केजरीवाल ने किए अमरिंदर परिवार के स्विस बैंक के खाते सार्वजनिक

Samachar Jagat | Monday, 21 Nov 2016 09:00:47 PM
केजरीवाल ने किए अमरिंदर परिवार के स्विस बैंक के खाते सार्वजनिक

बठिंडा। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पंजाब कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कैप्टन अमरिन्दर सिंह तथा उनके परिवार के स्विस बैंक खाते सोमवार को सार्वजनिक करते हुए चुनौती दी कि यदि उनमें हिम्मत है तो मेरे खिलाफ मानहानि का केस दायर करें।

आप सुप्रीमो ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चुनौती दी कि वे स्विस बैंक से कैप्टन सिंह का काला धन वापस लाकर दिखाएं। केजरीवाल ने जिले के कोटश्मीर में पार्टी की रैली को संबोधित करते हुए खाते का खुलासा किया। कैप्टन सिंह ने बतौर पंजाब के मुख्यमंत्री रहते 2002 से 2007 तक इन खातों में यह पैसा जमा किया।

उन्होंने पूर्व केन्द्रीय मंत्री परनीत कौर और उनके पुत्र रणइन्दर सिंह के बैंक खातों की जानकारी का खुलासा करते हुए कहा कि ये खाते वर्ष 2005 में खुलवाए गए थे। उन्होंने परिवार के खाता नंबर और साझे खातों के नंबर भी पढक़र सुनाए जिनमें परिवार ने बेइमानी का पैसा जमा किया।

केजरीवाल ने कहा कि यदि इसमें कुछ भी गलत जानकारी हो तो कैप्टन सिंह मेरे खिलाफ मानहानि का केस दायर कर मुझे जेल भेजें। वर्ष 2002 में सत्ता में आने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष दिवालिया हो गए थे और उनके पास अपने मोती महल की पुताई करवाने को पैसा भी नहीं था लेकिन सत्ता में आने के तीन साल बाद तो स्विस बैंकों में खाते खुलवा कर परिवार हर महीने मोटी रकम जमा करवाता था।

उन्होंने नोटबंदी के फैसले को गलत बताते हुए कहा कि लोग मोदी के इस नादिरशाही फैसले से बुरी तरह परेशान हैं। बादल परिवार के बारे में उन्होंने कहा कि बादल परिवार एंड कंपनी, जो कैप्टन सिंह के बाद सत्ता में आई थी, ने पंजाब को पूरी तरह बर्बाद कर दिया है।

उन्होंने आरोप लगाया कि बादलो ने पिछले 10 सालो में पंजाब में लगभग सभी कारोबारों ट्रांसपोर्ट, केबल, रेत, बजरी, शराब आदि पर कब्जा करके मोटा पैसा इक_ा किया है। धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी के दोषियों को अब तक पकड़ा नहीं गया लेकिन आप सत्ता में आने पर इन मामलों की जांच कराएगी और दोषियों को सख्त सजा मिलगी।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.