भोजन व्यर्थ करना ‘कार्बन अपराधी’ होने के समान है दवे

Samachar Jagat | Tuesday, 15 Nov 2016 03:22:00 AM
भोजन व्यर्थ करना ‘कार्बन अपराधी’ होने के समान है दवे

मराकेश। पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे ने आज कहा है कि भोजन व्यर्थ करना ‘‘कार्बन अपराधी’’ होने के बराबर है। उन्होंने ऐसी जीवनशैली अपनाने का आह्वान किया जिसमें कार्बन फुटफ्रिंट न्यूनतम हों।
कांफ्रेंस ऑफ पार्टीज सीओपी22 में शरीक होने आए दवे ने भारतीय पैवेलियन में ‘लो कार्बन लाइफस्टाइल’ और ‘लाइफस्टाइल फॉर मिनिमम कार्बन फुटप्रिंट’’ पर किताबों का लोकार्पण भी किया।
उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘आईये न्यूनतम कार्बन फुटप्रिंट को भविष्य के लिए एक अभियान बना लेते हैं । बदलाव की बयार खुद से शुरू होती है।’’
इससे पहले उन्होंने कहा था कि भारत चाहता है कि पेरिस समझौते को लागू करने के लिए विस्तृत रूपरेखा को अंतिम रूप दिया जाए।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.