खाद और बीमा पालिसी को भी नोटबंदी से मुक्त करने की अपील

Samachar Jagat | Thursday, 24 Nov 2016 03:39:23 AM
खाद और बीमा पालिसी को भी नोटबंदी से मुक्त करने की अपील

मथुरा। उत्तर प्रदेश के पूर्व संस्थागत वित्त राज्यमंत्री रविकान्त गर्ग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से जनहित में रिजर्व बैंक द्वारा जारी निर्देशों पर हस्तक्षेप कर विवाह.शादी वालों को संरक्षण प्रदान करने एवं किसानों को बीज की भांति खाद को भी पुराने 500 और 1000 के नोटों से उपलब्ध कराने की अपील की है।
गर्ग ने आज यहां संवाददाताओं से कहा कि सीमापार से आ रहे जालीनोट, ड्रग्स के अवैध कारोबार,, आतंकवादियों द्वारा प्रयोग किये जा रहे अवैध करेंसी नोटों के उपयोग तथा देश के पूंजीपतियों पर भारी मात्रा में उपलब्ध काले धन को रोकने के लिए लाये के प्रधानमंत्री के नोटबंदी‘’निर्णय की प्रशंसनीय है। उन्होंने इसे देश के विकास के लिए अच्छा संकेत बताया है। 
उन्होंने अन्य सुविधाओं की भांति उपभोक्ताओं के बीमा पालिसी को भी नोटबंदी से मुक्त करने की अपील की है।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पूर्व में लिये गये निर्णयों की जटिलता को कम करने को लिए किए गए विभिन्न निर्णयों की सराहना की है वहीं विवाह-शादी में खर्च के लिए बैंक के खाते से ढाई लाख रुपया निकालने की छूट को कमतर बताने के साथ ही इस संदर्भ में रिजर्व बैंक द्वारा लगाये गये प्रतिबंधों को पूर्णतया अव्यवहारिक एवं अन्याय संगत बताया। 
पूर्व वित्त मंत्री ने रिजर्व बैंक एवं बैंङ्क्षकग सुविधा के सभी कर्मियों को आगाह किया है कि शायद वह यह भूल रहे हैं कि बैंक से अपनी जरूरतों के लिए रुपया निकालने वाला व्यक्ति या परिवार बैंक से लोन नही ले रहा बल्कि अपने खाते से रुपया निकाल रहा है। सरकार का उद्देश्य काले धन को निकालने या निकाली गई धनराशि को काले धन में परिवर्तन से रोकने की है, नाकि जरूरत मंद नागरिकों के समक्ष जटिलता उत्पन्न करने की है। 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.