राफेल और एस-400 मिसाइल से बढेगी मारक क्षमता: वायु सेना प्रमुख

Samachar Jagat | Thursday, 13 Sep 2018 06:30:01 PM
Air Chief said rafael and S-400 missile will increase firepower

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर विपक्ष द्वारा मचाए जा रहे बवाल के बीच वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने बुधवार को कहा है कि भारत जिस तरह के ‘गंभीर खतरे’ का सामना कर रहा है उसे देखते हुए वायु सेना को राफेल जैसे विमान और रूसी सुरक्षा प्रणाली एस-400 की जरूरत है।

आखिरकार 19वें दिन हार्दिक पटेल ने समाप्त किया आमरण अनशन

एयर चीफ मार्शल ने बुधवार को यहां एक सेमीनार में कहा कि दुनिया में केवल दो देश दक्षिण कोरिया तथा इजरायल ही अपने-अपने क्षेत्रों में भारत जैसे खतरे का सामना कर रहे हैं लेकिन इन दोनों ने ही अपनी वायु सेना को बेहद मजबूत बना लिया है। उन्होंने कहा है कि देश में ही बना तेजस विमान उस कमी को पूरा नहीं कर सकता जिसका सामना वायु सेना कर रही है।

पुलिस का मुखबिर होने के संदेह में नक्सालियों ने दो ग्रामीणों को दी ये खौफनाक सजा, पढक़र कांप जाएगी आपकी रूह

इस कमी को पूरा करने के लिए राफेल जैसे अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी से लैस विमान की जरूरत है। उन्होंने कहा कि समय की जरूरत है कि भारतीय वायु सेना को पड़ोसी देशों की ताकत को देखते हुए मजबूत बनाया जाना चाहिए। पाकिस्तान और चीन की हवाई ताकत का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय वायु सेना को 42 स्क्वैड्रन की जरूरत है लेकिन उसके पास केवल 31 स्क्वैड्रन हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल करेंगे रैली को संबोधित

पाकिस्तान निरंतर अपनी ताकत बढ़ा रहा है और उसके पास लड़ाकू विमानों के 20 से अधिक स्क्वैड्रन हैं जिनमें उन्नत एफ-16 भी हैं और वह चीन से बड़ी संख्या में जे-17 विमान हासिल कर रहा है। चीन के पास 1700 से ज्यादा लड़ाकू विमान हैं जिनमें 800 चौथी नई पीढ़ी के लडाकू विमान हैं।

आया था नोटों से भरा बैग लूटकर मालामाल बनने के लिए लेकिन आ गया पकड़ में और फिर...

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.