वाजपेयी की याद में प्रतिद्वंद्वी दलों के नेता आए साथ

Samachar Jagat | Tuesday, 21 Aug 2018 10:21:25 AM
In the memory of Vajpayee, the leaders of the rival parties came together

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नयी दिल्ली। भाजपा के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी की याद में आयोजित प्रार्थना सभा में विभिन्न दलों के नेताओं ने ‘सबका प्रधानमंत्री’ बताकर उनकी तारीफ की। विपक्ष ने जोर दिया कि सबको साथ लेकर चलने की उनकी विरासत को अपनाने की जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को आज एक ऐसी हस्ती करार दिया जो कभी दबाव में नहीं झुके और न ही विषम परिस्थितियों में कभी निराश हुए।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि वाजपेयी राजनीति में भी आरएसएस के कार्यकर्ता का अनुकरणीय जीवन जिए और हमेशा संगठन के मूल्यों के प्रति अटल रहे।

अलग-अलग क्षेत्रों के तमाम बड़े दलों और संगठनों के नेता पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि देने के लिए एक जगह जमा हुए। तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन ने धर्मनिरपेक्ष रूख के लिए उनकी प्रशंसा की और कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद ने हर किसी को साथ लेकर चलने के लिए उनकी सराहना की। कश्मीर की प्रतिद्वंद्वी पार्टिया- नेशनल कांफ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी ने एक सुर से सीमाई राज्य द्वारा सामना किये जा रहे मुद्दों से निपटने में वाजपेयी की कुशलता की तारीफ की। पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने उन्हें वहां के लोगों के लिए मसीहा बताया। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को आज एक ऐसी हस्ती करार दिया जो कभी दबाव में नहीं झुके और न ही विषम परिस्थितियों में कभी निराश हुए। उन्होंने कहा, ‘‘वाजपेयी जी की वजह से आतंकवाद वैश्विक मंच पर एक महत्वपूर्ण मुद्दा बन गया।

मोदी ने 1996 में राजग की अल्पकालिक सरकार का जिक्र करते हुए कहा कि जब वाजपेयी ने 13 दिन के लिए सरकार बनाई तो कोई पार्टी उनका समर्थन करने को तैयार नहीं थी। प्रधानमंत्री ने कहा सरकार गिर गई। उन्होंने (वाजपेयी) उम्मीद नहीं खोई और लोगों की सेवा के लिए प्रतिबद्ध रहे। उन्होंने कहा कि गठबंधन राजनीति के समय वाजपेयी ने मार्ग दिखाया।

भाजपा के वरिष्ठ नेता और छह दशकों से ज्यादा समय तक पार्टी में वाजपेयी के सहयोगी रहे लालकृष्ण अडवाणी ने उन्हें भावुक श्रद्धांजलि दी और कहा कि उन्हें कभी अंदाजा नहीं था कि वह ऐसी प्रार्थनासभा में बोलेंगे।भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ता पूर्व प्रधानमंत्री द्वारा दिखाए गए राह का अनुसरण करेंगे। श्रद्धांजलि देने के लिए प्रार्थना सभा में आए विभिन्न दलों के नेताओं का उन्होंने शुक्रिया अदा किया।

कांग्रेस के आनंद शर्मा, तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन, बसपा के सतीश मिश्रा, सीपीआई के डी राजा, लोकतांत्रिक जनता दल के मार्गदर्शक शरद यादव, नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला, पीडीपी की नेता महबूबा मुफ्ती, लोजपा के रामविलास पासवान, शिरोमणि अकाली दल की हरसिमरत कौर बादल समेत अन्य प्रार्थना सभा में मौजूद थे।लोकसभा उपाध्यक्ष एम थंबीदुरै और राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने भी इस अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित किया। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.