खुली सीमाएं हमारे समय की आर्थिक अनिवार्यता: जेटली

Samachar Jagat | Monday, 03 Dec 2018 01:03:47 PM
Open Boundaries Economic Need of Our Time: Jaitley

मुंबई। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को खुली सीमाओं का आह्वान करते हुए कहा कि सीमाओं के पार व्यापार हमारे समय की आर्थिक अनिवार्यता है और मुक्त व्यापार के अवरोधों को समाप्त किया जाना चाहिए। जेटली की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब विश्वभर में शुल्क युद्ध की चिंताएं बढ़ रही हैं।

अमेरिका द्बारा कुछ देशों के साथ व्यापार संतुलन बनाने के लिए इस्पात समेत कई उत्पादों पर शुल्क लगाने के बाद ये चिताएं और तेज हुई हैं। जेटली ने वर्ल्ड कस्टम्स ऑर्गेनाइजेशन पॉलिसी कमिश्नरेट की 80 वीं बैठक को वीडियो लिक के जरिए संबोधित करते हुए कहा कि सीमाओं के पार व्यापार हमारे समय की आर्थिक अनिवार्यता है और आने वाले समय के साथ बढ़ने ही वाला है।

उन्होंने कहा कि यह सभी देशों के व्यापक हित में है कि व​ह व्यापार की बाधाओं को हरसंभव स्तर तक दूर करें। जेटली ने कहा कि कोई भी देश सारी वस्तुओं का विनिर्माण नहीं कर सकता है और न ही कम कीमत पर श्रेष्ठ गुणवत्ता की चाह रखने वाले उपभोक्ताओं की जरूरत के हिसाब से हर तरह की सेवाओं में विशेषज्ञता हासिल कर सकता है।

इसीलिये मुक्त व्यापार जरूरी है। उन्होंने कहा कि विश्व भर में राष्ट्रों को यह महसूस होने लगा है कि व्यापार बढ़ने से न केवल वैश्विक अर्थव्यवस्था बल्कि खुद की अर्थव्यवस्था को भी फायदा होता है।

वित्त मंत्री ने सीमाओं के पार व्यापार सुविधाएं बेहतर करने तथा विश्व के श्रेष्ठ मानकों का अनुपालन करने के प्रति केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता भी दोहराया। जेटली ने कहा कि सरकार द्बारा उठाए गए कदमों से देश को व्यापार रैंकिग में 146वें स्थान से छलांग लगाकर इस साल 80वें स्थान पर पहुंचने में मदद मिली है।  



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.