महात्मा गांधी की 150वीं जयंती : अतुल्य भारत नारे में शामिल होंगे शब्द गांधी की भूमि

Samachar Jagat | Saturday, 15 Sep 2018 12:03:27 PM
Mahatma Gandhi's 150th birth anniversary: Incredible India will include the slogan Gandhi land

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। पर्यटन मंत्रालय अपने प्रमुख कार्यक्रम अतुल्य भारत के आदर्श वाक्य में गांधी की भूमि शब्दों को शामिल करेगा। पर्यटन सचिव रश्मि वर्मा ने शुक्रवार को कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाने के लिए बनायी गयी योजनाओं के तहत यह परिवर्तन किया जाएगा। सरकार ने दो अक्टूबर 2018 से 30 मार्च 2019 तक महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को मनाने की अपनी योजना पहले ही घोषित कर दी है। सरकार ने अपने सभी मंत्रालयों से कहा है कि वह इस अवसर को मनाने के लिए अपनी योजनाएं तैयार रखे।

गर्लफ्रेंड को खुश करने के लिए डेयरी मिल्क के साथ दे रिलायंस जियो का फ्री 1जीबी 4जी डाटा

वर्मा ने कहा, हमने गांधीजी के जीवन से जुड़ी विभिन्न गतिविधियों के बारे में योजनाएं बनायी हैं, भारत और विदेशी कार्यालय, दोनों के लिए। हम अतुल्य भारत के आदर्श वाक्य में जल्द ही गांधी की भूमि शब्द जोड़ेंगे और इसे प्रमुखता से प्रदर्शित किया जाएगा। मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि इस माह के बाद से जारी होने वाले अतुल्य भारत के विज्ञापनों में गांधी का उल्लेख होगा। वर्मा ने यह भी बताया कि मंत्रालय के विदेशी कार्यालयों में गांधीजी से जुड़ा साहित्य वितरित किया जाएगा।

दक्षिणपंथी संगठनों ने सलमान की 'लवरात्रि’ पर हिंदू उत्सव के नाम को विकृत करने का लगाया आरोप, सलमान ने दिया ये जवाब

महात्मा गांधी की शिक्षाओं को बढ़ावा देने के लिए प्रश्नोत्तरी प्रतिस्पर्धा आयोजित की जाएगी तथा उनके जीवन के बारे में जागरूकता पैदा की जाएगी। मंत्रालय की वेबसाइट पर गांधीजी की 150वीं जयंती के अवसर पर उनके बारे में अलग से एक पेज होगा। वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में गांधीजी की 150वीं जयंती मनाने के होने वाले विभिन्न आयोजनों के मकसद से 150 करोड़ रूपए आवंटित किए हैं। - एजेंसी 

इजरायल पर्यटन के लिए तीन साल में पांच शीर्ष बाजारों में शामिल हो सकता है भारत

 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.