मानसून सत्र में उठाएंगे महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार का मुद्दा: सुष्मिता देव

Samachar Jagat | Friday, 06 Jul 2018 01:54:16 PM
Issue of rising atrocities on women will be raised in monsoon session: Sushmita Dev

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव ने नरेन्द्र मोदी सरकार पर देश में महिला विरोधी अपराधों के बढ़ते मामलों को गंभीरता से नहीं लेने का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस संसद के मानसून सत्र में इस मुद्दे को पुरजोर ढंग से उठाएगी। सुष्मिता ने ‘भाषा‘ के साथ बातचीत में कहा कि अगर देश में महिलाएं, अल्पसंख्यक और दलित खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं तो यह सरकार के लिए आत्मचिंतन का विषय है।

Sanju Box Office Collection: 200 करोड़ क्लब में शामिल हुई रणबीर कपूर की फिल्म

लेकिन सरकार समस्या को स्वीकार कर समाधान करने की बजाय इनकार करने में लगी हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार को गंभीरता से नहीं ले रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि उनकी पार्टी संसद के आगामी सत्र में महिला विरोधी हिंसा का मामला उठाएगी।

फिल्म 'धड़क' का तीसरा गाना 'पहली बार' रिलीज, जाह्नवी और ईशान की दिखी रोमांटिक केमिस्ट्री

सुष्मिता ने ‘थॉमसन रॉयटर फाउंडेशन‘ के हालिया सर्वेक्षण का हवाला देते हुए कहा कि जब हमारी सरकार में यह सर्वेक्षण आता है तो वह इस पर कुछ बोलते हैं और जब इनकी सरकार में आता है तो कुछ और बोलते हैं। समस्या से आंख मूँदने की बजाय समाधान के लिए कदम उठाना होगा।

सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हो रही है प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस की रोमांटिक साइकिल राइड तस्वीरें

सरकार की ओर से 12 साल से कम उम्र की बच्चियों से बलात्कार के मामलों में मौत की सजा का प्रावधान का अध्यादेश लाने के बारे में उन्होंने कहा कि अगर देश में माहौल सही होता तो मौत की सजा के कानून की क्या जरूरत होती? सामाजिक माहौल में बदलाव करना होगा। मोदी सरकार को माहौल सुधारने पर ध्यान देना चाहिए।

कैंसर से पीड़ित सोनाली बेंद्रे की जगह रियलिटी शो में जज बनी हुमा कुरैशी ने दिया बड़ा बयान

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.