मैं जनता के पूरे पैसे चुकाने के लिए तैयार हूं जो किंशफिशर ने लिए थे: विजय माल्या

Samachar Jagat | Thursday, 14 Feb 2019 02:33:39 PM
I am ready to pay the full amount of money that Kunshfisher had given: Vijay Mallya

नई दिल्ली। भारतीय बैंकों को हजारों करोड़ रुपये का चूना लगाकर विदेश भागने वाला करोबारी विजय माल्या ने गुरूवार को बैकों की जो राशि बकाया है। उसका भुगतान करने की बात कही है। माल्या ने यह बात ट्वीट के माध्यम से कही है। तो वहीं विदेश भागने वाले इस कारोबारी की यह प्रतिक्रिया लोकसभा में पीएम मोदी के स्पीच के बाद आई है। हालांकि माल्या को ब्रिटेन की अदालत ने भारत प्रत्यर्पित करने का फैसला सुना चुकी है। अब हो सकता है कि माल्या को जेल जाने का डर लग रहा हो। इसलिए उन्होंने एक के बाद एक चार ट्वीट किए। 


विजय माल्या ने अपने पहले ट्वीट में लिखा कि पीएम मोदी ने बुधवार को संसद में जो आखिरी स्पीच दिया उसे मैंने सुना। वह निश्चि​त तौर पर एक वाक्पटु वक्ता है। मैंने नोटिस किया कि उन्होंने बिना नाम लिए ही उस शख्स का जिक्र किया जो कि 9,000 करोड रुपए लेकर भाग गया। मीडिया में कही गई बातों से मैं अंदाजा लगा सकता हूं कि उनका इशारा मेरी तरफ ​था। 

अपने दूसरे ट्वीट में विजय माल्या ने कहा कि मेरे पहले ट्वीट के बाद मैं आग्रहपूर्वक प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूं कि वह बैंको को मुझसे पैसा लेने का आदेश क्यों नहीं दे रहे हैं। जबकि मैं जनता के पूरे पैसे चुकाने के लिए तैयार हूं जो किंशफिशर ने लिए थे।


इसके बाद माल्या ने एक और ट्वीट किया जिसमें लिखा कि मैंने बकाया राशि का भुगतान करने का ऑफर माननीय कर्नाटक हाईकोर्ट के सामने रखा है। इसे आप खारिज नहीं कर सकते हैं। यह पूरी तरह से वास्तविक, गंभीर, ईमानदार और तत्काल हासिल करने वाली पेशकश है। गेंद अब आपके पाले में है। आखिर बैंक वह पैसा वापस क्यों नहीं ले लेते जो उन्होंने किंशफिशर को दिया था?


फिर माल्या ने एक और चौथा ट्वीट किया जिसमें कहा कि मुझे मीडिया में आए प्रवर्तन निदेशालय के उस दावे को लेकर बातचीत करने में काफी पीड़ा हो रही है जिसमें कहा गया था कि मैंने अपनी संपत्ति छुपाई है। यदि मैंने संपत्ति छुपाई है तो मैं अदालत के सामने खुले तौर पर 14,000 करोड़ रुपये की संपत्ति कैसे रख सकता हूं? लोगों के बीच भ्रम फैलाया जा रहा है लेकिन यह चौंकाने वाला नहीं है।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.