बीजेपी राज में बढ़ा नशे का कारोबार, रोक लगाने को गंभीर नहीं सरकार: सुक्खू

Samachar Jagat | Tuesday, 09 Oct 2018 05:15:12 PM
BJP state-of-art drunken business, not serious to stop government: Sukhuk

बद्दी। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू ने मंगलवार को आरोप लगाया कि प्रदेश में बीजेपी के शासन में नशे का कारोबार बढ़ा है और सरकार इस पर रोक लगाने को लेकर गंभीर नहीं है। सोलन जिले के औद्योगिक क्षेत्र बद्दी में नशे के खिलाफ रैली को संबोधित करते हुए सुक्खू ने आरोप लगाया कि नशा तस्करी के अनेक मामले सामने आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार नशाखोरी पर अंकुश लगाने के लिए बिल्कुल भी गंभीर नहीं है। कांग्रेस नेता ने कहा कि मॉनसून सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस विधायकों और पदाधिकारियों का एक प्रतिनिधिमंडल उनकी अध्यक्षता में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मिला था और नशाखोरी रोकने के लिए कड़ा कानून बनाने की मांग उठाई थी।

सुक्खू ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री से यह भी कहा था कि कानून बनाने के लिए सरकार विधानसभा में विधेयक लेकर आए कांग्रेस पार्टी पूरा समर्थन करेगी, उनकी मांग को मुख्यमंत्री ने पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया। उन्होंने कहा कि सरकार विधानसभा में न तो बिल लाई, न ही नशा तस्करों पर शिकंजा कसने के लिए ठोस कदम उठाए गए।

इससे साफ होता है कि नशा कारोबारियों को कहीं न कहीं सरकार की भी शह है। सुक्खू ने आरोप लगाया कि प्रदेश का 28 प्रतिशत युवा आज नशे की चपेट में है। औद्योगिक क्षेत्र बद्दी में ही नशे की वजह से बीते कुछ वक्त में दस आत्महत्याएं हो चुकी हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी चाहती है कि सरकार नशे के कारोबार में संलिप्त लोगों के पकड़े जाने पर जमानत का प्रावधान खत्म होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार यह भी जांच कराए कि किन पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के संरक्षण में नशे का कारोबार फलफूल रहा है। सुक्खू ने कहा कि कॉस्मेटिक और सिथेटिक ड्रग्स के कारोबार पर अंकुश लगाना समय की मांग है और चेतावनी दी कि अगर कड़ा कानून नहीं बनाया गया तो नशा युवा पीढी बर्बाद हो जाएगी। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.