न्यायाधीशों की प्रेस कांफ्रेंस के बाद मोदी ने की रविशंकर से बात

Samachar Jagat | Saturday, 13 Jan 2018 11:00:36 AM
After the judges' press conference Modi spoke to Ravi Shankar

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के 4 न्यायाधीशों द्वारा मुख्य न्यायाधीश की कार्यशैली पर सवाल उठाए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधि एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ मौजूदा घटनाक्रम से उपजी स्थिति पर विचार-विमर्श किया। सूत्रों के मुताबिक मोदी और प्रसाद ने न्यायाधीशों द्वारा बुलाई गई प्रेस कांफ्रेंस में कालेजियम के सदस्य न्यायमूर्ति जे चेलमेश्वर की ओर से उठाए गए बिंदुओं पर खासतौर पर विचार-विमर्श किया।

पतंगबाजी: ये शौक भी आपका, स्वयं की रक्षा की जिम्मेदारी भी आपकी

दोनों नेताओं की इस बैठक में कानून अधिकारी भी मौजूद थे। गौरतलब हैं कि एक अभूतपूर्व घटनाक्रम में उच्चतम न्यायालय के 4 न्यायाधीशों ने शुक्रवार को यहां एक प्रेस कांफ्रेंस में आरोप लगाया कि देश की सर्वोच्च अदालत की कार्यप्रणाली में प्रशासनिक व्यवस्थाओं का पालन नहीं किया जा रहा है और मुख्य न्यायाधीश द्वारा न्यायिक पीठों को सुनवाई के लिए मुकदमे मनमाने ढंग से आवंटित करने से न्यायपालिका की विश्वसनीयता पर दाग लग रहा है।

आज देशभर में मनाया जाएगा लोहड़ी पर्व, सोलंकी और खट्टर ने दी राज्यवासियों को बधाई

सुप्रीम कोर्ट में दूसरे वरिष्ठतम न्यायाधीश न्यायमूर्ति चेलमेश्वर ने न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर और न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ के साथ शुक्रवार सुबह अपने तुगलक रोड स्थित आवास पर प्रेस कांफ्रेंस में ये आरोप लगाए। उन्होंने मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा को इसके लिए सीधे जिम्मेदार ठहराया। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.