ममता को उपाधि के खिलाफ जनहित याचिका राजनीति से प्रेरित बंगाल सरकार ने अदालत में कहा

Samachar Jagat | Thursday, 11 Jan 2018 04:43:41 AM
Mamata's public interest petition against the title, inspired by politics, the Bengal government said in court

कोलकाता। पश्चिम बंगाल सरकार ने कलकत्ता उच्च न्यायालय में कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को डी लिट की मानद उपाधि देने के कलकत्ता विश्वविद्यालय के फैसले को चुनौती देने वाली जनहित याचिका राजनीति से प्रेरित है।

कलकत्ता विश्वविद्यालय कल अपने दीक्षांत समारोह में संस्थान की छात्रा रहीं ममता बनर्जी को डी लिट की उपाधि प्रदान करेगा। महाधिवक्ता किशोर दत्ता ने उच्च न्यायालय की एक पीठ के समक्ष कहा कि मानद उपाधि देने का फैसला कलकत्ता विश्वविद्यालय के सीनेट और सिंडिकेट ने किया।

पीठ में कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति जे भट्टाचार्य और न्यायमूर्ति अरिजीत बनर्जी शामिल थे। उन्होंने कहा कि इस याचिका को जनहित याचिका नहीं मानना चाहिए और इसे खारिज कर दिया जाना चाहिए।

याचिकाकर्ता और विश्वविद्यालय के पूर्व प्राध्यापक रंजूगोपाल मुखर्जी ने दावा किया कि उपाधि देने का फैसला मनमाना और अपारदर्शी है। उनके वकील विकास भट्टाचार्य ने दलील दी कि विश्वविद्यालय के मुद्दे और शिक्षा खुद ही जनहित के विषय हैं। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.