16 मार्च : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Saturday, 16 Mar 2019 04:35:24 PM
March 16: Read in just one click, 10 big news a day

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

लोकसभा चुनाव में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए कवायद शुरू


इटावा। जिला प्रशासन ने लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में मतदान का प्रतिशत बढ़ाकर देशभर में पहले पायदान लाने की कवायद शुरू की गई है। इटावा के जिलानिर्वाचन अधिकारी जितेंद्र बहादुर सिंह ने शनिवार को यहां बताया कि उनके स्तर पर मतदाताओं से लगातार अपील की जा रही है कि लोकतंत्र के महापर्व संसदीय चुनाव में मतदान करके अपनी भूमिका का निर्वाहन करे ताकि इटावा जिला मतदान मे पहली पायदान पर आ सके।

उन्होंने बताया कि मतदाताओं को जागरूक करने के लिए शिक्षा विभाग की सबसे बड़ी भूमिका है। इसके तहत जागरूकता कार्यक्रमों की जिम्मेदारी प्रधानाचार्यों को सौंपी गई है। प्रधानाचार्य अलग-अलग दिनों में कार्यक्रमों का आयोजन करेंगे। सिंह ने बताया कि राजकीय इन्टर कालेज के प्रधानाचार्य डॉ. मुकेश यादव, सेविन हिल्स के प्रधानाचार्य डॉ. कैलाश यादव तथा संत विवेकानंद के प्रधानाचार्य डॉ. आनंद को मुख्य रूप से इन कार्यक्रमों की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

आठ अप्रैल को सरकारी कार्यालयों में मतदाता जागरूकता की शपथ दिलाई जाएगी। 16 अप्रैल को मानव श्रंखला बनाई जाएगी। मतदाताओं को जागरूक करने के अन्य तरीके भी अपनाए जा रहे हैं। उन्होने बताया कि इस पहल का प्रारभिक असर भी होता हुआ दिख रहा है क्यों कि मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए विभिन्न संस्थाओं ने अपने स्तर पर भी जागरूकता अभियान चलाया ही जा रहा है। साथ ही परिषद स्कूलो के शिक्षको की ओर से भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है। 

25 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी बेनीवाल की RLP, अन्य दलों से करेगी गठबंधन

जयपुर। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) आगामी लोकसभा चुनाव में राज्य की सभी 25 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और इसके लिए वह बसपा, बीटीपी एवं माकपा सहित अन्य दलों से गठबंधन के लिए बातचीत कर रही है। आरएलपी के राष्ट्रीय संयोजक और खींवसर से विधायक हनुमान बेनीवाल ने शनिवार को यहां यह घोषणा की।

बेनीवाल ने कहा कि राज्य की 25 सीटों पर आरएलपी गठबंधन के माध्यम से अपने प्रत्याशी उतारेगी। इसके लिए बसपा, कम्युनिस्ट पार्टी, बीटीपी और अन्य दलों से महत्वपूर्ण दौर की बातचीत चल रही है। उन्होंने उम्मीद जताई कि भले ही विधानसभा चुनाव में उनका इस दिशा का प्रयास सफल नहीं रहा लेकिन पूरी उम्मीद है कि लोकसभा में कोई न कोई गठबंधन सामने आएगा। बेनीवाल ने कहा कि गत विधानसभा चुनाव में पहली बार मैदान में उतरी आरएलपी ने 57 सीटों पर प्रत्याशी उतारे। उसने तीन सीटों पर जीत ही नहीं दर्ज की बल्कि लगभग दो दर्जन सीटों पर उसके प्रत्याशियों ने अच्छे खासे सम्मानजनक वोट हासिल कर परिणाम बदल दिए।

उन्होंने कहा कि हम शुरू से ही कहते रहते हैं कि सत्ता प्राप्ति हमारा लक्ष्य नहीं है। हम मुद्दों पर आधारित राजनीति करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि आम चुनाव में भी पार्टी किसानों को संपूर्ण कर्ज़ा माफी, नि:शुल्क बिजली, बेरोजगारी भत्ते तथा सरकारी नौकरियों में खाली पद भरने सहित अन्य मुद्दों को लेकर उतरेगी। इस अवसर पर पार्टी के अन्य विधायक इंदिरा देवी व पुखराज भी मौजूद थे। हालांकि किसी अन्य दल का नेता उपस्थित नहीं था। उल्लेखनीय है कि दिसंबर में हुए विधानसभा चुनाव में आरएलपी ने खींवसर के साथ साथ मेड़ता और भोपालगढ सीट पर जीत दर्ज की।
 

अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने को लेकर चीन के साथ वार्ता कर रहे अमेरिका, फ्रांस, इंग्लैंड

वाशिंगटन। ऐसा माना जा रहा है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन, चीन के साथ गहन सद्भावना वार्ता कर रहे हैं, ताकि आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र में वैश्विक आतंकवादी घोषित करने को लेकर कोई समझौता किया जा सके।

मामले के जानकार लोगों के मुताबिक यदि इस प्रयास के बावजूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित नहीं किया जाता तो तीन स्थायी सदस्य इस मुद्दे पर खुली बहस के लिए प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र की सबसे शक्तिशाली शाखा में पेश करने की योजना बना रहे हैं। चीन ने अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किए के संबंध में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की प्रतिबंध समिति में पेश प्रस्ताव को बुधवार को चौथी बार बाधित किया।

इस प्रस्ताव को अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने पेश किया था। भारत ने चीन के इस रुख के प्रति निराशा जताई है और प्रस्ताव पेश करने वाले देशों ने चेताया है कि वे अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए अन्य कदमों पर विचार करेंगे। हालांकि सुरक्षा परिषद समिति की आंतरिक वार्ताएं गोपनीय रखी जाती हैं लेकिन इस बार आतंकवादी को बचाने के चीन के अनुचित दृष्टिकोण से हताश परिषद के कई सदस्यों ने अपनी पहचान गोपनीय रखते हुए मीडिया को बताया कि चीन किस प्रकार नकारात्मक भूमिका निभा रहा है।

ऐसा माना जा रहा है कि प्रस्ताव के मूल प्रायोजक पिछले 50 घंटों से चीन के साथ सद्भावना वार्ता कर रहे हैं जिसे मामले के जानकार कई लोगों ने समझौता करार दिया है। इसका संभवत: यह मतलब है कि अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद समिति में वैश्विक आतंकवादी तो घोषित किया जाएगा लेकिन उसे आतंकवादी घोषित करते समय इस्तेमाल की जाने वाली भाषा ऐसी होगी, जो चीन के लिए स्वीकार्य हो।

माना जा रहा है कि चीन ने अजहर को आतंकवादी घोषित किए जाने की भाषा में कुछ बदलावों का सुझाव दिया है और अमेरिका, ब्रिटेन तथा फ्रांस इन सुझावों पर विचार कर रहे हैं। तीनों देशों ने संकेत दिया है कि यदि प्रस्ताव का मूल भाव नहीं बदलता और अंतत: अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया जाता है तो वे भाषा में बदलाव करने के चीन के अनुरोध को मानने के इच्छुक हैं।

लेकिन अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन और सुरक्षा परिषद के अन्य सदस्य अतीत के विपरीत, इस बार चीन के साथ वार्ता का निष्कर्ष निकलने तक बहुत अधिक देर इंतजार करने के इच्छुक नहीं हैं। ऐसा समझा जाता है कि चीन को इन देशों ने सूचित किया है कि वे अन्य विकल्पों पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं।

वे खासकर खुली बहस पर विचार कर रहे हैं जिसके बाद प्रस्ताव पर मतदान होगा। बीजिंग को सूचित किया गया है कि यह कुछ महीनों, कुछ सप्ताह में नहीं, बल्कि कुछ दिनों में होगा। साथ ही, इन देशों के अधिकारियों का मानना है कि चीन पहले की तुलना में इस बार अधिक सहयोग कर रहा है। इस प्रस्ताव पर चीन का सहयोग मिलने को बड़ी सफलता माना जाएगा। चीन, अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के बीच बातचीत होना एक सकारात्मक संकेत माना जा रहा है। 

ट्रम्प ने आपातकालीन घोषणा को रोकने के बिल पर वीटो लगाया

वाशिंगटन।  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को दक्षिणी सीमा पर राष्ट्रीय आपातकाल की अपनी घोषणा के विरुद्ध एक बिल को पलटने के लिए वीटो का इस्तेमाल किया जो उनके कार्यकाल का इस तरह का पहला कदम है। 

ट्रम्प ने अमेरिकी सीनेट द्वारा प्रस्ताव पारित किए जाने के एक दिन बाद सीमा दीवार के लिए धन प्राप्त करने के लिए आपातकालीन घोषणा के विरुद्ध कांग्रेस के बिल पर वीटो पर हस्ताक्षर किए। ट्रम्प ने सीनेट वोट के तुरंत बाद बिल पर वीटो लगाने का दावा किया। ट्रम्प ने वीटो पर हस्ताक्षर करने के बाद कहा,‘‘हम अभी बहुत सारी दीवार बना रहे हैं, उन्होंने संकेत देते हुए कहा कि वह आपातकाल की घोषणा के बाद धन प्राप्त कर मेक्सिको के साथ अमेरिका की सीमा पर दीवार बनाने की योजना को आगे बढ़ा रहे हैं।

अटॉर्नी जनरल विलियम बर और गृह सुरक्षा मंत्री कस्र्टन नील्सन शुक्रवार के हस्ताक्षर समारोह के दौरान ट्रम्प के साथ दिखे। नीलसन ने कहा कि सच्चाई है कि यह आपातकाल अखंडनीय है। ट्रम्प के वीटो से बिल वापस कांग्रेस के पास पहुंच गया जहां आने वाले हफ्तों में हाउस ऑफ रिप्रेजेनटेटिव को फिर से इसे उठाने की उम्मीद है। उम्मीद है कि वीटो को रद्द करने के लिए सदन में 290 वोट नहीं मिलेगा। 

कैंसर का इलाज कराने के बाद भारत लौटे इरफान खान ने शुरू किया 'हिंदी मीडियम 2' पर काम

एंटरटेनमेंट डेस्क। कुछ दिन पहले ही कैंसर का इलाज करवाकर बॉलीवुड अभिनेता इरफान भारत लौटे थे। अब इरफान खान की पहली तस्वीर सामने आई है। इरफान को मुंबई में प्रोडेक्यशन हाउस मैडॉक फिल्म्स के आफिस के बार स्पॉट करते देखा गया। अब ऐसा माना जा रहा है ​कि वह फिल्म हिंदी मीडियम के सीक्वल के सिलसिले में दिनेश विजान से मिलने गए थे। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो इरफान खान की सेहत ठीक है। इसके साथ ही वे अब जल्द ही 'हिंदी मीडियम 2' की शूटिंग शुरू करेंगे। 

तो वहीं एक खबर के अनुसार हिंदी मीडियम 2 के सीक्वल की जल्द ही आधिकारिक घोषणा हो सकती है। क्योंकि हाल ही में दिनेश विजान ने इस साल से इरफान खान के फिल्म में काम करने को लेकर संभावना जताई थी। 

आपको बता दें कि बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान ने पिछले साल लंदन में न्यूरो इंडोक्राइन नामक बीमारी का इलाज कराया था। इस दौरान वे काफी समय से फिल्मों से दूर रहे थे। लेकिन वे अब जल्द ही बडे पर्दे पर वापसी कर सकते है। 

गौरतलब है कि फिल्म हिंदी मीडियम को दर्शकों ने काफी पसंद किया था। इस फिल्म ने बॉक्स आफिस पर काफी अच्छा कलेक्शन किया था। इस फिल्म में इरफान खान के साथ सबा कमर नजर आई थी। हिंदी मीडियम का निर्देशन साकेत चौधरी ने किया था। इस फिल्म के सीक्वल में इरफान के साथ राधिका आप्टे और राधिका मदान नजर आ सकती हैं।  राधिका आप्टे मां और राधिका मदान बेटी का किरदार निभा सकती हैं।  फिल्म को दिनेश विजान प्रोड्यूस करेंगे।  
 

स्वामी विवेकानंद की बायोपिक में काम करना चाहते हैं आशुतोष राणा

मुंबई। बॉलीवुड के जाने-माने चरित्र अभिनेता आशुतोष राणा स्वामी विवेकानंद का किरदार सिल्वर स्क्रीन पर साकार करना चाहते हैं। आशुतोष राणा, स्वामी विवेकानंद की भूमिका परदे पर निभाना चाहते हैं। आशुतोष ने कहा कि किसी भी अभिनेता को समय-समय पर हर तरह की भूमिका करने का अवसर मिले, इससे बेहतर क्या हो सकता है, यही सोच कर तो सिनेमा को चुना था और मुंबई आए थे।

इन दिनों बॉलीवुड में बायोपिक फिल्मों का खूब चलन है। आशुतोष खुद भी स्वामी विवेकानंद का किरदार परदे पर निभाने की इच्छा रखते हैं। आशुतोष राणा ने कहा, मैं विवेकानंद की बायोपिक करना चाहता हूं। मुझे ऊपरवाले पर पूरा विश्वास है कि एक दिन मेरी यह इच्छा वह जरूर पूरी करेंगे, क्योंकि आज तक उन्होंने मेरी हर इच्छा पूरी की है। मेरा मानना है कि स्वामी विवेकानंद जैसे महान लोग व्यक्ति के रूप में जन्म लेते हैं और अपने जीवन काल में व्यक्तित्व को ऐसा रखते हैं कि उनका पूरा व्यक्तित्व समाज के लिए एक मार्गदर्शन बन जाता है। समाज को उनसे सीखने के लिए बहुत कुछ है। 

रिकी पोंटिंग ने की ऋषभ पंत की जमकर तारीफ, कहा-धोनी के बाद है सबसे अच्छे कीपर

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज़ में अपने प्रदर्शन के बाद आलोचनाओं का शिकार हुए युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत के बचाव में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग उतर गए हैं जिन्होंने भारत की विश्वकप टीम में धोनी के बाद पंत को सर्वश्रेष्ठ कीपर बताया है। इंडियन प्रीमियर लीग की टीम दिल्ली कैपिटल्स के प्रमुख कोच पोंटिंग ने कहा कि यदि पंत हमारे लिए कुछ मैच जीत जाएंगे तो कोई भी उनकी पिछली विफलता को याद नहीं करेगा।

मैं उनके अलावा किसी और को विश्वकप टीम में भारत के दूसरे सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर के रूप में नहीं देखता हूं। भारतीय टीम 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले आईसीसी विश्वकप में प्रमुख दावेदार के रूप में उतरेगी। हालांकि टीम में विकेटकीपर के तौर पर धोनी के बाद दूसरे विकल्प को लेकर माथापच्ची जारी है।

वनडे सीरीज़ में पंत की स्टम्प के पीछे विफलता के बाद यह दुविधा और बढ गई है। 37 वर्षीय पोंटिंग ने हालांकि पंत का भरपूर समर्थन करते हुए कहा है कि धोनी के बाद यदि दूसरा विकेटकीपर जो विश्वकप में भारतीय टीम की जिम्मेदारी निभा सकता है, वह पंत है। उन्होंने कहा कि पंत यदि आईपीएल में कुछ अच्छे मैच खेल लेंगे तो उनका आत्मविश्वास खुद ही बढ जाएगा और वह विश्वकप में भी अच्छा कर पाएंगे।

भारतीय बोर्ड ने विश्वकप के लिये अभी तक अपनी 15 सदस्यीय टीम का चुनाव नहीं किया है और दिल्ली कैपिटल्स के कोच ने अभी से आईसीसी टूर्नामेंट के लिए पंत को अपनी पसंद बता दिया है। उन्होंने कहा कि मेरे लिए बतौर कोच यह बड़ी जिम्मेदारी है कि पंत अपने पिछले खराब प्रदर्शन को भूल सकें। अच्छा है कि उन्होंने आखिरी के मैच ही सीरीज़ में खेले क्योंकि लगातार दबाव में  वह सभी पांचों मैच नहीं खेल पाते।

पंत को धोनी के बाद भारतीय टीम का नया विकेटकीपर माना जा रहा है लेकिन दिल्ली के खिलाड़ी को सीमित ओवर प्रारूप में धोनी की मौजूदगी की वजह से ज्यादा कुछ करने का मौका नहीं मिल सका है। आस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज़ के आखिरी मैचों में धोनी को आराम दिए जाने के बाद पंत को मौका मिला तो वह खुद को साबित नहीं कर सके और मोहाली वनडे में उनकी खराब स्टम्पिंग से टीम को हार झेलनी पड़ी। 

IPL 2019: केकेआर को लगा एक और बड़ा झटका, बाहर हुआ यह स्टार खिलाड़ी

स्पोटर्स डेस्क। आईपीएल के 12वें सीजन की शुरूआत से पहले कोलकाता नाइटराइडर्स को एक और बड़ा झटका लगा है। टीम के तेज गेंदबाज शिवम मावी चोट के कारण इस पूरे सीजन से बाहर हो गए है। इससे पहले कमलेश नागरकोटी भी चोट के कारण इस सीजन से बाहर हो गए है। हालांकि नागरकोटी ने पिछला सीजन भी नहीं खेला था। लेकिन दो मुख्य तेज गेंदबाजों का इस टूर्नामेंट से पहले चोटिल होना टीम के फ्रेचाइजों के लिए चिंता का विषय हो गया है। दो प्रमुख गेंदबाजों के चोटिल होने से टीम को अपने प्लान बदलने पड़ सकते हैं।

आपको बता दें कि पिछले साल अंडर—19 विश्व कप में शिवम मावी और नागरकोटी ने शानदार प्रदर्शन किया था। इस प्रदर्शन के कारण इन दोनों खिलाडियों को केकेआर ने अपनी टीम में शामिल किया गया था। लेकिन आईपीएल शुरू होने से पहले नागरकोटी चोटिल हो गए और पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो गए। उनकी ​जगह प्रसिद्ध कृष्णा को टीम में शामिल किया गया था। 

तो वहीं शिवम मावी ने पिछले सीजन में केकेआर की टीम में शानदार प्रदर्शन किया था। लेकिन इस बार वे चोटिल हो गए है। इस कारण पूरेे टूर्नामेंट से बाहर हो गए है। गौरतलब है कि इससे पहले कयास लगाया जा रहा था कि नागरकोटी इस बार यह सीजन खेल सकते है। लेकिन चोट की वजह से बाहर हो गए है। 

दरअसल, कमलेश नागरकोटी की जगह केकेआर ने संदीप वॉरियर को टीम में शामिल किया गया है। लेकिन शिवम मावी की जगह अभी किसी भी खिलाडी को शामिल नहीं किया गया है। 

 

लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस ने जारी की अपने उम्मीवारों की तीसरी सूची, तनुज पुनिया को मिला यहां से टिकट

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव को देखते हुए कांग्रेस पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी कर दी है। कांग्रेस ने अपनी तीसरी सूची में 18 उम्मीदवारों को घोषित किया है। इसमें असम, मेघालय, नगालैंड, सिक्किम, तेलंगाना और यूपी (एक सीट) की सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा की है।  

आपको बता दें कि तेलंगाना में कुल 17 लोकसभा सीट है। इसमें से कांग्रेस ने तीसरी सूची में पांच उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया है। जिसमें से आदिलाबाद से रमेश राठौड़, पेड्डापल्ले  से ए. चंद्रशेखर, करीमनगर से पूनम प्रभाकर, जहीराबाद से के. मदनमोहन राव, मेदक से गली अनिल कुमार, मल्काजगिरि से ए. रेवंत रेड्डी, चेवेल्ला से कोंडा विश्वेश्वर रेड्डी और महबूबाबाद से पोरिका बलराम नाइक का नाम है। 

तो वहीं मेघायल की दोनों सीटों पर से भी उम्मीदवार घोषित कर दिए है। यहां की शिलांग  सीट से विंसेंट पाला, तुरा  सीट से डॉ. मुकुल संगमा का नाम की घोषणा की है। इसके साथ ही  सिक्किम से भरत बेसनेट के नामों पर मुहर लगाई गई है। 

गौरतलब है कि लगातार इंटरनल सर्वे में पीएल पुनिया का नाम आने पर भी वह यह मांग कर रहे थे कि तनुज पुनिया को टिकट दिया जाए। आखिरकार कांग्रेस आलाकमान ने तनुज पुनिया के नाम पर मुहर लगाते हुए टिकट दे दिया है। इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने अपनी दूसरी सूची में 21 उम्मीदवारों की और पहली सूची में 15 उम्मीदवारों की घोषणा की थी।

मुंबई की अदालत ने नीरव मोदी की पत्नी के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी किया

मुंबई। मुंबई की एक विशेष अदालत ने भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की पत्नी अमि मोदी के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी किया है। नीरव मोदी दो अरब डॉलर के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले का मुख्य आरोपी है। विशेष मनी लांड्रिंग रोधक कानून (पीएमएलए) के मामले सुनने वाली न्यायाधीश एम एस आज्मी की एक विशेष अदालत ने गैर जमानती वॉरंट जारी किया।

अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा नीरव मोदी (48) और अन्य आरोपियों के खिलाफ कुछ दिन पहले दाखिल अनुपूरक आरोपपत्र पर संज्ञान लेते हुए यह आदेश जारी किया। ईडी का आरोप है कि अमि मोदी ने तीन करोड़ डॉलर स्थानांतरित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय बैंक खाते का इस्तेमाल किया।

संदेह है कि यह घोटाले की कमाई का पैसा था। ईडी ने कहा कि इस राशि का इस्तेमाल न्यूयॉर्क के सेंट्रल पार्क स्थित संपत्ति की खरीद के लिए किया गया। इस आरोपपत्र में एजेंसी ने जुटाए गए अतिरिक्त सबूतों तथा कुर्की की जानकारी दी है। समझा जाता है कि ईडी ने अनुपूरक आरोपपत्र में इस घोटाले में अमि मोदी की भूमिका और उसके द्बारा धन को इधर उधर करने का उल्लेख किया है। ईडी ने इस मामले में पहला आरोप-पत्र पिछले साल मई में दाखिल किया था। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.