट्री भी देखने को मिलेगी। 'फकीरा' को सनम पुरी और नीति मोहन ने गाया है। इस फिल्म को पुनीत मल्होत्रा डायरेक्ट कर रहे है। इसका धर्मा प्रोडक्शन और फॉक्स स्टार स्टूडियोज ने मिलकर बनाया है। यह फिल्म 10 मई 2019 को रिलीज होगी। 

सलमान, कैटरीना ने सोशल मीडिया पर लाइव चैट के जरिए फिल्म भारत को किया प्रमोट

Katrina Kaif hard work for her role in film bharat

मुंबई। बॉलीवुड की बार्बी गर्ल कैटरीना कैफ ने फिल्म 'भारत’ में अपने किरदार के लिए कड़ी मेहनत की है। सलमान खान और कैटरीना कैफ की जोड़ी वाली फिल्म 'भारत’ पांच जून को प्रदर्शित होने जा रही है। सलमान खान, कैटरीना कैफ और निर्देशक अली अब्बास जफर ने सोशल मीडिया पर लाइव चैट के जरिए फिल्म को प्रमोट किया। एक यूजर ने कैटरीना से पूछा कि भारत के लिए उन्होंने कुमुद रैना के किरदार में ढलने के लिए किस तरह से तैयारी की। इस पर कैटरीना ने बताया, मेरे पास खुद को तैयार करने के लिए दो महीने का समय था। फिजिकल अपीयरेंस और हेयरस्टाइल फाइनल होने के बाद सब अपनी जगह पर आ गया।

कैटरीना कैफ ने फिल्म भारत में अपने किरदार के बारे में बताया, फिल्म में वर्ष 1975 से 1990 की कहानी है। जब उनके किरदार की फिल्म में एंट्री होती है और फिर 2010 तक अलग-अलग भाग हैं। लेकिन कम से कम इन तीन अलग-अलग हिस्सों से यह साफ है कि आप किरदार की उम्र में परिवर्तन देखेंगे, जो बहुत मददगार होगा। फिल्म में सबसे अहम बात पुराने हिस्सों के लिए बॉडी लैंग्वेज सही रखना और उस उम्र की मानसिकता को देखना था।

गौरतलब है कि फिल्म भारत के लिए प्रियंका चोपड़ा को अप्रोच किया गया था लेकिन निक जोनस के साथ शादी की वजह से प्रियंका ने इस फिल्म को करने से इंकार कर दिया था। इसके बाद ये फिल्म कैटरीना कैफ की झोली में आ गिरी। फिल्म भारत कोरियन फिल्म 'एन ओड टू माई फादर’ का हिंदी रीमेक है। इस फिल्म में सलमान 18 से 70 वर्ष तक की उम्र के व्यक्ति का किरदार निभाते दिखाई देंगे। इसमें सलमान-कैटरीना के अलावा दिशा पटानी, जैकी श्रॉफ और सुनील ग्रोवर जैसे सितारे काम करते हुए नजर आएंगे। 

IPL 2019: आईपीएल में कोहली ने बनाया यह कीर्तिमान, इस मामले में की धोनी की बराबरी

IPL 2019: This record made by Kohli in IPL, in this case Dhoni's match

स्पोटर्स डेस्क। आईपीएल-12वें सीजन में शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मैच खेला गया। इस मैच में बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने अपने नाम एक उपलब्धि हासिल कर ली है। कोहली आईपीएल में 4000 रन पूरे करने वाले दूसरे कप्तान बन गए है। उन्होंने हैदराबाद के खिलाफ मैच में चौका लगाते ही यह रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। आपको बता दें कि कोहली ने इस मामले में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान एमएस धोनी की बराबरी कर ली है। विराट से पहले धोनी ने बतौर कप्तान आईपीएल में 4000 रन पूरे किए थे। धोनी ने बतौर कप्तान आईपीएल में 4084 रन बनाए है। तो वहीं कोहली के नाम अबतक 4010 रन हो गए है। 

बैंगलोर के कप्तान कोहली ने आईपीएल के 177 मैचों 169 पारियों में 5 शतक और 36 अर्धशतक के साथ 5412 रन बनाए है। तो वहीं धोनी के नाम IPL में 4374 रन दर्ज है। धोनी ने इतने रन 186 मैचों के 166 पारियों में बनाए हैं। धोनी के नाम IPL में 23 अर्धशतक दर्ज है।

कोहली ने हैदराबाद के खिलाफ महज 16 रन की पारी खेली। अपनी इस पारी में उन्होंने 7 गेंदों का सामना किया और दो चौके और एक छक्का भी लगाया। कोहली को इस मैच में खलील अहमद ने विकेट के पीछे ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। हैदराबाद के खिलाफ इस मैच को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने चार विकेट से जीत हासिल की। पहले खेलते हुए हैदराबाद ने निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 175 रन बनाए। जवाब में बैंगलोर ने 6 विकेट खोकर 4 गेंदें शेष रहते ही यह मुकाबला अपने नाम कर लिया।

रियान पराग ने IPL में हासिल किया यह कीर्तिमान, ऐसा करने वाले बन गए पहले बल्लेबाज

riyan priyag achieved this in IPL, became the first batsman to do so.

स्पोटर्स डेस्क। आईपीएल के 12वें सीजन में शनिवार को 53वां मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया। इस मैच में राजस्थान को पांच विकेट से हार का सामना करना पडा। भले ही राजस्थान ने यह मैच गवां दिया हो। लेकिन राजस्थान के एक खिलाडी ने एक कीर्तिमान हासिल कर लिया। राजस्थान के आलराउंडर रियान परान ने अपने आईपीएल का अर्धशतक लगाया। 

आपको बता दें कि इस अर्धशतक के साथ ही ​पराग सबसे कम उम्र में अर्धशतक लगाने वाले खिलाडी बन गए है। रियान पराग ने यह उपलब्धि मात्र 17 साल और 175 दिन की उम्र में हासिल किया। हालांकि उनसे पहले यह रिकॉर्ड संजू सैमसन के नाम था। सैमसन ने 18 साल और 169 दिन में अर्धशतक लगाया था। 

दरअसल, रियान पराग इस बार अपना पहला आईपीएल सीजन खेल रहे है। इस सीजन में पराग ने शानदार प्रदर्शन किया है। इसके साथ ही पराग ने अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया। दिल्ली के खिलाफ ​मैच में राजस्थान को पराग ने मुश्किल स्थिति से बाहर निकाला। 

रियान पराग ने इस मैच में 49 गेंदों में 4 चौके और दो छक्कों की मदद से 50 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली। पराग ने इस सीजन में 7 मैचों में 160 रन बनाए। जिसमें उनकी 40 की औसत और 128 स्ट्राइक रेट रही। इस मैच में राजस्थान के बल्लेबाज लगातार आउट हो रहे थे। तो वहीं दूसरी तरफ रियान पराग ने एक छोर संभाल रखा और ​टीम को 115 रन के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। 

दीर्घकालिक वृद्धि की रणनीति की सफलता के लिए वित्त पोषण के नए-नए तरीके निकालना जरूरी

ADB Expand Support for Private Sector

नादी। भारत ने एशियाई विकास बैंक(एडीबी) से निजी क्षेत्र के लिए ऋण सहायता उपलब्ध कराने के कार्यक्रम का विस्तार करने की अपील की है ताकि सदस्य देशों के आर्थिक विकास में तेजी लाई जा सके। वित्त मंत्रालय में आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने शनिवार को एडीबी के संचालन मंडल की यहां आयोजित बैठक को संबांधित करते हुए कहा, एडीबी के सदस्य देशों को अपने यहां आर्थिक वृद्धि की संभावनाओं का लाभ उठाने के लिए बड़ी पूंजी सहायता जारी रखने के साथ-साथ पूरे क्षेत्र में निजी क्षेत्र की सहायता जरूर बढ़ानी चाहिए। 

कंपनियों की शेयर पूंजी और बुनियादी ढांचा निवेश न्यासों में निवेश के माध्यम से एडीबी निजी क्षेत्र की पहलों के विकास में सार्थक भूमिका निभा सकता है। उन्होंने कहा कि इस बहुपक्षीय वित्तीय संगठन को मानव पूंजी के विकास और सामाजिक सुरक्षा जैसे क्षेत्रों पर विशेष ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस समय एशिया वैश्विक अर्थव्यवस्था की गाड़ी का प्रमुख इंजन बन गया है और उसकी यह भूमिका बरकरार है। गर्ग ने एडीबी संचालक मंडल के सदस्यों से कहा, क्षेत्रीय सहयोग के कदम उठाते समय इस बात को ध्यान में रखा जाए कि इस क्षेत्र के देश मूल्यवर्धन (उत्पादन-प्रसंस्करण प्रक्रियाओं) की वैश्विक श्रृंखला की अभिन्न कड़ी बन सकें। 

उन्होंने कहा , इसलिए हम एडीबी के प्रबंधकों से अपील करते हैं कि वे भारत जैसे देशों में सामाजिक क्षेत्र की परियोजनाओं में सहयोग बढ़ाएं और इसके साथ साथ शहरों को स्मार्ट बनाने, चौबीसों घंटे बिजली पानी की सुविधा, सम्पर्क सुविधाओं के विस्तार और जलवायु परिवर्तन के जोखिमों को कम करने पर ध्यान दें। एडीबी ने 2018 में निजी क्षेत्र की पहलों के लिए सालाना आधार पर 37 प्रतिशत वृद्धि के साथ कुल 3.14 अरब डॉलर की मदद की जो उसकी कुल वित्तीय सहायता के 14.5 प्रतिशत के बराबर रही। 

गर्ग ने पिछले 52 वर्षों के दौरान विकासशील देशों को बुनियादी ढांचा के विकास और गरीबी दूर करने की योजनाओं में मदद के लिए एडीबी के महती योगदान का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि दीर्घकालिक वृद्धि की रणनीति की सफलता के लिए वित्त पोषण के नए नए तरीके निकालना महत्वपूर्ण है। इसके लिए निजी और सार्वजनिक क्षेत्र, दोनों के वित्त पोषण को बारीकी से साधा जाना चाहिए। निजी क्षेत्र की मदद करते समय सावधानी बरती जाए कि यह विनिर्माण, सेवा और नई डिजिटल अर्थव्यवस्था जैसे सही क्षेत्रों के लिए हो। इसमें एडीबी और अन्य बहु पक्षीय एजेंसियां शेयर पूंजी की भी मदद करें।

उन्होंने कहा कि एशिया एवं प्रशांत क्षेत्र में साझी समृद्धि और 2030 तक गरीबी और भुखमरी को दूर करने के स्वस्थ विकास के लक्ष्यों (एसडीजी) की पूर्ति के लिए ऋण-ग्राही सदस्य एडीबी से सस्ते ऋण की आवश्यकता बनी रहेगी। संगठन को बुनियादी ढांचा विकास की परियोजनाओं और मानव संसाधन विकास की योजनाओं को सीधे सहायता देने के साथ ही उनकी विकास यात्रा में 'अनुभवी भागीदार’ के रूप में भी जुड़ना चाहिए।

कंपनियों के परिणाम, तेल और वैश्विक बाजार से तय होगी बाजार की चाल

Companies results oil and global market will be decided by market move

नई दिल्ली। देश में आम चुनाव के लिए हो रहे चरणबद्ध मतदान के साथ ही कंपनियों की वर्ष 2018-19 की अंतिम तिमाही के वित्तीय परिणाम, कच्चे तेल में उतार चढ़ाव के साथ ही वैश्विक बाजार में रूख से अगले सप्ताह घरेलू शेयर बाजार की चाल तय होगी।  बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.27 प्रतिशत यानी 104.07 अंक की गिरावट में 38,963.26 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 42.40 अंक यानी 0.36 प्रतिशत की गिरावट में 11,712.25 अंक पर बंद हुआ। दिग्गज कंपनियां की अपेक्षा छोटी और मंझोली कंपनियों को बिकवाली का अधिक दबाव झेलना पड़ा।

बीएसई का मिडकैप 280.64 अंक यानी 1.86 प्रतिशत की गिरावट में 14,783.35 अंक पर और स्मॉलकैप 1.79 प्रतिशत यानी 265.23 अंक की गिरावट में 14,548.15 अंक पर बंद हुआ। बाजार अध्ययन करने वाली कंपनी कैपिटलऐम के शोध प्रमुख मनीष यादव और एपिक रिसर्च के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुस्तफा नदीम ने बीते सप्ताह शेयर बाजार में रही गिरावट का उल्लेख करते हुए कहा कि अगले सप्ताह भी बाजार में भारी उथल पुथल की उम्मीद नहीं की जा रही है लेकिन आम चुनाव के लिए जारी चरणबद्ध मतदान के बीच में सट्टा बाजार में सरकार को लेकर लगाई जा रही अटकलों का बाजार पर असर दिख रहा है। जब तक आम चुनाव का परिणाम नहीं आ जाता जब तक बाजार पर इसका असर दिखेगा। 

यादव ने कहा कि इसके साथ ही अगले सप्ताह भारती एयरटेल, आईसीआईसीआई बैंक, टाइटन, एचसीएल टेक जैसी कंपनियों की अंतिम तिमाही के वित्तीय परिणाम का भी बाजार में असर देखा जा सकेगा। चीन और जापान के बाजार अवकाश के बाद खुलेंगे। इसके अतिरिक्त कच्चे तेल की कीमतों में उतार चढ़ाव और वैश्विक बाजार में होने वाले घटनाक्रम से घरेलू शेयर बाजार की चाल तय होगी। नदीम ने रिटेल निवेशकों को सतर्कता बरतने की सलाह देते हुए कहा कि शेयर बाजार अभी जिस रिकार्ड स्तर के आसपास चल रहा है ऐसे में किसी भी समय बिकवाली का दबाव बन सकता है जिससे छोटे निवेशकों को अधिक नुकसान की आशंका है। उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह महंगाई दर जैसे कई महत्वपूर्ण आंकड़े आने हैं और बाजार पर उसका भी असर होगा।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.