JNU से निष्कासन बरकरार रखने की समिति की सिफारिश को कोर्ट में चुनौती देंगे खालिद

Samachar Jagat | Friday, 06 Jul 2018 04:01:56 PM
Khalid to challenge recommendation of Committee to retain expulsion from JNU

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र उमर खालिद ने शुक्रवार को कहा कि छात्र नहीं झुकेंगे और उन्होंने कहा कि नौ फरवरी 2016 की विवादित घटना के संबंध में उनका निष्कासन बरकरार रखने की विश्वविद्यालय की एक समिति की सिफारिश को अदालत में चुनौती दी जाएगी।

मानसून सत्र में उठाएंगे महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार का मुद्दा: सुष्मिता देव

यह घटना संसद हमले के दोषी अफजल गुरू की फांसी के खिलाफ परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम में  कथित रूप से राष्ट्रविरोधी नारेबाजी से संबंधित है। सोशल मीडिया पर जारी बयान में खालिद ने कहा कि बीते 2 साल में यह तीसरी बार है जब प्रशासन इस मामले मे उनके खिलाफ निष्कासन आदेश लेकर आया है जिसमें से दो बार के आदेश को अदालतों द्वारा निरस्त किया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि हम एक बार फिर इस जांच , इसके निष्कर्षों और फैसले को खारिज करते हैं। यह नैर्सिंगक न्याय के सभी सिद्धांतों के खिलाफ है और यह विरोधाभासों , झूठ और द्वेषपूर्ण मंशा से भरा हुआ है जिसका एक बार फिर जल्द ही पर्दाफाश किया जाएगा। हम एक बार फिर इसे अदालत में चुनौती देंगे।

पीएचडी शोधार्थी ने कहा कि उन्हें जांच द्वारा व्यवस्थित एवं द्वेषपूर्ण तरीके से निशाना बनाया जा रहा है और जांच पहले दिन से हमारे खिलाफ पूर्वाग्रह से ग्रस्त थी। बयान में कहा गया , ‘‘ सत्तारूढ बीजेपी और आरएसएस के आदेशों पर चल रहा प्रशासन किसी भी समय निष्पक्ष तरीके से इस जांच को पूरा करने की स्थिति में नहीं था।

जुए-सट्टे से पीढिय़ों को बर्बाद करने की तैयारी में सरकार: कांग्रेस 

कोर्ट ने जांच प्रक्रिया में बार बार खामी पाई और उसने हमारी चिंताओं को सही साबित किया। गौरतलब है कि जेएनयू की उच्चस्तरीय जांच समिति ने फरवरी 2016 की विवादित घटना के संबंध में खालिद के निष्कासन और छात्र संघ के तत्कालीन अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर दस हजार रुपए के जुर्माने को सही ठहराया है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.