पीएम मोदी स्वीडन, ब्रिटेन, जर्मनी की यात्रा पर रवाना

Samachar Jagat | Monday, 16 Apr 2018 06:36:07 PM
PM Modi sailed for Sweden, Britain, Germany

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वीडन, ब्रिटेन और जर्मनी की 5 दिन की यात्रा पर सोमवार को रवाना हो गए, जहां वह द्विपक्षीय बैठकों के अलावा भारत नॉर्डिक शिखर सम्मेलन और राष्ट्रमंडल शासनाध्यक्षों की बैठक (चोगम) में भाग लेंगे और लंदन के ऐतिहासिक सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर से विश्व को संबोधित करेंगे।

पालम स्थित वायुसैनिक हवाईअड्डे से एयर इंडिया के विशेष विमान से मोदी ने शाम करीब 5 बजे अपनी यात्रा के पहले चरण में स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम के लिए उड़ान भरी। वे कल रात लंदन पहुंचेंगे और 20 तारीख को बर्लिन में संक्षिप्त प्रवास के बाद स्वदेश मोदी ब्रिटेन की यात्रा के दौरान बुधवार को लंदन के ऐतिहासिक सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर से विश्व को संबोधित करेंगे जहां से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ,तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा और महान अमेरिकी नेता मार्टिन लूथर किंग जूनियर भी इस हॉल से भाषण दे चुके हैं।

यूरोप इंडिया फोरम के मुताबिक ‘भारत की बात, सबके साथ’ कार्यक्रम बुधवार को आयोजित किया जाएगा, जिसमें मोदी विश्व को संबोधित करेंगे। वह 17 से 20 अप्रैल तक स्वीडन और ब्रिटेन की यात्रा पर रहेंगे। इस दौरान वह द्विपक्षीय बैठकों के अलावा भारत तथा नॉर्डिक देशों (नार्वे, फिनलैंड, आईलैंड, डेनमार्क) के शिखर सम्मेलन और राष्ट्रमंडल देशों के प्रमुखों की बैठक को संबोधित करेंगे।

जबकि ब्रिटेन से स्वदेश लौटते हुए जर्मनी की राजधानी बर्लिन भी रुकेंगे जहां उनकी जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल से भेंट करेंगे। मोदी ने यात्रा से पहले कल यहां जारी वक्तव्य में कहा कि वह स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टेफान लोफवेन के निमंत्रण पर 17 अप्रैल को स्टाकहोम में रहेंगे। स्वीडन की यह उनकी पहली यात्रा होगी। भारत और स्वीडन के बीच गहरे दोस्ताना सम्बन्ध हैं जो लोकतांत्रिक मूल्यों और मुक्त, समावेशी एवं नियमों वाली वैश्विक व्यवस्था पर आधारित है।

मोदी ने कहा कि मैं और लोफवेन दोनों देशों की व्यवसाय जगत की प्रमुख हस्तियों से बातचीत करेंगे। इस बातचीत में व्यापार एवं निवेश, नवोन्मेष, कौशल विकास, स्मार्ट सिटी, स्वच्छ ऊर्जा और स्वास्थ्य एवं डिजिटलाइजेशन पर परस्पर सहयोग की कार्ययोजना तैयार की जाएगी। मैं स्वीडन के राजा कार्ल सोलह गुस्ताफ से मुलाकात करूंगा।

उन्होंने कहा कि 17 तारीख को उनकी स्वीडन के राजा कार्ल सोलहवें गुस्ताफ से भेंट होगी और प्रधानमंत्री लोफवेन के साथ द्विपक्षीय बैठक होगी। वह स्वीडन के चुनींदा कारोबारियों और भारतीय समुदाय के लोगों से मिलेंगे। वक्तव्य में मोदी ने कहा कि 17 अप्रैल को भारत और स्वीडन की ओर से स्टाकहोम में संयुक्त रूप से भारत नॉर्डिक शिखर बैठक का आयोजन किया जाएगा जिसमें फिनलैंड, नार्वे, डेनमार्क और आइसलैंड के प्रधानमंत्री हिस्सा लेंगे।

उन्होंने कहा कि मैं ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे के निमंत्रण पर 18 अप्रैल को लंदन में रहूंगा। इससे पहले मैंने नवंबर 2015 में ब्रिटेन की यात्रा की थी। ब्रिटेन यात्रा के दौरान मैं स्वास्थ्य की देखभाल, नवान्वेषण, डिजिटाइजेशन, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी, स्वच्छ ऊर्जा और साइबर सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में भारत और ब्रिटेन के बीच साझेदारी बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करूंगा।

इस दौरान मुझे दोनों देशों के सम्बन्धों को मजबूत बनाने में अपना योगदान देने वाले समाज के कई तबके के लोगों से भी मुलाकात करने का मौका मिलेगा। प्रधानमंत्री ने बताया कि वह 19 और 20 अप्रैल को राष्ट्रमंडल देशों के शासनाध्यक्षों की बैठक में हिस्सा लेंगे। इसका आयोजन ब्रिटेन करेगा। मोदी ने बताया कि वह ब्रिटेन की महारानी से भी मुलाकात करेंगे।

वह आर्थिक साझेदारी के नए एजेंडे पर काम कर रहे दोनों देशों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ भी संक्षिप्त बातचीत करेंगे। वह लंदन में आयुर्वेद सेंटर आफ एक्सीलेंस का शुभारंभ करेंगे और अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन में ब्रिटेन का स्वागत करेंगे जो इसका नया सदस्य बना है। विदेश मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक 17 तारीख को ही भारत एवं स्वीडन भारत नॉर्डिक शिखर सम्मेलन के साथ ही डेनमार्क, फिनलैंड, आइसलैंड और नॉर्वे के प्रधानमंत्रियों से द्विपक्षीय मुलाकातें भी करेंगे।

प्रधानमंत्री शिरकत करेंगे। इन नॉर्डिक देशों के साथ भारत का कारोबार 5.3 अरब डॉलर का होता है और इन देशों से भारत में ढाई अरब डॉलर का निवेश हुआ है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मोदी की नार्डिक देशों खासकर स्वीडन के नेताओं के साथ रक्षा क्षेत्र में सहयोग पर भी बात होगी। उन्होंने कहा कि साब मिसाइलों की खरीद और ग्रिपिन के मेक इन इंडिया परियोजना में साझीदारी के प्रस्ताव हैं। संभव है कि इस बारे में कुछ बात हो।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.