गोवा में पीएम मोदी पार्टी का खेल बिगाड़ सकती है शिवसेना, किया अकेले चुनाव लडऩे का ऐलान

Samachar Jagat | Sunday, 17 Mar 2019 08:47:43 AM
PM Modi can spoil the party's game in Goa: Shiv Sena, let alone contest election

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क: एक तरफ महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी से गठबंधन कर चुकी शिवसेना अब अपने पड़ोसी राज्य गोवा में अपने दम पर चुनाव लडऩे की तैयारी कर रही है, खबरों की माने तो गोवा की दो लोकसभा सीट और मांद्रे उपचुनाव में शिवसेना पार्टी बीजेपी के खिलाफ  अपना उम्मीदवार मैदान पर उतरने जा रही है, दरअसल, शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने आगामी चुनाव को लेकर कहा कि नॉर्थ गोवा और साउथ गोवा में हम अपना उम्मीदवार उतारेंगे, वैसे जानकारी के लिए बता दें कि गोवा की दोनों सीटों पर बीजेपी का कब्जा रहा है


Old Post Image

प्रवक्ता राउत ने कहा कि प्रदेश प्रमुख जीतेश कामत नॉर्थ गोवा से लड़ेंगे, जबकि उपाध्यक्ष राखी प्रभुदेसाई नाईक को दक्षिण गोवा से उतरने की तैयारी की जा रही है, हालांकि राउत ने ये नहीं बताया कि मांद्रे में पार्टी किसको उतारेगी ये अभी स्पष्ट नहीं है लोकसभा की दो सीट और विधानसभा की तीन सीटों के लिए चुनाव 23 अप्रैल को होने जा रहे है

Old Post Image

वैसे लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र राज्य में दोनों ही पार्टी मिलकर चुनाव लडऩे की तैयारी कर रही है, महाराष्ट्र में लोकसभा की 48 सीटें है, 25 सीटों पर बीजेपी और 23 सीटों पर शिवसेना अपना उम्मीदवार उतार सकती है, गौरतबल है की 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 26 सीटों पर चुनाव लड़ा और 23 सीटों पर जीत हासिल की थी, जबकि शिवसेना ने 22 सीटों पर चुनाव लडक़र 18 सीटों पर जीत दर्ज की थी ऐसे में महाराष्ट्र में ये गंठबंधन दोनों ही पार्टियों के लिए बेहद अहम माना जा रहा है

Old Post Image

वर्ष 1989 के लोकसभा चुनाव से ही बीजेपी और शिवसेना का गठबंधन है, तब से लेकर 2014 के लोकसभा चुनाव तक दोनों पार्टियां राज्य में हर लोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ लड़ती नजर आती है लेकिन 2014 के महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में दोनों ही पार्टियों ने मैदान पर अपना अलग.अलग उम्मीदवार खड़ा कर चुनाव लड़ा था, हालांकि इसके बाद में दोनों ने मिलकर सरकार बनाई थी

गोवा में बीजेपी की राह आसान नहीं: सूत्रों की माने तो इस बार गोवा में बीजेपी की राह आसान नहीं रहने वाली है जी हां 1994 से बीजेपी के चुनाव प्रचार का नेतृत्व करने वाले नेताओं में शामिल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर इस बार लोकसभा चुनाव में प्रचार से दूर रह सकते है इसका सीधा असर पार्टी पर पड़ेगा, क्योंकि पर्रिकर स्वस्थ पिछले कई दिनों से खराब चल रहा है आपकों जानकारी के लिए बतादें की पर्रिकर राज्य से बीजेपी के पहले विधायकों में से हैं  जो 2000 से राज्य के चार बार मुख्यमंत्री बन चुके है
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.