रिकॉर्ड बनाना इसरो का लक्ष्य नहीं : डॉ. कुमार

Samachar Jagat | Wednesday, 11 Jan 2017 05:21:16 PM
रिकॉर्ड बनाना इसरो का लक्ष्य नहीं : डॉ. कुमार

बेंगलुरु। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष ए.एस. किरण कुमार ने अगले महीने एक साथ होने वाले 103 उपग्रहों के प्रक्षेपण के संदर्भ में आज कहा कि इसरो का उद्देश्य कोई रिकॉर्ड बनाना नहीं बल्कि देश की प्रक्षेपण क्षमता बढ़ाना है। डॉ. कुमार ने कर्नाटक सरकार तथा उद्योग संगठन सीआईआई द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा कि अगले महीने इसरो ध्रुवीय स्थैतिक प्रक्षेपण यान पीएसएलवी-सी37 से एक साथ 103 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा जिसे पहले किसी और देश ने नहीं किया है। 

हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया की उसका लक्ष्य कोई कीर्तिमान स्थापित करना नहीं है। उन्होंने बताया कि इससे को वाणिज्यिक अंतरिक्ष बाजार में अपनी पैठ मजबूत करने में मदद मिलेगी। इस लांच में मुख्य उपग्रह कार्टोसैट-2 होगा । इसके अलावा इसरो के दो अन्य उपग्रह होंगे जबकि सौ अन्य उपग्रह एक ही क्लाइंट के होंगे जिसने अमेरिका, जर्मनी तथा अन्य देशों के उपग्रह प्रक्षेपण की जिम्मेदारी इसरो को दी है। 

उल्लेखनीय है कि एक साथ सबसे ज्यादा 33 उपग्रह छोडऩे का कीर्तिमान रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के नाम है। इसके बाद अमेरिका के नासा ने एक साथ 29 उपग्रह छोड़े हैं। वहीं, इसरो ने भी पिछले साल 22 जून को एक साथ 20 उपग्रह छोडक़र अपनी दक्षता प्रमाणित की थी।

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

ताज़ा खबर

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.