नोटबंदी, रेल दुर्घटना प्रधानमंत्री की पूंजीवादी सोच का परिणाम, जनता सबक सिखाएगी : मायावती

Samachar Jagat | Monday, 21 Nov 2016 01:29:08 PM
नोटबंदी, रेल दुर्घटना प्रधानमंत्री की पूंजीवादी सोच का परिणाम, जनता सबक सिखाएगी : मायावती

नई दिल्ली। नोटबंदी और कल की रेल दुर्घटना के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा प्रहार करते हुए बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि वह इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी की पूंजीवादी सोच और कार्यशैली को जिम्मेदार मानती है और जनता सब देख रही है तथा राज्य विधानसभा चुनाव और 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्हें सबक सिखाएगी।

पुखरायां में रेल दुर्घटना को लेकर कें सरकार पर निशाना साधते हुए मायावती ने संसद भवन परिसर में कहा, ये जो कुछ कल हुआ है, वह कें की वर्तमान सरकार द्वारा रेल पटरियों पर ध्यान नहीं देने की वजह से हुआ है। मैं इसके लिए रेल मंत्री को नहीं बल्कि प्रधानमंत्री मोदी की पूंजीवादी सोच और कार्यशैली को जिम्मेदार मानती हूं। 

उन्होंने कहा कि जब भाजपा के नेतृत्व में केंद्र में राजग सरकार बनी तब मैंने कहा था कि अब गरीब, मेहनतकश, मध्यमवर्ग की हालत बहुत खराब होने वाली है। बीच..बीच में मोदी सरकार ने जनहित के नाम पर कई फैसले लिए लेकिन जनहित की आड़ में अपने चहेते पूंजीपतियों और धन्नासेठों को फायदा पहुंचाया। बसपा प्रमुख ने कहा कि कें सरकार ने बुलेट ट्रेन चलाने का फैसला किया और उस पर अरबो..खरबों रूपए खर्च कर रहे हैं लेकिन रेल आधारभूत संरचना, पटरियों आदि के रखरखाव और मरम्मत पर ध्यान नहीं दिया। 

उन्होंने कहा कि यह बुलेट ट्रेन अहमदाबाद से मुम्बई तक चलायी जाएगी। अहमदाबाद गुजरात में है जबकि गुजरात के व्यापारी मुम्बई कारोबार करने जाते हैं। ऐसे में बुलेट ट्रेन केवल पूंजीपतियों को ध्यान में रख कर चलाई जा रही है। मायावती ने कहा कि बुलेट ट्रेन पर खर्च होने वाला अरबों..खरबों रूपया अगर रेल सुविधा और सुरक्षा पर खर्च होता तो ऐसे ट्रेन हादसे नहीं होते। 

उन्होंने आरोप लगाया कि पूरे देश की जनता त्राहि त्राहि कर रही है और अगर आप प्रधानमंत्री का मिजाज देखें तो आपको स्पष्ट हो जाएगा कि जब गरीब, मेहनतकश, मध्यमवर्ग को पीड़ा होती है तब उन्हें खुशी होती है। जब पूंजीपतियों को खुशी मिलती है तब प्रधानमंत्री और खुश हो जाते हैं। 
 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.