जगन्नाथ मंदिर प्रबंधन हर श्रद्धालु को पूजा की अनुमति दे : न्यायालय

Samachar Jagat | Friday, 06 Jul 2018 08:24:58 AM
Jagannath temple management allow every worshiper to worship: court

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। पुरी की वार्षिक रथ यात्रा के पहले एक महत्वपूर्ण आदेश में सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को जगन्नाथ मंदिर प्रबंधन को निर्देश दिया कि वह हर श्रद्धालु को पूजा की अनुमति देने पर विचार करे, भले ही वह किसी भी पंथ का हो। न्यायालय ने हालांकि कहा कि श्रद्धालु को अनुमति ड्रेस कोड के संबंध में नियामक उपायों के तहत होगी।

न्यायालय के पूर्व के एक आदेश का जिक्र करते हुए न्यायमूर्ति आदर्श गोयल और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर की पीठ ने कहा कि हिंदू धर्म किसी अन्य विश्वास को खत्म नहीं करता है। यह सदियों के अनन्त विश्वास और ज्ञान और प्रेरणा को दर्शाता है। न्यायालय ने कहा कि न केवल राज्य बल्कि केंद्र भी धार्मिक स्थानों के संबंध में आगंतुकों द्वारा सामना की जाने वाली परेशानियों , प्रबंधन में कमी , स्वच्छता का रखरखाव , चढ़ावे का उचित उपयोग और संपत्तियों की सुरक्षा के पहलुओं पर गौर कर सकता है।

न्यायिक हस्तक्षेप के लिए रास्ता साफ करते हुए पीठ ने कहा कि पूरे भारत में हर जिला न्यायाधीश अपने अधिकार क्षेत्र के तहत खुद या किसी कोर्ट के माध्यम से ऐसे मामलों की जांच कर सकते हैं और संबंधित उच्च न्यायालय को एक रिपोर्ट भेज सकते हैं। ऐसी रिपोर्ट को जनहित याचिका के तौर पर माना जा सकता है।

न्यायमूर्ति गोयल ने अवकाशग्रहण करने से एक दिन पहले केंद्र को निर्देश दिया कि सेवकों की नियुक्ति , श्रद्धालुओं के उत्पीडऩ आदि के संबंध में पुरी के जिला न्यायाधीश द्वारा उठाए गए मुद्दों पर विचार करने के लिए दो हफ्ते में एक समिति गठित करे। पीठ ने केंद्र की समिति को 31 अगस्त तक अंतरिम रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया। 

'बत्ती गुल मीटर चालू' में इस किरदार में नजर आएगी यामी गौतम, फर्स्ट लुक आया सामने

कैंसर से जूझ रही एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे के लिए खड़ा हुआ बॉलीवुड, जल्द स्वस्थ होने की कामना की

करण जौहर की अपकमिंग फिल्म में फिर नजर आएंगी बॉलीवुड की मोस्ट रोमंटिक जोड़ी!

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.