सेना के कड़े रुख ने डोकलाम गतिरोध सुलझाने में मदद की: अरूप राहा

Samachar Jagat | Monday, 12 Feb 2018 08:36:28 AM
Army Strong stance Circumambulate in solving helped: arup raha

अहमदाबाद। वायु सेना के पूर्व प्रमुख एयर चीफ मार्शल अरूप राहा ने कहा है कि सेना के कड़े रुख ने चीनी सेना के साथ डोकलाम गतिरोध सुलझाने में भारतीय कूटनीति की मदद की है। राहा ने कूटनीति को ‘मजबूती’ मुहैया कराने में सेना की भूमिका को रेखांकित करते हुए आशंका जताई कि चीन द्वारा वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर डोकलाम जैसे घुसपैठ में बढ़ोतरी होगी।

भारत ओमान के बीच आठ समझौतों पर हस्ताक्षर

राहा ने ल्लस्टेटक्राफ्ट एंड डिप्लोमेसी रोल ऑफ मिलिट्री पावर’ विषय पर व्याख्यान देते हुए कहा कि डोकलाम में कूटनीति की वजह से नहीं बल्कि सेना द्वारा अपने स्थान से नहीं खिसकने और आंखों में आंखे डालकर खड़े रहने की वजह से गतिरोध सुलझा था।

जम्मू हमले में पांच जवान शहीद, तीन आतंकवादी ढेर

उन्होंने कहा कि सेना के रुख ने कूटनीति को इस मुद्दे को सुलझाने में मदद दी। सेना हमारे लोकतंत्र को मजबूती प्रदान करता है।
राहा को एयर फोर्स एसोसिएशन, गुजरात ने ‘फ्लाइंग ऑफिसर निर्मल जीत सिंह शेखों सालाना व्याख्यान श्रृंखला’ के लिए आमंत्रित किया था।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.