नागरिकता संशोधन विधेयक इतिहास के पन्नों पर स्वर्ण अक्षरों में लिखा जायेगा : प्रधानमंत्री मोदी

Samachar Jagat | Wednesday, 11 Dec 2019 11:52:10 AM
Citizenship Amendment Bill will be written in golden letters on the pages of history: PM Modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक इतिहास के पन्नों पर स्वर्ण अक्षरों में लिखा जायेगा और यह धार्मिक प्रताडऩा के पीडि़त शरण्यार्थीओ को स्थायी राहत देगा। सूत्रों ने यह जानकारी दी। भाजपा संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले छह महीने में सरकार ने जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जा संबंधी प्रावधानों को समाप्त करने, अर्थव्यवस्था की मजबूती, किसानों सहित विविध क्षेत्रों में ‘‘ऐतिहासिक कार्य’’ किये हैं और पार्टी सांसद इन कार्यों को जनता के बीच लेकर जाएं। सूत्रों के अनुसार, मोदी ने कहा, ‘‘नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर कुछ राजनीतिक दलों के नेता वैसी ही भाषा का उपयोग कर रहे हैं जैसी भाषा का उपयोग पाकिस्तान करता है और पार्टी सांसदों को इससे जनता को अवगत कराना चाहिए। उनकी टिप्पणी को नागरिकता संशोधन विधेयक पर कांग्रेस सहित कुछ विपक्षी दलों के विरोध के संदर्भ में देखा जा रहा है। कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस सहित कुछ विपक्षी दलों ने इस विधेयक को असंवैधानिक बताते हुए कहा है कि यह देश को धार्मिक आधार पर बांटने का प्रयास है।



loading...

सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ नागरिकता संशोधन विधेयक इतिहास के पन्नों पर स्वर्ण अक्षरों में लिखा जायेगा और यह धार्मिक प्रताडऩा के पीडि़त शरण्यार्थीओ को स्थायी राहत देगा। बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने संवाददाताओं से कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक राज्यसभा में दोपहर 12 बजे चर्चा एवं पारित होने के लिये रखा जायेगा। उन्होंने उम्मीद जतायी कि उच्च सदन में यह आसानी से पारित हो जायेगा। गौरतलब है कि लोकसभा ने सोमवार को नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी दे दी जिसमें अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से धाॢमक प्रताडऩा के कारण भारत आए हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन हेतु पात्र बनाने का प्रावधान है। प्रधानमंत्री ने पार्टी सांसदों से कहा कि वे आगामी बजट के बारे में समाज के विभिन्न वर्गो की राय लें और इसके बारे में वित्त मंत्री को बताएं। भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री ने कर्नाटक उपचुनाव में भाजपा की जीत पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए प्रदेश की जनता, मुख्यमंत्री बी एस येदियुप्पा और प्रदेश नेतृत्व को बधाई भी दी। मोदी ने कहा कि कर्नाटक उपचुनाव में हमारी पार्टी ने दो सीट ऐसी जीती हैं जिन्हें पहले कभी नहीं जीत पायी थी।

उन्होंने कहा कि कर्नाटक जीत के लिये हम सभी को प्रदेश की जनता का खड़े होकर अभिवादन करना चाहिए। उन्होंने पार्टी सांसदों से 25 दिसंबर को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजयेपी की जयंती अच्छे तरीके से मनाने को कहा। बैठक में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की छह महीने की उपलब्धियों पर एक पुस्तिका ‘‘एक शानदार शुरूआत’’ भी सांसदों को दी गई और उनसे सरकार के कार्यो को जनता के समक्ष ले जाने को कहा गया। इसमें कहा गया है कि बड़े वादे पूरे किये, बड़ी उम्मीदों को छूआ। इसमें 13 बिन्दुओं का खास तौर पर जिक्र किया गया है जिनमें 70 साल बाद एक देश एक संविधान अब हकीकत, अयोध्या फैसले के बाद शांति और सद्भाव सुनिश्चित, 5 ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य की ओर, वैश्विक स्तर पर उभरता भारत, नारी शक्ति का सशक्तीकरण, किसानों की आय और सुरक्षा के निर्णायक छह महीने, सुशासन को बढ़ावा देना, महात्मा गांधी सच्ची श्रद्धांजलि "150, जीवन की गुणवत्ता, सभी वर्गों को सामाजिक न्याय, भारतीय आधारभूत संरचना को वैश्विक स्तर पर ले जाना, सुरक्षित भारत...सक्षम भारत तथा विदेश नीति.. भारत का वैश्विक नेतृत्व शामिल हैं। बैठक में प्रधानमंत्री के अलावा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह , वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद, सामाजिक न्याय मंत्री थावर चंद गहलोत, विदेश मंत्री एस जयशंकर सहित पार्टी सांसदों ने हिस्सा लिया। -(एजेंसी)

loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.