नेपाल की अंजलि का अनूठा कारनामा, दिग्गज क्रिकेटर भी नहीं तोड़ पाएंगे यह रिकॉर्ड

Samachar Jagat | Tuesday, 03 Dec 2019 07:07:12 AM
514438812161919

नेपाल की अंजलि चंद ने क्र‍िकेट में ऐसा रिकॉर्ड बना डाला है जिसे तोड़ना दिग्गज क्रिकेटरों के लिए भी आसान नहीं होगा. लगभग असंभव है इस रिकॉर्ड को तोड़ना. हालांकि क्रिकेट को अनिश्चितताओं का खेल कहा जाता है. रिकॉर्ड बनते हैं और टूटते हैं. लेकिन अंजलि का यह रिकॉर्ड तो क्रिकेट की किताबों में हमेशा के लिए दर्ज हो गया. महिला गेंदबाज अंजलि ने पोखरा में सोमवार को मालदीव के खिलाफ मैच में यह रिकॉर्ड बनाया. उन्होंने बिना एक भी रन दिए छह खिलाड़ियों को आउट किया और अपना नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज कराया. उनके नाम के आगे लिखा है बिना रन दिए छह विकेट.


loading...

यह अंजलि की गेंदबाजी का ही कमाल था की मालदीव की टीम मैच में सिर्फ सोलह रन बनाकर आउट हो गई. जवाब में नेपाल की टीम ने महज पांच गेंदों में ही जीत हासिल कर ली. मैच में मालदीव की टीम 10.1 ओवर में 16 रन बनाकर सिमट गई. अंजलि ने 2.1 ओवर में बिना कोई रन दिए छह बल्‍लेबाजों को आउट किया. झटके. उनका गेंदबाजी विश्‍लेषण रहा 2.1-2-0-6. महिला टी20 इंटरनेशनल में ही नहीं क्रिकेट में भी यह सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजी विश्‍लेषण है. जवाब में नेपाल की टीम ने महज पांच गेंदों में मैच जीत लिया. मैच जब उसने 10 विकेट से जीता, तब 115 गेंदें फेंकी जानी बाकी थीं.

अंजलि के इस प्रदर्शन की बदौलत नेपाल की टीम ने दक्षिण एशियाई खेलों में क्र‍िकेट में अपने अभियान की जोरदार शुरुआत की है. पोखरा में इस टूर्नामेंट में नेपाल के अलावा मालदीव, बांग्‍लादेश और श्रीलंका की टीमें भी हिस्‍सा ले रही हैं. आज के मैच में अंजलि ने महिला क्र‍िकेट में सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजी विश्‍लेषण के मालदीव की ही मास एलिसा के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा. मास ने इसी साल चीन के खिलाफ तीन रन देकर छह विकेट हासिल किया था.

पुरुषों के टी20 इंटरनेशनल में सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजी का रिकॉर्ड भारत के दीपक चाहर के नाम पर है. चाहर ने हाल ही में बांग्‍लादेश के खिलाफ सात रन देकर छह विकेट लिए थे. उन्‍होंने श्रीलंका के मिस्‍ट्री बॉलर अजंता मेंडिस के आठ रन देकर छह विकेट के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा था. (क्रिकेट पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).


loading...


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.