भारत एक है, भारतीय एक हैं: भागवत

Samachar Jagat | Tuesday, 17 Apr 2018 09:11:20 AM
Bhagwat says India is one, Indian is one

मुंबई। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि ' इंडिया' नाम का शब्द सिंधु नदी (इंडस) के नाम से निकला। उन्होंने यह भी कहा कि ज्यादा समावेशी शब्द 'भारत' इस देश को संबोधित करने का वैकल्पिक तरीका है।

कठुआ कांड: जम्मू कश्मीर सरकार पीड़ित परिवार और वकील को सुरक्षा प्रदान करे: न्यायालय

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा, ''इंडिया सिंधु से आया, क्या इसमें कावेरी है? भारत में यह नहीं है? भारत एक है, सभी भारतीय एक हैं।"

उन्होंने कहा, ''अंग्रेजी में भी आप भारतीय लिख सकते हैं। इसे ' भारतीय' के रूप में लिखने से भाषा के किसी नियम का उल्लंघन नहीं होता क्योंकि व्यक्तिवाचक संज्ञा का अनुवाद नहीं होता।"

देश में इस साल मानसून रहेगा सामान्य, होगी झमाझम बारिश

व्यक्तिवाचक संज्ञा के बारे में अपनी बात को और स्पष्ट करते हुए भागवत ने कहा कि उन्हें हर जगह '' मोहन" कहकर बुलाया जाता है। उन्होंने कहा, ''मोहन का अनुवाद संभव नहीं है। मैं दुनिया में जहां कहीं जाता हूं , मोहन कहलाता हूं, हम सब भारतीय हैं।"- एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.