केन्द्र सरकार की ओर से बनाएं गएं नएं यातायात नियमों के विरोध में आएं एमपी और बंगाल 

Samachar Jagat | Monday, 02 Sep 2019 09:19:03 AM
MP and Bengal come to protest against traffic rules made by Central Government

इंटरनेट डेस्क।  मोदी सरकार की ओर से नएं यातायात नियमों को लागू कर दिया गया है। देशभर में 1 सितम्बर से प्रभावी नए ट्रैफिक नियमों पर विवाद होना प्रारंभ हो गया है। पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे गैर-बीजेपी शासित राज्यों ने यातायात नियम टूटने पर 10 गुना तक बढ़े जुर्माने पर सवाल उठाए गएं हैं।


loading...

बंगाल और मध्य प्रदेश ने बढ़े जुर्माने को लागू करने से इनकार कर दिया है। राजस्थान सरकार ने कहा है कि हमने कानून तो लागू कर दिया है, लेकिन जुर्माना राशि पर समीक्षा किएं जाने के बाद ही लागू किया जा सकेंगा। संशोधित मोटर वाहन ऐक्ट में सिग्नल जंप करने पर 1000 रुपये और नशे में गाड़ी चलाने पर 10 हजार रुपये तक जुर्माने का प्रावधान है।

मध्य प्रदेश के कानून मामलों के मंत्री पी.सी. शर्मा ने कहा कि बिना हेल्मेट दोपहिया चलाने पर 5 हजार तक जुर्माना हो सकता है। न चुकाने पर कितने लोगों को जेल में डालेंगे, पहले लोगों को नए नियमों के बारे में जागरूक करेंगे। फिर लागू करेंगे। जुर्माना कम करने के लिए उन्होंने कोई नोटिफिकेशन लाने से इनकार किया है।

राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा कि राज्य में ट्रैफिक नियमों पर बदला कानून लागू हो गया है। लेकिन हमारा मानना है कि जुर्माना लोगों की पहुंच में होना चाहिए। मंदी के इस दौर में बहुत से लोगों के पास दो वक्त की रोटी का इंतजाम नहीं है। ऐसे में उस पर भारी जुर्माना लगाएंगे तो वह गाड़ी कैसे छुड़ा पाएगा। मध्यप्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है, जबकि प. बंगाल तृणमूल की सरकार है।  
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.