अटल बिहारी वाजपेयी का निधन, शाम 5 बजकर 5 मिनट पर ली अंतिम सांस

Samachar Jagat | Thursday, 16 Aug 2018 05:48:06 PM
Atal Bihari Vajpayee dies

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी हमारे बीच नहीं रहे, 93 वर्ष की उम्र में उन्होंने आखिरी सांस ली। शाम 5 बजकर 5 मिनट पर उन्होंने आखिरी सांस ली। यह जानकारी एम्स के हवाले से आई है। अटल बिहारी के निधन से पूरे देशभर में शोक की लहर है।

हिन्दुस्तान की राजनीति की ऐसी शख्यित ने आज आखिरी सांस ली। भारत रत्न, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है। 3 बार देश के पीएम रहे वाजपेयी अस्वस्थता के चलते लंबे वक्त से सार्वजनिक जीवन से दूर थे। वह डिमेंशिया नाम की गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे।

साल 2009 से ही वे व्हीलचेयर पर थे, देशवासियों ने उन्हें अंतिम बार 2015 में 27 मार्च को देखा, जब तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी भारत माता के इस सच्चे सपूत को भारत रत्न से सम्मानित करने उनके आवास पर पहुंचे। 2 माह पहले वाजपेयी की तबीयत और ज्यादा खराब हो गई।

यूरिन में इन्फेक्शन के चलते 11 जून को उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित भाजपा और देश की अलग-अलग पार्टियों के नेता और अनेक गणमान्य हस्तियां उनका हालचाल जानने पहुंचीं। उनके समर्थक लगातार उनकी सलामती की दुआ कर रहे थे, हालांकि कुदरत को शायद कुछ और मंजूर था। वाजपेयी के निधन से देश की राजनीति के एक सुनहरे दौर का अंत हो गया है। 

अटल बिहारी वाजपेयी देश की सक्रिय राजनीति में पांच दशक से ज्यादा समय तक रहे। वह देश के पहले गैरकांग्रेसी प्रधानमंत्री थे। उन्होंने अपना पहला लोकसभा चुनाव 1952 में लड़ा, हालांकि पहली जीत उन्हें 1957 में मिली। तब से 2009 तक वह लगातार संसदीय राजनीति में बने रहे। 1977 में वह पहली बार मंत्री बने, जबकि 1996 में वे 13 दिन के लिए प्रधानमंत्री भी रहे।

हालांकि 1998 में उन्हें एक बार फिर पीएम बनने का मौका मिला। उनकी ये सरकार भी सिर्फ 13 महीने चली लेकिन इसके बाद हुए लोकसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन के बहुमत वाली सरकार बनी और वाजपेयी ने पीएम के रूप में अपना कार्यकाल पूरा किया। 1991, 1996, 1998, 1999 और 2004 में वे लखनऊ से लोकसभा सदस्य चुने गए।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.