बंदूक या हड़ताल नहीं, मतदान सबसे बड़ा हथियार : मलिक

Samachar Jagat | Monday, 06 May 2019 02:12:49 PM
No gun or strike, Voting is the biggest weapon: Malik

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने लोगों से बड़ी संख्या में मतदान करने की अपील करते हुए सोमवार को कहा कि बदलाव के लिए बंदूक अथवा हड़ताल नहीं, वोट सर्वाधिक कारगर हथियार है।

Rawat Public School

मलिक ने पत्रकारों से कहा,‘‘मैं सभी राजनीतिक दलों से अपील करता हूं वे हमारे साथ आयें ताकि हम लोगों को यह संदेश दे सकें कि बंदूक अथवा हड़ताल नहीं , मतदान उनका सर्वाधिक कारगर हथियार है। हमें लोगों को बताना होगा कि उन्हें राज्य में बदलाव के लिए मतदान प्रक्रिया में शामिल होने की आदत बनानी होगी।

जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनावों को नवंबर तक टालने के आग्रह के कारणों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेजी गयी है, इसके बारे में वह खुलासा नहीं कर सकते।

उन्होंने कहा,‘‘ यह चुनाव आयोग के ऊपर है। वह जम्मू-कश्मीर में अगर चुनाव करना चाहता है तो करवा सकता है। हमें पहले लोकसभा चुनाव पर पूरा ध्यान देना चाहिए और इसके बाद ही विधानसभा चुनाव के बारे में सोचना चाहिए। चुनाव की तारीख भी चुनाव आयोग को ही तय करनी है। एक प्रश्न के उत्तर में मलिक ने कहा कि भहसा की छिटपुट घटनाओं के बावजूद लोग मतदान के लिए आ रहे हैं। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.