केन्द्र जम्मू कश्मीर में ‘आग से खेल रही है’ : महबूबा

Samachar Jagat | Thursday, 14 Feb 2019 11:18:35 AM
Center is playing 'with fire' in Jammu Kashmir: Mehbooba

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

श्रीनगर। पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को आरोप लगाया कि केन्द्र राज्यपाल सत्यपाल मलिक के जरिए भाजपा का एजेंडा ‘लागू’ कर जम्मू कश्मीर में ‘‘आग से खेल रही’’ है। उन्होंने केन्द्र पर राज्य की ‘मुस्लिम बहुल चरित्र को तोडऩे का प्रयास करने’ का आरोप लगाया।


उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार राज्यपाल के जरिए जो निर्णय ले रही है वह जम्मू कश्मीर के लोग और जन भावना के खिलाफ है। महबूबा ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘पूरे देश और केन्द को स्वीकार करना चाहिए कि यह (जम्मू-कश्मीर) एक मुस्लिम बहुल राज्य है और बड़े समुदाय और साथ ही अल्पसंख्यकों की भी भावनाओं का ख्याल रखते हुए निर्णय लिये जाने चाहिए।

लद्दाख क्षेत्र को एक संभाग का दर्जा दिये जाने के राज्यपाल प्रशासन के निर्णय का हवाला देते हुये पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमने सरकार को चेतावनी दी थी कि यदि आप चुनिंदा रूप से एक संभाग बनाते हैं, तो इसके गंभीर परिणाम होंगे। उन्होंने कहा उन्होंने ना केवल पीर पंजाल और चेनाब को अन्देखा करके एक संभाग का गठन किया बल्कि इसके मुख्यालय चयन में भी भेदभाव किया। करगिल के लिए लेह शायद श्रीनगर से ज्यादा दूर है। 

राज्य प्रशासनिक परिषद ने पिछले सप्ताह राज्य में एक अलग संभाग लद्दाख का गठन किया था और लेह को इसका स्थायी मुख्यालय बनाया था जिसका करगिल में विरोध हुआ था। महबूबा ने बताया कि निर्णय में केन्द्र सरकार का हाथ प्रतीत होता है।

उन्होंने कहा हम राज्य में अब लिये जा रहे निर्णयों में केन्द्र सरकार का हाथ देख रहे हैं। यह एजेंडा लगता है जिसे हमने भाजपा को लागू करने नहीं दिया (जब पीडीपी-भाजपा गठबंधन की सरकार सत्ता में थी) वह अब राज्यपाल के जरिए लागू किया जा रहा है जिसके कारण करगिल में एक विस्फोटक स्थिति हुई हालांकि यह एक शांतिपूर्ण इलाका है। एजेंसी

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.