न्यायालय ने व्हाट्सएप में शिकायत अधिकारी की नियुक्ति के लिए याचिका पर केन्द्र से मांगा जवाब

Samachar Jagat | Monday, 08 Oct 2018 06:16:13 PM
Court seeks response from Center on petition for appointment of complaint officer in Whatsapp

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने व्हाट्सएप द्बारा शिकायत अधिकारी की नियुक्ति के प्रावधान समेत भारतीय कानूनों का पालन नहीं करने के आरोप लगाने वाली याचिका पर सोमवार को केन्द्र से जवाब मांगा। न्यायमूर्ति आर एफ नरिमन और न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा की पीठ ने केन्द्र सरकार को इस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये केन्द्र सरकार को समय प्रदान किया।

तनुश्री दत्ता विवाद पर नाना पाटेकर ने तोड़ी चुप्पी, बोले- जो पहले सच था, वह आज भी सच है

इससे पहले, केन्द्र की ओर से अतिरिक्त सालिसीटर जनरल मनिन्दर सिह ने कहा कि याचिका में अनेक मुद्दे उठाए गए हैं और इनका जवाब देने के लिये समय चाहिए। शीर्ष कोर्ट ने गैर सरकारी संगठन 'सेन्टर फार एकाउन्टेबिलिटी ऐंड सिस्टेमिक चेंज’ की याचिका पर केन्द्र और व्हाट्सएप  को नोटिस जारी किए थे।

इस याचिका में व्हाट्सएप को भारतीय रिजर्व बैंक के प्रावधानों का पूरी तरह पालन किए बगैर भुगतान सेवा में कार्यवाही करने से रोकने का भी अनुरोध किया है। बताते हैं कि व्हाट्सएप के भारत में बीस करोड़ से अधिक उपभोक्ता है और करीब दस लाख लोग उसकी भुगतान सेवा का 'परीक्षण’ कर रहे हैं।

आपत्तिजनक व्यवहार के लिए महिला पत्रकार के आरोप के बाद रजत कपूर ने मांगी माफी

इस याचिका में कहा गया है कि बैंक खाता खोलने के लिए ग्राहक को भारतीय रिजर्व बैंक द्बारा प्रतिपादित केवाईसी मानकों और दूसरी औपचारिकताओं का पालन करने की आवश्यकता होती है।

लेकिन व्हाट्सएप एक विदेशी कंपनी है जिसका भारत में कोई कार्यालय नहीं है। भारत में भुगतान सेवा शुरू करने के लिए व्हाट्सएप के लिए भारत में  अपना कार्यालय खोलना और उपभोक्तओं के लिए शिकायत समाधान अधिकारी की नियुक्ति करना है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.