मुलायम ने छोड़ा सरकारी बंगला, नए घर में हुए शिफ्ट

Samachar Jagat | Friday, 15 Jun 2018 02:14:45 PM
Mulayam left government bungalow

लखनऊ। उच्चतम न्यायालय के आदेश पर सरकारी बंगला छोडऩे वाले समाजवादी पार्टी (सपा) संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने लखनऊ की भीड़भाड़ से परे शहर के बाहरी छोर पर स्थित किराए के  बंगले को अपना नया आशियाना बनाया है। इस बीच राज्य संपत्ति विभाग सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा खाली किए गए सरकारी बंगला में नष्ट अथवा गायब हुए सामान की सूची बना रहा है।

काले रंग की पृष्ठभूमि में शुजात की फोटो के साथ ‘राइजिंग स्टार’ का अंक बाजार में आया

सरकारी बंगला छोडने के बाद राजकीय अतिथि गृह में ठहरे मुलायम सिंह यादव ने गुरूवार शाम अपना सामान शहीद पथ स्थित अंसल एपीआई टाउनशिप के बंगला नम्बर 12-ए, सेक्टर सी-3 में शिफ्ट किया।  मुलायम और उनके पुत्र अखिलेश यादव ने उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार पिछली दो जून को विक्रमादित्य मार्ग स्थित अपने सरकारी बंगले खाली कर दिए थे।

अखिलेश यादव भी जल्द ही पिता के नए आवास से सटे निजी बंगले को अपना आशियाना बनाएंगेे। बंगले की साजसज्जा का काम अभी चल रहा है। राज्य संपत्ति अधिकारी योगेश शुक्ला ने शुक्रवार को बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के खाली सरकारी बंगले में हुई टूट फूट और चीजों के गायब होने की सूची तैयार की जा रही है। इसमें विभिन्न विभागों के कर्मी कार्यरत है। बंगले में कई काम निजी तौर पर कराए गए थे।

21 जून को मनाया जाएगा योग दिवस, योगी ने दिए व्यापक तैयारियों के निर्देश

इस कारण सूची बनने में कुछ और समय लग सकता है। सपा अध्यक्ष ने बंगला दो जून को खाली किया था जिसके बाद संपत्ति विभाग के अधिकारियों ने मीडिया की मौजूदगी में बंगले को खोला था जहां कई जगह टूट-फूट के पुख्ता निशान मिले थे। बाद में सरकार ने सरकारी संपत्ति के नुकसान को देखते हुए जांच का फैसला लिया था। राज्यपाल रामनाईक ने भी राज्य सरकार को इस मामले में जांच की सलाह दी थी। हालांकि अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाया था कि टोंटी चोर कह कर सरकार उनकी छवि को बदनाम करने का प्रयास कर रही है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.