लोकसभा चुनाव 2019: इस वजह से हिसार जिले के दो गांवों ने किया मतदान का बहिष्कार

Samachar Jagat | Monday, 13 May 2019 12:24:33 PM
Lok Sabha Elections 2019 Two villages of Hisar district boycotted voting for this reason

हिसार। हरियाणा में हिसार संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत हिसार जिले के दो गांवों के लोगों ने लोकसभा चुनाव के लिए 12 मई रविवार को हुए मतदान का बहिष्कार किया। गांव बालावास के लोगों ने जलघर व तालाब पक्का करने की मांग पूरी न होने और सरसाना के लोगों ने तहसील बदले जाने के रोष स्वरूप मतदान का बहिष्कार किया। यह लोग उक्त मांग को लेकर पांच दिन से धरने पर बैठे हुए थे। जब सरकार और प्रशासन ने इनकी मांग नहीं मानी तो गांव के लोगों ने मतदान का बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया। 

Rawat Public School

यहां शव यात्रा के दौरान कराया जाता है अश्लील डांस, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

हिसार के अतिरिक्त जिला उपायुक्त (एडीसी) ने गांव पहुंचकर गांव वालों को मनाने की कोशिश की पर वह नहीं माने। गांव में बहिष्कार का ऐलान होने से पहले केवल 16 वोट डाले गए थे। इसी तरह गांव सरसाना के लोगों ने गांव की तहसील बदले जाने के खिलाफ मतदान का बहिष्कार किया। ग्रामीणों के मुताबिक उनका गांव बरवाला तहसील के अंतर्गत आता था। 

भगवान शिव के इस मंदिर को बनने में लगा था मात्र एक रात का समय, यहां पूजा करने से डरते हैं लोग

कुछ महीने पहले ही सरकार ने उनके गांव को बरवाला तहसील से हटाकर नारनौंद क्षेत्र में नई बनी खेड़ी चौपटा के अंतर्गत कर दिया, जिससे ग्रामीणों में रोष है। इन्होंने काई बार सरकार से इस पर विरोध भी जताया, लेकिन कोई सुनवाई न होने पर मतदान का बहिष्कार कर दिया। यहां पर बहिष्कार होने से पहले केवल 15 वोट डाले गए। -एजेंसी

यहां जमीन में गढ़ा हुआ है परशुराम का फरसा, जो भी हाथ लगाता है हो जाती है उसकी मौत



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.