गोवा सरकार को समर्थन देने पर फैसला लेगी एमजीपी की कार्यकारी समिति

Samachar Jagat | Monday, 18 Mar 2019 02:02:20 PM
MGP executive committee to decide on giving support to the Goa government

पणजी। गोवा में सत्तारूढ़ भाजपा के सहयोगी दल महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी (एमजीपी) ने सोमवार को कहा कि उसकी कार्यकारी समिति इस पर फैसला लेगी कि राज्य सरकार को समर्थन जारी रखा जाए या नहीं।

एमजीपी नेता सुदीन धवलीकर ने मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद राज्य की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करने के लिए केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता नितिन गडकरी से पणजी के समीप एक होटल में चर्चा की।

एक साल से अधिक समय से अग्नाशय के कैंसर से जूझ रहे 63 वर्षीय पर्रिकर का रविवार की शाम को निधन हो गया। धवलीकर ने कहा कि एमजीपी यह फैसला लेने के लिए दिन में अपनी कार्यकारी समिति की बैठक करेगी कि भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन जारी रखा जाए या नहीं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार पर गडकरी से कोई बातचीत नहीं हुई। एमजीपी नेता ने यह भी कहा कि वह इस पद की दौड़ में नहीं हैं।

गडकरी ने नए मुख्यमंत्री का चुनाव करने के लिए गोवा में पार्टी नेताओं और एमजीपी के साथ सोमवार को बातचीत शुरू की। भाजपा और उसके गठबंधन के सहयोगी नेतृत्व के मुद्दे पर रविवार को किसी आम सहमति पर नहीं पहुंच पाए थे।

पर्रिकर भाजपा, गोवा फॉरवर्ड पार्टी, एमजीपी के तीन-तीन विधायकों और तीन निर्दलीयों वाली गठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे थे। कांग्रेस राज्य में अभी सबसे बड़ी पार्टी है। 40 सदस्यीय विधानसभा में उसके पास 14 विधायक हैं जबकि भाजपा के पास 12 विधायक हैं। इस साल की शुरुआत में भाजपा विधायक फ्रांसिस डीसूजा के निधन और रविवार को पर्रिकर के निधन तथा पिछले साल दो कांग्रेस विधायक सुभाष शिरोडकर और दयानंद सोप्ते के इस्तीफ़े के कारण विधानसभा में सदस्यों की संख्या 36 रह गई है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.