बंगाल पंचायत चुनाव: तृणमूल कांग्रेस शानदार जीत की ओर, बीजेपी मुख्य विपक्षी दल के रूप में उभरी

Samachar Jagat | Friday, 18 May 2018 10:51:37 AM
Bengal panchayat elections: Trinamool Congress towards victory

कोलकाता। पश्चिम बंगाल पंचायत चुनावों में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस 20,848 सीटों के साथ शानदार जीत की ओर बढ़ रही है। देर रात एक बजे तक घोषित नतीजों के मुताबिक तृणमूल कांग्रेस ने 20,848 सीटों पर कब्जा जमाया है जबकि बीजेपी मुख्य प्रतिद्वंद्वी दल के रूप में उभरी है। माकपा तीसरे स्थान और कांग्रेस चौथे नंबर पर है।

मोदी-पुतिन अनौपचारिक शिखर बैठक मजबूत करेगी रिश्ते

राज्य निर्वाचन आयोग के सूत्रों ने बताया कि तृणमूल कांग्रेस 148 ग्राम पंचायत सीटों पर आगे चल रही है। उन्होंने बताया कि बीजेपी ने 5,636 सीटें जीती हैं और 21 सीटों पर बढ़त बना रखी है। प्रदेश बीजेपी के वरिष्ठ नेता के मुताबिक गत  दस वर्षों में यह पहली बार है कि पार्टी ने राज्य के हर जिले में ग्राम पंचायत स्तर पर सीटें जीती हैं।

सूत्रों ने बताया कि माकपा इस बार तीसरे नंबर पर खिसक गई। वर्ष 2013 में हुए पंचायत चुनावों में उसने दूसरा स्थान हासिल किया था। माकपा ने 1,461 ग्राम पंचायत सीटें जीती हैं और वह 10 सीटों पर आगे चल रही है। कंाग्रेस 1,033 सीटें जीतकर चौथे स्थान पर है और दस पर आगे चल रही है। यह संख्या निर्दलीयों द्वारा जीती गई सीटों से भी कम है।

निर्दलीय प्रत्याशियों ने 1,794 ग्राम पंचायत सीटों पर जीत हासिल की है और 18 सीटों पर आगे चल रहे हैं। अच्छे प्रदर्शन से उत्साहित तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि इन नतीजों से अगले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी मजबूत होगी क्योंकि आम चुनाव से पहले पंचायत चुनाव राज्य में आखिरी चुनाव हैं।

वहीं बीजेपी ने कहा कि पंचायत चुनाव जिनमें पार्टी सत्तारूढ तृणमूल कांग्रेस के मुख्य विपक्षी के रूप में उभरी है वह पार्टी का मनोबल बढ़ाएगा। तृणमूल कांग्रेस ने पंचायत समिति की भी 4,358 सीटें जीतकर अन्य दलों को दौड़ से बाहर कर दिया है और उसने 142 सीटों पर बढ़त बनाई हुई है। भाजपा ने 631 सीटें जीती हैं और वह 22 सीटों पर आगे चल रही है।

राज्य चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया कि माकपा ने 92 सीटें जीती हैं और वे 3 पर आगे चल रही है जबकि कांग्रेस ने 106 पर जीत हासिल की है और वह पांच सीटों पर आगे चल रही है। उन्होंने बताया कि निर्दलीय प्रत्याशियों ने पंचायत समिति की 94 सीटों पर विजय प्राप्त की है। जिला परिषदों में तृणमूल कांग्रेस का दबदबा कायम है जहां उसने 318 सीटों पर कब्जा किया है।

बर्धमान पश्चिम जिले की सभी सीटों पर जीत हासिल की है और वह राज्यभर में 130 सीटों पर आगे चल रही है। बीजेपी 10 सीटों पर और माकपा दो सीटों पर आगे चल रही है। कांग्रेस के गढ़ रहे मालदा में भी तृणमूल कांग्रेस ने सेंध लगाई है और वहां 973 ग्राम पंचायत सीटों पर जीत हासिल की है।

भाजपा ने 502, कांग्रेस ने 359 और माकपा ने 101 सीटों पर जीत दर्ज की है। तृणमूल नेता अराबुल इस्लाम ने भी पंचायत समिति सीट पर जीत हासिल की है। इस्लाम को दक्षिण 24 परगना के भानगर में एक निर्दलीय प्रत्याशी की हत्या के बाद पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश पर गिरफ्तार किया गया था और वह अभी जेल में है।

सांबा में पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में बीएसएफ जवान शहीद, 4 नागरिक घायल

राज्य में कुछ मतगणना केंद्रों पर हिंसा की घटनाएं भी सामने आई हैं जहां बदमाश कथित तौर पर मत पेटी लेकर भाग गए। निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि हमने सभी मामलों में उचित कार्रवाई की है।

बीजेपी के राज्य महासचिव सायंतन बसु ने कहा कि बहुत ज्यादा हिंसा के बावजूद हमने ग्राम पंचायत में 5,000 से अधिक सीटों पर जीत हासिल की। अगर चुनाव स्वतंत्र एवं निष्पक्ष होते तो हम पंचायत के सभी 3 स्तरों पर 50 फीसदी सीटें जीतते। दूसरी ओर , तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि बंगाल के लोगों ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विकास के कार्यों के पक्ष में वोट दिए। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.