दूसरों के धर्म को नीचा समझने वाले ‘अधार्मिक‘ : नीतीश कुमार

Samachar Jagat | Thursday, 06 Jun 2019 09:06:10 AM
Nitish Kumar, who considered others' religion downright: Nitish Kumar

पटना। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के ‘ इफ्तार ‘ पार्टी को लेकर दिये गए बयान पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को उन पर परोक्ष रूप से निशाना साधा। नीतीश ने कहा कि धार्मिक होने का अर्थ केवल अपने धर्म के रीति - रिवाजों को मानना नहीं होता है बल्कि दूसरे धर्म का सम्मान करना भी होता है और जो लोग ऐसा नहीं मानते हैं वे ‘अधार्मिक‘ हैं। 

Rawat Public School

कुमार ने संवाददाताओं से कहा, ’’मैं धर्म को मानने वालों के सम्मान में यहाँ ऐतिहासिक गांधी मैदान में साल 2006 से ईद का कार्यक्रम आयोजित कर रहा हूं। धर्म सिर्फ अपने रीति - रिवाजों का अनुसरण करना नहीं बल्कि दूसरे धर्म को मानने वालों का सम्मान करना भी है।’’

मुख्यमंत्री ने कहा, ’’लेकिन कुछ लोग हैं , जो ऐसा नहीं सोचते हैं। उन्हें लगता है कि खुद के धर्म को मानना काफी है और दूसरे धर्म के रीति - रीवाजों और उनके लोगों को नीचा दिखाना ठीक है। मुझे लगता है कि ऐसे लोग ‘अधार्मिक‘ हैं।’’

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने ‘इफ्तार’ पार्टी में शामिल होने पर मंगलवार को राजग के अपने सहयोगियों पर तंज कसा था। इसके बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गिरिराज की आलोचना की और उनसे ऐसे बयानों से बचने के लिए कहा था। 

नीतीश ने कहा, ’’मैं देख रहा हूं कि आप लोग बार - बार एक व्यक्ति का नाम ले रहे हैं। मैं इन सभी लोगों को लंबे समय से जानता हूं। कुछ लोग हैं जो सिर्फ चीजों को इसलिए कहना पसंद करते हैं ताकि वह मीडिया का ध्यान अपनी तरफ आकृषत कर सकें। मैं उनके किसी भी कथन पर प्रतिक्रिया नहीं देना चाहूंगा।’’



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.