यहां होती हैं 10 में 4 लड़कियां यौन उत्पीडऩ की शिकार

Samachar Jagat | Thursday, 01 Dec 2016 04:28:20 PM
यहां होती हैं 10 में 4 लड़कियां यौन उत्पीडऩ की शिकार

नई दिल्ली। भारत में 10 में से चार लड़कियां 19 वर्ष की आयु पूरी होने से पहले उत्पीडऩ या हिंसा की शिकार होती हैं। भारत में छह फीसदी लड़कियां 10 साल की आयु पूरी करने से पहले उत्पीडऩ की शिकार होती हैं, जबकि ब्राजील के लिए यह आंकड़ा 16 फीसदी, ब्रिटेन में 12 फीसदी तथा थाईलैंड में आठ फीसदी है। गैर सरकारी संगठन एक्शन एड की एक विज्ञप्ति से यह खुलासा हुआ है। संगठन द्वारा चार देशों में किए गए सर्वेक्षण में यह बात भी सामने आई है कि दुनिया भर में महिलाएं पहली बार युवावस्था में उत्पीडऩ की शिकार होती हैं।

खुलासा, 16 नवंबर तक जनधन खाते में 64 हजार करोड़ से ज्यादा जमा

शोध के दौरान यह भी सामने आया है कि भारत में तीन चौथाई (73 फीसदी) लड़कियां पिछले कुछ महीनों के दौरान उत्पीडऩ या हिंसा की शिकार हुई हैं। जबकि थाईलैंड में 67 फीसदी तथा ब्राजील में 87 फीसदी लड़कियां पिछले कुछ महीनों के दौैरान उत्पीडऩ या हिंसा की शिकार हुईं। सबसे चौंकाने वाला खुलासा यह है कि लड़कियों द्वारा उत्पीडऩ या हिंसा से बचने के लिए रोजमर्रा के जीवन में अपने आपको बचाने के लिए हर संभव कदम उठाना आम सा हो गया है।

आईएस में भर्ती करने वाला आस्ट्रेलियाई नागरिक तुर्की में गिरफ्तार

एक्शन एड इंडिया के कार्यकारी निदेशक संदीप चाचर ने कहा, विभिन्न देशों में किए गए सर्वेक्षणों से यह स्पष्ट हो गया है कि महिलाओं के खिलाफ उत्पीडऩ तथा हिंसा से निपटने के लिए सरकार तथा समाज की तरफ से कदम उठाना अनिवार्य हो गया है। पिछले कुछ दशकों में महिलाओं की क्षमता में काफी इजाफा हुआ है और आधी आबादी को बराबरी का दर्जा दिए जाने के अपने वादे से आज भी हम बेहद दूर हैं।

चीन करेगा ग्वादर बंदरगाह पर युद्धपोतों की तैनाती

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.