सुप्रीम कोर्ट में बिना शर्त राहुल गांधी ने मांगी माफी, SC का गलत हवाला लेकर कहा था 'चौकीदार चोर है'

Samachar Jagat | Wednesday, 08 May 2019 12:07:08 PM
Rahul Gandhi unconditionally apologized for the Supreme Court,

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोर्ट के अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट से बिना शर्त माफी गांगी है। इसके साथ की सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया है। इस हलफनामा दाखिल करते हुए राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई है कि अब अवमानना मामले को बंद कर देना चाहिए। हालांकि इससे पहले राहुल गांधी ने सिर्फ खेद जताया था। अब इस मामले पर दस मई को सुनवाई होगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि गलती से चौकीदार चोर है नारा कोर्ट के आदेश के साथ मिलाकर ​बोल दिया था। 

आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष ने सुप्रीम कोर्ट के हवाले से कहा था कि अब तो कोर्ट ने भी मान लिया कि चौकीदार चोर है। राहुल ने तीन पेज का हलफनामा दाखिल करते हुए बिना किसी शर्त के माफी मांग ली है। अपने माफीनामे में राहुल गांधी ने कहा कि कोर्ट का अपमान करने की उनकी कोई मंशा नहीं थी। ना ही उन्होंने जानबूझ कर ऐसा किया। ना ही अदालत की न्यायिक प्रक्रिया में वो किसी तरह की बाधा पहुंचाना चाहते थे। 

इसके बाद राहुल गांधी ने कहा कि भूलवश उनसे ये गलती हो गई। लिहाजा इसके लिए वो क्षमा चाहते हैं। उनके बिना शर्त माफीनामा को कोर्ट स्वीकार करते हुए उन्हें इस भूल के लिए क्षमा किया करे। अब सुप्रीम कोर्ट इस माफीनामे को स्वीकार कर केस को बंद करे। 

यह है पूरा मामला
राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को फटकार लगाते हुए पेश हुए दस्तावेजों की सत्यता स्वीकार की थी। इसके बाद राहुल गांधी ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया है कि चौकीदार ही चोर है। सुप्रीम कोर्ट ने माना है कि राफेल मामले में कोई न कोई भ्रष्टाचार जरूर हुआ है। 

इस मामले पर भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी ने सुप्रीम कोर्ट में अवमानना याचिका दाखिल की थी। इस याचिका पर संज्ञान लेते हुए कोर्ट ने कहा कि हमने उन शब्दों का इस्तेमाल कभी नहीं किया जो कि राहुल गांधी ने कहा।

अगर गोवावासी की रक्षा के लिए जरूरत पड़ी तो युवाओं को ‘हथियार‘ थमा देंगे: सरदेसाई

ममता के ‘सिंडीकेट राज’ का खात्मा करेगी बंगाल की जनता: सीतारमण



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.