नोटबंदी साहसिक कदम, अब बेनामी संपत्ति पर हो चोट : नीतीश

Samachar Jagat | Sunday, 27 Nov 2016 08:36:38 AM
नोटबंदी साहसिक कदम, अब बेनामी संपत्ति पर हो चोट : नीतीश

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में शराबबंदी जारी है और आगे भी रहेगी, इसलिए जिन्हें शराब पीना है वे बिहार छोडक़र चले जाएं। उन्होंने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खुलकर तारीफ की और अपील की कि अब केंद्र सरकार को बेनामी संपत्ति पर हमला बोलना चाहिए। मद्य निषेध दिवस के मौके पर यहां शनिवार को आयोजित एक कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने कहा कि नोटबंदी की वजह से शराब की बिक्री पर भी असर पड़ा है।

कालेधन के खिलाफ इस लड़ाई से शराब की तस्करी में लगे लोगों पर भी सीधा असर पड़ेगा। उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा कालाधन पर नोटबंदी के जरिए की गई कार्रवाई का समर्थन करते हुए कहा, नोटबंदी साहसिक कदम है। इससे दो नंबर का धंधा बंद हुआ है। यह मेरी व्यक्तिगत राय है। भ्रष्टाचार, काला धन के खिलाफ कुछ भी होता है तो हम उसका समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा, सिर्फ नोटबंदी से काम नहीं चलेगा। मैं प्रधानमंत्री से आग्रह करूंगा कि बेनामी संपत्ति को भी हिट किया जाए। केंद्र सरकार को तत्काल बेनामी संपत्ति पर हिट करना चाहिए, यही सही वक्त है।

उन्होंने प्रधानमंत्री से अनुरोध करते हुए कहा, इतने बड़े राज्य में हमने शराबबंदी लागू किया है, इसको अन्य जगह भी फैलाइए। शराब का व्यापार भी दो नंबर के धंधों को बढ़ावा देता है। उन्होंने कहा, नोटबंदी, बेनामी संपत्ति, शराब के व्यापार पर हिट कीजिए, तभी भ्रष्टाचार मुक्त एवं काला धन मुक्त देश बनेगा। उन्होंने समाचार पत्रों में प्रकाशित भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात से संबंधित समाचार का खंडन किया। नीतीश ने कहा कि अब मद्य निषेध दिवस नहीं, बल्कि नशा मुक्ति दिवस मनाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अब नशा की अन्य चीजों पर चोट करने की आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री ने दावा किया कि शराबबंदी से राज्य में खुशहाली लौट आई है और जो पति शराब पीकर घर आने के बाद पत्नी को मारते-पीटते थे, वे अब सब्जी लेकर घर लौट रहे हैं। घर का वातावरण तनाव मुक्त हो गया है। हालांकि, उन्होंने अन्य राज्यों और पड़ोसी देश नेपाल से अवैध तरीके से बिहार में आ रही शराब पर चिंता जताते हुए कहा कि यह धंधा वही लोग कर रहे हैं, जो पहले शराब के धंधे से जुड़े हुए थे। जद (यू) नेता ने कार्यक्रम में उपस्थित अधिकरियों से कहा कि शराब के धंधे से जुड़े लोगों के बारे में पता करना चाहिए कि वे लोग आजकल क्या कर रहे हैं।

अगर ऐसे लोगों ने शराब का धंधा छोडक़र अन्य धंधा अपना लिया है तो उन्हें पुरस्कृत किया जाना चाहिए, लेकिन जिन्होंने अब तक कोई नया धंधा शुरू नहीं किया है, उन पर नजर रखने की जरूरत है। नीतीश ने यह भी कहा कि कुछ दिनों तक यह सब चलेगा, परंतु अंत में सब ठीक हो जाएगा। जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने एक बार फिर केंद्र सरकार से देश भर में शराबबंदी लागू करने की अपील करते हुए कहा कि शराब का धंधा समाप्त किए बिना भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाना मुश्किल है।

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.