महाराष्ट्र चुनाव: गठबंधन में शिवसेना का पलड़ा पड़ा कमजोर, भाजपा तेजी से उभर कर आई सामने 

Samachar Jagat | Thursday, 03 Oct 2019 10:02:48 AM
Maharashtra election: Shiv Sena's shoulder is weak in coalition, BJP emerged fast

इंटरनेट डेस्क। महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना में जब तक गठबंधन था, तब तक शिवसेना बड़े भाई की भूमिका में थी लेकिन जैसे ही 2014 में पहली बार दोनों अलग हुए वैसे ही पासा पलट गया। अब बीजेपी बड़े भाई की भूमिका में हैं। बीजेपी के सामने शिवसेना नतमस्तक हो गई है। 1990 में दोनों ने मिलकर पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ा तब शिवसेना ने 183 सीट और बीजेपी ने 104 सीटों पर चुनाव लड़ा था। इस बार विधानसभा चुनाव में बीजेपी 164 जबकि शिवसेना 124 सीट पर लड़ रही है। जो कभी बड़े भाई की भूमिका में था अब वह छोटा भाई बनकर रह गया है।


loading...

http://www.newscrab.com/article/entertainment/the-key-to-instant-entertainment-and-freedom-of-expression-10548

वर्ष 1989 से पहले महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी की अलग राह थी। दोनों को एक राह पर लाने का श्रेय दिवंगत बीजेपी नेता प्रमोद महाजन और शिवसेना सुप्रीमो बाला साहेब ठाकरे को जाता है। उस वक्त महाराष्ट्र में शिवसेना बड़े भाई की भूमिका में थी और बीजेपी छोटे भाई की। शिवसेना के एक वरिष्ठ नेता बताते हैं कि 90 के दशक में बीजेपी बाला साहेब ठाकरे से ज्यादा सीटों की गुहार लगाती थी। 20 साल बाद अब शिवसेना बीजेपी की दया पर निर्भर है। 1989 में शिवसेना-बीजेपी का गठबंधन हुआ। दोनों ने मिलकर 1990 में विधानसभा चुनाव लड़ा। उस वक्त शिवसेना ने बीजेपी को 104 सीटें दी थी और खुद 183 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

http://www.newscrab.com/article/entertainment/the-key-to-instant-entertainment-and-freedom-of-expression-10548

इसमें बीजेपी को 42 और शिवसेना को 52 सीटें मिलीं। वर्ष 2014 में पासा पूरी तरह से पलट गया। इस साल दोनों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा। बीजेपी को 27.81 प्रतिशत और शिवसेना को 19.35 प्रतशित वोट ही मिले। यहां से मोदी युग की शुरुआत हुई। लोकसभा चुनाव भले ही दोनों दलों ने मिलकर लड़ा लेकिन विधानसभा चुनाव में दोनों अलग हो गए। 25 साल का गठबंधन टूट गया। उस साल बीजेपी ने 260 सीटों पर चुनाव लड़ा और 122 सीटें जीतकर आई जबकि शिवसेना ने 282 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे, लेकिन 63 विधायक ही जीत सके।

http://www.newscrab.com/article/entertainment/the-key-to-instant-entertainment-and-freedom-of-expression-10548

बीजेपी की तुलना में शिवसेना दूसरे नंबर की पार्टी बन गई। इस दरम्यान बीजेपी को शिवसेना से कहीं ज्यादा वोट मिले। 2009 में बीजेपी ने 14 प्रतिशत और शिवसेना ने 16.30 प्रतिशत वोट हासिल किए थे।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.