गुजरात में उत्तर भारतीयों को निशाना बनाना दुर्भाग्यपूर्ण: मायावती

Samachar Jagat | Tuesday, 09 Oct 2018 02:28:15 PM
May be unfortunate to target north Indians in Gujarat: Mayawati

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) अध्यक्ष मायावती ने गुजरात में उत्तर भारतीयों को निशाना बनाये जाने की घटनाओं को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये कहा कि यह देश के लिये बड़ी चिन्ता की बात है तथा इसे हर हाल में जरूर रोका जाना चाहिये।

मायावती ने बसपा संस्थापक कांशीराम की पुण्यतिथि पर मंगलवार को जारी बयान में कहा कि गुजरात राज्य में मुस्लिमों तथा दलितों के बाद अब सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ता उत्तर भारतीयों को अपना निशाना बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि गुजरात सरकार को कड़ा एक्शन लेना चाहिये तथा उत्तर भारतीयों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिये। 

उन्होंने कहा कि गुजरात में उत्तर प्रदेश तथा बिहार आदि के सर्वसमाज के हजारों गरीबों, मजदूरों तथा कारीगरों के परिवारों की अपनी अपनी जान बचाकर भागने को मजबूर होना पड़ रहा है। गैर गुजराती मेहनतकश लोगों पर इस प्रकार की जुल्मज्यादती, हिंसा, तनाव तथा अराजकता का जो नया माहौल पैदा हो गया है, यह देश के लिये बड़ी चिन्ता की बात है तथा इसे हर हाल में जरूर रोका जाना चाहिये।

मायावती ने कहा कि जिस किसी ने भी गलत काम किया है उसे उसकी कानूनी सजा मिलना ही चाहिये, लेकिन उसकी आड़ में उत्तर प्रदेश तथा बिहार आदि राज्यों के गरीबों, मजदूरों तथा कारीगरों के समस्त परिवारों को एजेंसी का शिकार बनाना सर्वथा अनुचित ही नहीं बल्कि घोर निन्दनीय भी है। इस प्रकार के भेदभाव से क्षेत्रवाद को बढ़ावा मिलता है जिससे देश कमजोर होता है। 

उन्होंने कहा कि उत्तर भारत के लोगों ने इस प्रकार का भेदभाव कभी भी किसी के साथ नहीं किया है और यहाँ तक की गुजरात से ताल्लुक रखने वाले नरेन्द्र दामोदरदास मोदी को वाराणसी से सांसद चुनकर लोकसभा में भी भेजा हुआ है और वे देश के प्रधानमंत्री हैं। इस मामले में उन्हें तत्काल अपनी बात देश के सामने रखनी चाहिये और इस बात की परवाह नहीं करनी चाहिये कि उनकी बातों का क्या असर वहाँ के लोगों पर पड़ेगा। एजेंसी

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.