जाति के आधार पर लोगों को बांटने के बाद अब देवी-देवताओं को भी बांट रही है बीजेपी: मायावती

Samachar Jagat | Thursday, 06 Dec 2018 02:57:07 PM
After dividing people on basis of caste, now divide gods and goddesses, BJP: Mayawati

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुये कहा है कि पहले लोगों को जाति के आधार पर बांटा अब देवी-देवताओं को भी बांटने में लगी है। मायावती ने गुरूवार को बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की 63वीं पुण्यतिथि पर यहां जारी किए गए बयान में कहा है कि में बीजेपी ने पहले जाति के आधार पर लोगों को बांटा और अब देवी-देवताओं को भी बांट रही हैं।


उन्होने कहा कि बाबा साहेब ने भारत के संविधान में एक वोट- एक मूल्य की अवधारणा देकर एक समतामूलक समाज की कल्पना की थी लेकिन केंद्र में बैठी बीजेपी सरकार इस संविधान को फेल कर देना चाहती है। देश का किसान बीजेपी  सरकार की नीतियों से परेशान हैं। यहां तक कि फसल बीमा योजना का असली लाभ गरीब किसानों को नहीं बल्कि कुछ अमीरों को हुआ है।

मायावती ने कहा कि देश में सर्वसमाज का हित बसपा की सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय की नीति और  सिद्धान्त में ही निहित है। आज़ादी के लगभग 71 वर्षों बाद भी करोड़ों गरीबों, मज़दूरों, किसानों, दलितों, पिछड़ों, मुस्लिम तथा अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों और अपरकास्ट के गरीबों का जीवन पूरी तरह से मजबूर, लाचार, गुलाम और हर प्रकार से त्रस्त है।

इस अभिशाप को वोटों के माध्यम से बदलने की जरूरत महसूस की जा रही है। लखनऊ में बसपा कार्यकर्ताओं ने भारतरत्न भीमराव अंबेडकर ने 63वी पुण्यतिथि के अवसर पर संगोष्ठी व अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया।

लखनऊ मण्डल में बसपा के कार्यकर्ताओं और अनुयाइयों ने राजधानी में गोमती तट पर सरकार द्बारा निर्मित ऐतिहासिक महत्त्व के भव्य एवं विशाल डॉ. भीमराव अम्बेडकर सामाजिक परिवर्तन स्थल के मध्य में स्थित गुम्बदाकार के डॉ. अम्बेडकर स्मारक में  बड़ी संख्या में पहुँचकर डॉ. अम्बेडकर की लिकन-मुद्रा में स्थापित प्रतिमा पर माल्यार्पण और पुष्पांजलि करके उन्हें अपने श्रद्धा-सुमन अर्पित किए।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.