कश्मीर में सेना को खुली छूट दें: तोगडिय़ा

Samachar Jagat | Monday, 12 Feb 2018 09:56:04 AM
Let the army open in Kashmir: Togadia
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures

चंडीगढ़। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगडिय़ा ने रविवार को कहा कि कश्मीर घाटी में दिक्कतें पैदा करने वालों से निपटने के लिए सेना को ‘‘खुली छूट’’ दी जानी चाहिए। तोगडिय़ा ने यहां विहिप कार्यकर्ताओं की एक सभा को संबोधित करते हुए यह टिप्पणी की।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने तीर्थंकरों से प्रेरणा लेकर अहिंसा का मार्ग अपनाया :नायडू

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि कश्मीर में हमारे बल तक सुरक्षित नहीं हैं तो आम लोगों की सुरक्षा की क्या बात करें। मैंने एक सलाह दी है कि हमारी सेना पर पथराव करने वालों पर सेना को बमबारी करने का आदेश दिया जाए। सेना को समस्या से निपटने के लिए खुली छूट देनी चाहिए।

तोगडिय़ा ने 1971 के भारत-पाक युद्ध की तरफ इशारा करते हुए तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के साहसी नेतृत्व की तारीफ की। उन्होंने कहा कि मैंने कहा है कि यह पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध करने का समय है। अगर उस वक्त इंदिरा गांधी पाकिस्तान को दो हिस्सों में बांट सकती हैं और 90,000 से अधिक पाकिस्तानी सैनिकों को युद्धबंदी बना सकती हैं तो अब यह पाकिस्तान को पांच हिस्सों में तोडऩे का और एक लाख पाक सैनिकों को पकडऩे का समय है।

तोगडिय़ा ने कहा कि मैं यह कह रहा हूं कि पाकिस्तान के कारण हर दूसरे दिन हमारे सैनिक मर रहे हैं, सेना को पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध की घोषणा करने और उस देश को पांच हिस्सों में बांटने का आदेश दिया जाना चाहिए।

राजनीति के पार देसी विदेशी पकौड़े का संसार

उन्होंने जम्मू-कश्मीर विधानसभा में नेशनल कॉन्फ्रेंस के एक वरिष्ठ विधायक द्वारा पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने से जुड़ा सवाल करने पर कहा कि उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए और अदालत उन्हें फांसी की सजा सुनाए ताकि आगे इस देश में कोई भी पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने की जुर्रत ना कर सके।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.