इस बार के चुनाव में नमो-नमो जपने वालों का सफाया हो जाएगा: मायावती

Samachar Jagat | Thursday, 25 Apr 2019 04:38:10 PM
Namo-Namo chanting will be eliminated in this time of election: Mayawati

शाहजहांपुर/कन्नौज (उप्र)। बसपा सुप्रीमो मायावती ने गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी ने गरीबों की नहीं बल्कि पूंजीपतियों की चौकीदारी की है। उन्होंने यह भी कहा कि इस बार के चुनाव में नमो-नमो जपने वालों का सफाया हो जाएगा। मायावती ने शाहजहांपुर की एक चुनावी जनसभा में कहा कि नाटकबाजी और जुमलेबाजी से सरकार नहीं बनती।

Rawat Public School

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तो पूंजीपतियों की चौकीदारी की है, ना कि गरीबों की। उन्होंने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा कि लंबे समय तक कांग्रेस पार्टी सत्ता में रही और उसने देश में गरीबी एवं बेरोजगारी बढ़ाने का काम किया। गलत नीतियों के चलते ही कांग्रेस पार्टी को सत्ता से हाथ धोना पड़ा।

मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने देश पर लंबे समय तक शासन किया परंतु गरीबों को उनका हक नहीं दिया, इसी कारण बहुजन समाज पार्टी का गठन करना पड़ा था। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी सरकार की नोटबंदी व जीएसटी से देश बर्बाद हुआ है तथा इससे भारत की अर्थव्यवस्था पर भी काफी फर्क पड़ा है, परंतु अब जनता भाजपा तथा कांग्रेस की जुमलेबाजी समझ चुकी है।

उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने अभी तक देश की सीमाओं को सुरक्षित करने का कार्य नहीं किया, जिसके चलते आज देश में हमले हो रहे हैं। मायावती ने कहा कि भाजपा देश को अच्छे दिनों का सपना दिखा कर गुमराह कर रही है। गरीबों के साथ कांग्रेस और भाजपा दोनों ही मजाक कर रही हैं।

वे जनता को प्रलोभन दे रहे हैं और फर्जी ओपिनियन पोल से वाहवाही लूट रहे हैं। बसपा सुप्रीमो ने कन्नौज की जनसभा में कहा कि इस बार के चुनाव में नमो नमो जपने वालों का सफाया हो जाएगा। सपा प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी और कन्नौज से मौजूदा लोकसभा सांसद डिम्पल यादव के चुनाव प्रचार के लिए आयोजित जनसभा में मायावती ने यह टिप्पणी की। मायावती ने मतदाताओं को याद दिलाया कि कांग्रेस ने मंडल आयोग की रिपोर्ट को लागू नहीं किया था। कांग्रेस जब सत्ता में थी, तो उसने बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर को भारत रत्न भी नहीं दिया था।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.