अयोध्या केस: शरीयत के मुताबिक दूसरे धर्म के पूजास्थल को गिराकर मस्जिद नहीं बनाई जा सकती

Samachar Jagat | Thursday, 29 Aug 2019 03:55:58 PM
Ayodhya case: According to Shariat, a mosque cannot be built by demolishing a place of worship of other religion

इंटरनेट डेस्क। सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले की 15वें दिन की सुनवाई में राम जन्मभूमि पुनरूद्वार समिति की ओर से पेश वकील ने पी.एन. मिश्रा ने कहा कि जन्म स्थान पर इमारत थी।

लेकिन उसे मस्जिद नहीं कह सकते। दूसरे धर्म के पूजास्थल का गिराकर बनी इमारत शरीयत के हिसाब से मस्जिद नहीं कह सकते। उसी इमारत में मस्जिद के लिए जरूरी तत्व भी नहीं थे।

उन्होंने कहा कि मस्जिद हमेशा मस्जिद रहेगी, ये जरूरी नहीं है। पैगंबर मोहम्मद ने कहा था कि किसी का घर तोड़कर वहां मस्जिद नहीं बनाई जा सकती। अगर ऐसा किया गया तो जगह वापस उसके हकदार को दे दी जाएं। ये एक तरह से उनका वचन था। उनके अनुयायियों पर भी ये वचन लागू होते है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.