राजस्थान दौरे पर अमित शाह ने छेड़ी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की बात, कहा ये...

Samachar Jagat | Wednesday, 21 Nov 2018 09:08:09 PM
Amit Shah said BJP is committed to ram temple

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कहा कि पार्टी अयोध्या में राम मंदिर बनाने को लेकर कटिबद्ध है और वह अपने इस संकल्प से जरा भी पीछे नहीं हटेगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि देश को गठबंधन के नेतृत्व वाली मजबूर सरकार नहीं, बल्कि मोदी के नेतृत्व वाली मजबूत सरकार की जरूरत है। शाह ने यहां एक निजी स्कूल में प्रदेश के सात संभागों के युवाओं के साथ संवाद कार्यक्रम युवां री बात अमित शाह के साथ को संबोधित किया।

इस दौरान अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर पार्टी की प्रतिबद्धता के सवाल पर शाह ने कहा है कि अयोध्या में जहां रामलला विराजमान हैं, उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर बने, इसके लिए भारतीय जनता पार्टी कटिबद्ध है और यह हमारा देश से वादा है। इसमें एक इंच भी पीछे हटने का कोई सवाल नहीं है। शाह के अनुसार भाजपा ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि वह इस मुद्दे का न्यायिक समाधान चाहती है और वहां पर जल्द से जल्द राम मंदिर बनाना चाहती है। उन्होंने कहा है कि जनवरी में अदालत में तारीख है और हमें पूरी आशा है कि राम जन्मभूमि मामले पर तेजी से सुनवाई होगी तथा फैसले के बाद वहंा भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा।

परंतु भाजपा अपने वचन से एक इंच भी पीछे नहीं जा सकती। उसी स्थान पर और डिजाइन के हिसाब से ही भव्य राम मंदिर का निर्माण करना यह भारतीय जनता पार्टी का संकल्प है, जिसे लेकर हमारे मन में कोई संशय नहीं है। केंद्र में ‘मजबूत’ नहीं ‘मजबूर’ सरकार संबंधी बसपा नेता मायावती के बयान का जिक्र करते हुए शाह ने कहा है कि हम चाहते हैं कि मोदी के नेतृत्व में, वसुंधरा राजे के नेतृत्व में एक मजबूत सरकार बने जो राजस्थान और देश के विकास के लिए आगे बढ़ सके। उन्होंने कहा है कि यह जो गठबंधन, गठबंधन, गठबंधन करते हैं, अभी मायावती ने कहा कि देश में ‘मजबूत’ सरकार नहीं चाहिए ‘मजबूर’ सरकार चाहिए। उन्हें ‘मजबूर’ चाहिए, हमें ‘मजबूत’ सरकार चाहिए जो देश में विकास कर सके, राहुल गांधी के नेतृत्व में गठबंधन ‘मजबूर’ सरकार चाहता है और जो सरकार मजबूर हो, वह कैसे देश का विकास कर सकती है? युवा व रोजगार संबंधी एक सवाल पर शाह ने कहा यह भावनाओं से नहीं सुधरने वाला, न ही यह भाषणों से सुधरने वाला है, बल्कि यह तो देश के अर्थतंत्र के विकास से ही सुधरने वाला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आती है तो वृद्धि दर नीचे जाती है, भाजपा आती है तो विकास दर ऊपर जाती है।

उन्होंने कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र के अभाव का आरोप भी लगाया और कहा कि जिस पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र नहीं है, वह देश के लोकतंत्र को कैसे सुरक्षित रखती है। बीकानेर में कंाग्रेस के एक प्रत्याशी द्वारा भारत माता की जय के नारों के बीच सोनिया गांधी की जय के नारे लगवाए जाने की कथित घटना का जिक्र करते हुए शाह ने कहा, वंशवाद की राजनीति का इससे ज्यादा खराब परिणाम और क्या हो सकता है? उन्होंने कहा कि जिन लोगों को भारत माता की जय बोलने में हिचकिचाहट होती है, उनको इस धरती का अन्न खाने का कोई अधिकार नहीं है। भाजपा ने वंशवादी राजनीतिक परंपराओं को देश से समाप्त किया है और देश की राजनीति में जब तक वंशवाद है, उसमें प्रतिभाशाली युवाओं को मौका मिल नहीं सकता है।

राज्य में एक बार कांग्रेस और एक बार भाजपा की सरकार बनने की कथित परंपरा के सवाल पर उन्होंने इसे खारिज किया। उन्होंने कहा है कि इसी राजस्थान में भैरों सिंह शेखावत ने दो बार लगातार सरकार बनाई। पहले कई बार कंाग्रेस की सरकारें भी बार-बार बनीं। शाह ने कहा कि अगर इसे मिथक मान भी लें तो इस बार प्रदेश के युवा इसे तोड़ देंगे और पार्टी भी इसके लिए पूरी तरह तैयार है। पार्टी ने राज्य के युवाओं से शाह का संवाद करने के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया।

इसका अनेक सोशल मीडिया मंचों और पार्टी की वेबसाइट के जरिए सीधा प्रसारण किया गया। राज्य की कई जगहों से युवाओं ने शाह से सवाल किए। कार्यक्रम को पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी संबोधित किया।



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.